Dhumrapan Gk Notes In Hindi धूम्रपान Tobacco Smoking Side Effects Benefits Facts

Dhumrapan Gk Notes In Hindi धूम्रपान Tobacco Smoking Side Effects Benefits Facts

विभिन्न नशीले पदार्थ जैसे बीड़ी, सिगरेट, सिगार, चिलम आदि को जलाकर धुंए को निगलते हुए नशा करना धूम्रपान कहलाता हैं. धूम्रपान के साधनों में मुख्यतः तम्बाकू होता हैं. तम्बाकू निकोटियाना प्रजाति के पेड़ के पत्तों को सुखाकर बनता हैं. तम्बाकू में निकोटिन होता हैं जो नशा प्रदान करता हैं.

dhumrapan Gk Notes In Hindi

धूम्रपान क्या है (What Is Dhumrapan In Hindi)

फ्रांसीसी जीन निकोट ने 1560 में फ्रांस को तम्बाकू से परिचित करवाया, भारत में पुर्तगाली तम्बाकू लेकर आए. तम्बाकू शरीर को शिथिल कर शरीर के अंगों को कमजोर करता हैं. तथा फेफड़े, ह्रदय व श्वासनली सम्बन्धित बीमारियों, केंसर, अस्थमा व पाचन तंत्र के रोग आदि समस्याएं होती हैं. धूम्रपान में तम्बाकू के अलावा, भांग का भी सेवन किया जाता हैं.

धूम्रपान के दुष्परिणाम (side effects of smoking cigarettes)

  • इससे विषैले पदार्थ जैसे निकोटिन, टार, अमोनिया, बेन्जपाइरिन, आर्सेनिक, co आदि शरीर में जाकर शरीर को नुक्सान पहुचाते हैं.
  • फेफड़े, आंत, मुख व गले का केंसर, अस्थमा, उच्चरक्तचाप, मसूढ़ों में इन्फेक्शन, अल्जाइमर, पाचन सम्बन्धी रोग आदि समस्याएं उत्पन्न होती हैं.
  • प्रजनन शक्ति कम होती हैं गर्भवती महिला धूम्रपान करे तो शिशु की मृत्यु हो जाती हैं. अथवा शिशु विकृत पैदा हो सकता हैं.
  • 25 वर्ष से कम उम्रः में धूम्रपान करने से माना जाता है कि व्यक्ति की औसत आयु 10 दस कम हो जाती हैं.
  • जो आदमी धूम्रपान करता हैं उसकी पीठ में दर्द की वृद्धि की सम्भावना रहती हैं.
  • पर्यावरण को प्रदूषण
  • आर्थिक समस्याएं
  • सांस्कृतिक दुष्प्रभाव
  • दुर्घटनाएं

धूम्रपान रोकने के उपाय कानून व तरीके (How To Stop Tobacco Smoking Low, Act)

  1. भारत सरकार ने सिगरेट व अन्य तम्बाकू उत्पाद प्रतिषेध अधिनियम Copta 2003 बनाकर सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान को प्रतिबंधित किया तथा साथ ही किसी शौक्षणिक संस्थान के 100 मीटर की परिधि में भी तम्बाकू उत्पादों की बिक्री नहीं की जा सकती हैं.
  2. इस अधिनियम के अनुसार तम्बाकू उत्पादों के पैकेट में स्वास्थ्य को होने वाले नुक्सान के सन्दर्भ में चेतावनी लिखना भी आवश्यक हैं.
  3. यह अधिनियम तम्बाकू उत्पादों के विज्ञापन व प्रचार प्रसार पर भी रोक लगाता हैं.
  4. इस अधिनियम सन्दर्भ में सिगरेट व अन्य तम्बाकू उत्पाद प्रतिषेध नियम 2004 में जारी किये गये व 2005 व 2008 में संशोधन भी हुए.
  5. भारत में 2 अक्टूबर 2008 को धूम्रपान निषेध अधिनियम लागू हुआ.
  6. भारत का पहला तम्बाकू मुक्त गाँव गारिफेमा
  7. देश का पहला धूम्रपान रहती शहर- चंडीगढ़
  8. विश्व तम्बाकू निषेध दिवस- 31 मई
  9. राजस्थान में 18 जुलाई 2012 को तम्बाकू युक्त गुटखे के उत्पादन भण्डारण, क्रय, ब्रिकी वितरण पर प्रतिबंध लगा दिया गया.
  10. 9 दिसम्बर 2011 को राजस्थान के जयपुर शहर में हुक्का बार पर रोक.
  11. राजस्थान सरकार ने 4 अक्टूबर 2013 को भर्ती नियमों में संशोधन कर प्रावधान किया गया कि नियुक्ति पाने वाले अभियर्थियों को कार्यग्रहण से पूर्व धूम्रपान व गुटका सेवन नहीं करने की वचनबद्धता देनी आवश्यक हैं.

यह भी पढ़े-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *