यात्रा पर निबंध Essay on Journey in Hindi

यात्रा पर निबंध Essay on Journey in Hindi नमस्कार दोस्तों आज का निबंध देशाटन अथवा यात्रा पर दिया गया हैं. देशाटन के लाभ आवश्यकता महत्व पर सरल भाषा में यह अनुच्छेद निबंध स्टूडेंट्स के लिए दिया गया हैं.

Essay on Journey in Hindi – यात्रा पर निबंध

यात्रा पर निबंध Essay on Journey in Hindi

देशाटन शब्द को समझने के लिए सबसे पहले हमें इसके तोड़ को जानना होगा. देश +अटन इन शब्दों से मिलकर बने नये शब्द देशाटन में देश का अर्थ किसी भूभाग से है जबकि अटन का अर्थ घूमना फिरना होता हैं.

सरल शब्दों में कहे तो देश का निर्माण विभिन्न धरातलीय स्वरूपों से निर्मित होता हैं जो अलग अलग भागों से मिलकर बना होता हैं.

प्राकृतिक और भौगोलिक विभिन्नताओं – विविधताओं से भरे क्षेत्र में भ्रमण करने उनके ऐतिहासिक व दार्शनिक स्थलों को देखने निहारने वहां बसने वाली जनता के रहन सहन संस्कृति को करीब से जानने को ही देशाटन अथवा यात्रा कहा जाता हैं.

कई उद्देश्यों को लेकर यात्राएं की जाती हैं. कुछ धार्मिक तो कुछ सामाजिक महत्व की होती हैं. भ्रमणं करने के कई लाभ भी हैं. कुछ लोग ऐसा मनोरंजन के लिए करते है तो कुछ स्वास्थ्य लाभ की दृष्टि के लिए पर्यटन करते हैं.

जिज्ञासु अथवा ज्ञान पिपासु लोग एक दुसरे स्थानों की यात्राओं में अधिक रूचि रखते हैं. पहाड़ों, सागरीय तटों तथा प्रकृति के मनोरम स्थलों पर घूमना सभी को आनंदित करता हैं.

पर्यटन के लिहाज से हमारा देश समृद्ध हैं. देश दुनियां से बड़ी संख्या में लोग यहाँ आते है तथा देशाटन करते हैं. प्रकृति के विभिन्न और विविध स्वरूपों को जानने का एक तरीका देशाटन हैं.

कही हरी भरी वादियाँ तो कही बर्फ से ढके पर्वतों के मनोरम दृश्य का नजारा तथा पहाड़ों से मिले एडवेंचर से उनके साहस में भी वृद्धि होती हैं.

बिरंगे वेश – भूषा, रहन – सहन, रीती – रिवाजों, उत्सव – त्योहारों, भाषा- बोलियों, सभ्यता, संस्कृतियों तथा जानकारियों ज्ञान का आदान प्रदान करने में पर्यटन का महत्वपूर्ण योगदान हैं.

देशाटन यात्रा अथवा भ्रमण का ही दूसरा नाम हैं, भ्रमण करने से हमें कई प्रकार के अनुभव प्राप्त होते हैं. साथ ही ज्ञान में वृद्धि भी होती हैं.

देशाटन के दौरान विभिन्न देशो सभ्यता तथा संस्कृति के लोगों का मिलन होता है. लोगों के रहन सहन भाषा संवाद से बहुत कुछ सीखने को भी मिलता हैं. वैसे भी इन्सान हमेशा कुछ न कुछ जानने के लिए उत्सुक रहता हैं.

पर्यटन कई मायनों में महत्वपूर्ण है यह व्यक्ति के जीवन में गति भी लाता है कहा भी गया है कि ठहराव का अर्थ मृत्यु है इसलिए मनुष्य की जीवतंता का प्रमाण उसकी गतिशीलता एवं निरन्तरता ही हैं.

जो जीवन में नया उत्साह जगाती हैं. कई बार व्यक्ति विभिन्न लोगों भिन्न भिन्न स्थानों की यात्रा से ही अनेक सद्गुणों को सीखता हैं. मानवता का असली स्वरूप उन्हें इस तरह के अवसरों में ही महसूस करने का अवसर मिलता हैं.

यह भी पढ़े-

आशा करता हूँ मित्रों आपकों यात्रा पर निबंध Essay on Journey in Hindi का यह छोटा सा निबंध पसंद आया होगा. यदि आपकों यात्रा पर निबंध का यह लेख अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे.

कमेंट