गुलाबी नगरी जयपुर पर निबंध – Essay On Jaipur In Hindi

गुलाबी नगरी जयपुर पर निबंध – Essay On Jaipur In Hindi राजस्थान के राजधानी शहर और पिंक सिटी शहर जयपुर को भारत के बड़े शहरों में गिना जाता हैं, आज के निबंध में हम शहर की स्थापना, इतिहास, पर्यटन स्थल आदि के बारे में जानेगे. उम्मीद करते है आपको इस आर्टिकल में दी गई जानकारी पसंद आएगी.

गुलाबी नगरी जयपुर पर निबंध – Essay On Jaipur In Hindi

गुलाबी नगरी जयपुर पर निबंध - Essay On Jaipur In Hindi

आज हम उस शहर की यात्रा पर हैं जिनके साथ अपनापन जुड़ा हैं. जी हाँ राजस्थान के राजधानी शहर जयपुर की बात चल रही हैं, मैं इसी मेट्रो सिटी में रहता हूँ राजस्थान का ही नहीं भारत के अग्रणी दर्शनीय स्थलों में शुमार मेरे जयपुर को पिंक सिटी यानी गुलाबी नगर के नाम से भी जाता हैं.

इसके भवनों की पुताई गुलाबी रंग से होने के कारण इसको यह नाम दिया गया था. राजा महाराजाओं के काल में इस क्षेत्र की राजधानी आमेर हुआ करती थी, जो जयपुर के पास ही स्थित हैं. आमेर के महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय ने १७२७ ईस्वी में आमेर से 11 किमी दूर जयपुर नगर को बसाया था. 

वर्तमान में जयपुर की कुल आबादी 50 लाख से अधिक हैं. इस शहर के इतिहास से एक महत्वपूर्ण घटना जुडी हुई हैं, जिसके चलते इसका रंग रूप पूरी तरह बदल गया था. 

1833 में जब प्रिंस ऑफ वेल्स के जयपुर आगमन पर महाराजा ने नगर के समस्त भवनों को उनके स्वागत में  गुलाबी रंग से पुतवा दिया. तब से यह आज तक परम्परा के रूप में चला आ रहा हैं.रोजाना हजारों की  संख्या में देशी विदेशी  पर्यटक  जयपुर घूमने के लिए आते हैं.

यहाँ के मुख्य आकर्षण प्राचीन किले व दुर्ग के आलावा चंद्रमहल रामनिवास उद्यान में स्थित म्यूजियम¸ जलमहल¸ शीशमहल¸ जयगढ़¸ नाहरगढ़ का किला जंतर-मंतर खासे प्रसिद्ध हैं. जयपुर दस्तकारी रंग-बिरंगे कपड़ें रत्न व राशियों के नगीने और जयपुर की रजाइयाँ में विश्व भर में अपनी एक अलग धाक रखता हैं.

Telegram Group Join Now

जयपुर शहर की प्रसिद्धि का अन्य कारण उसकी स्थापत्य कला एवं कलाकृति भी हैं. प्राचीन भारतीय वास्तुकला के अनुरूप इस शहर को तैयार किया गया था. पर्यटन के लिहाज से जयपुर एशिया महाद्वीप का सातवाँ बड़ा शहर हैं.

स्वतंत्रता के बाद शहर के विकास पर पर्याप्त ध्यान दिया गया. आज यह शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के हब के रूप में विकसित हो चूका हैं. जयपुर में आज 40 से अधिक इंजीनियरिंग कॉलेज 27 बिजनेस मैनेजमेंट संस्थान 15 फार्मेसी संस्थान 4 होटल मैनेज मेंट संस्थान 3 मेडीकल कॉलेज और 6 डेंटल कॉलेज तथा 8 सरकारी व निजी युनिवर्सिटी भी हैं.

क्रिकेट की बड़ी प्रतियोगिताओं के लिए सवाई मानसिंह क्रिकेट स्टेडियम भी हैं इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा व मेट्रो प्रणाली के सहारे शहरी जीवन को आधुनिक सुविधाएं मुहैया करवाई जा रही हैं. जयपुर में सन् 1592 में बने किले एवं महलों में हिन्दू व मुगल वास्तुकला का सुंदर समन्वय देखने को मिलता हैं.

राजस्थान में कई नगर है, किन्तु अपनी सुंदरता के कारण जयपुर नगर बहुत प्रसिद्ध है. इस नगर के परकोटे तथा मकानों पर गुलाबी रंग पुता रहता है, इस कारण जयपुर को गुलाबी नगर Pink City कहते है. जयपुर नगर राजस्थान प्रदेश की राजधानी है.

जयपुर में सभी बड़े कार्यालय एवं राज्य विधानसभा भवन है. जयपुर नगर की सड़के चौड़ी और सीधी है. जयपुर नगर में अनेक दर्शनीय स्थान है. इनमें हवामहल, जन्तर मन्तर, सिटी पैलेस, गोविन्ददेवजी का मंदिर, बिरला मंदिर, रामनिवास बाग, चिड़ियाघर, अल्बर्ट हॉल, सिसोदिया गार्डन, गलता, आमेर का महल, नाहरगढ़ आदि विशेष दर्शनीय है.

इन स्थानों को देखने के लिए देश विदेश से हजारों यात्री यहाँ आते है. जयपुर अपने कला कौशल के लिए विश्व में प्रसिद्ध है. यहाँ कपड़े की रंगाई छपाई का काम, पीतल पर खुदाई का काम, मूर्तियों और हाथीदांत के खिलोने बनाने का काम होता है.

यहाँ की लाख की चूड़ियाँ, कामदार जूतियाँ भी प्रसिद्ध है. जयपुर भारत का ऐतिहासिक एवं सुंदर शहर है.

Pink City Jaipur Is the capital city of Rajasthan state. is also called by the names of Pink City. it is often the founder of Pink City Jaipur by Raja Jai Singh 2nd it was founded in 1727.

the stone used for the construction of all the structures, therefore he called the pink city. it was the first time painted in pink color in 1857 to welcome the first visit of the prince of wales. Pink City Jaipur was repainted in 1876 during his second visit.

Jaipur was planned according to Bhartiya Vastu Shastra by Bengali architect, Vidhya Dhar Bhattacharya. the directions of each road, street, and market are east to west and north to south. there is a rampant around me. there are seven gates to enter the Pink City Jaipur.

Pink City Jaipur connected with all the parts of Rajasthan and India by air, road, and rail network. in 2011 he had a population of more than thirty-five lakh.

Jaipur is the tenth-largest city in India as per the census of 2011. it has a semi-arid climate. most of the rainfall occurs during the monsoon months.

he has several tourist places. some of them are city palace, Jantar Mantar, Hawa Mahal, Albert hall museum, amber fort, Birla Mandir etc.

the state government rules the state from here. there is raj Bhawan for governor. the secretariat is for the offices of the chief minister, other ministers, and administrative officers. there is Vidhan sabha for people’s representatives.

Pink City Jaipur municipal corporation is responsible for maintaining civic infrastructure and carrying out administrative duties. it has a mayor, deputy mayor, and office-bearers.

Jaipur development authority (JDA) is the nodal government agency responsible for my planned and sustainable development.

here is the state high court bench And other courts provide justice to the people. the office of general police (DGP), COMMISSIONER, IGI, SP, etc. Pink City Jaipur is the center of education, health facilities, gems and jewelry (business), and industrial development.

यह भी पढ़े

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Essay on Jaipur in Hindi Language ( Article ) आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे।

Leave a Comment