मनोरंजन के आधुनिक साधन पर निबंध | Essay on Modern Means of Entertainment in Hindi

Essay on Modern Means of Entertainment in Hindi प्रिय विद्यार्थियों आज हम मनोरंजन के आधुनिक साधन पर निबंध पर आपके साथ एक हिंदी निबंध शेयर कर रहे हैं. कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10 के स्टूडेंट्स के लिए 5, 10 लाइन 100, 200, 250, 300, 400, 500 शब्दों में मनोरंजन के साधन का लेख विशेष उपयोगी होगा. तो चलिए आरम्भ करते हैं.

मनोरंजन के आधुनिक साधन पर निबंध Essay on Modern Means of Entertainment in Hindi

मनोरंजन के आधुनिक साधन पर निबंध Essay on Modern Means of Entertainment in Hindi

मनोरंजन के साधन निबंध 400 शब्द

आज के दौर में जहाँ भी दृष्टि डाले इंसान भागते दौड़ते नजर आ रहे हैं. अब काम काज सूर्य की रोशनी बने रहने तक सिमित नहीं रह गया हैं, लेट लाइट तक काम आज की कल्चर का हिस्सा हैं. जिस तरह शारीरिक थकान के पश्चात मानव शरीर को भोजन की आवश्यकता होती है, इसी तरह मानसिक शिथिलता के पश्चात स्वस्थ मनोरंजन की आवश्यकता होती हैं.

बदलते वक्त के साथ मनोरंजन के तरीके भी बदले हैं. एक समय था जब लोग मानसिक थकावट दूर करने के लिए शारीरिक खेल खेलते थे, घुड़सवारी, चौपाल, शतरंज, नृत्य संगीत आदि पुराने जमाने के मनोरंजन के मुख्य साधन थे. मगर आज ये साधन कुछ इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स तक सिमित रह गया हैं.

इंटरनेट और सोशल मिडिया सफरिंग से वक्त मिला तो विडियो गेम या मोबाइल गेम्स खेलकर हमने मस्तिष्क को आराम के देने के विकल्प के रूप में चुना हैं. मगर सच्चाई यह हैं कि हम इन गेम्स से दिमाग को आराम देने की बजाय इन्हें व आँखों पर भारी दवाब डाल देते हैं नतीजेजन हम चिडचिडे सिरदर्द आँखों के दर्द आदि को आमंत्रण देते हैं.

हमें स्वस्थ मनोरंजन की ओर लौटना होगा, अन्यथा इस तनाव भरे जीवन में हम कुछ ही वर्षों बाद अपनी मानसिक कार्यक्षमता को खो देगे. यहाँ स्वस्थ मनोरंजन से आशय उन साधनों से है जिससे हमारा मस्तिष्क कुछ आराम की स्थिति महसूस करें न कि अतिरिक्त दवाब.

कुछ आउटडोर गेम्स या इनडोर गेम्स जो कम शारीरिक क्रियाशीलता के साथ खेले जा सकते हैं, कोई अच्छा मनोरंजक टीवी कार्यक्रम भी हमारे मस्तिष्क को आराम दिला सकता हैं. आज के जीवन और दिनचर्या के अनुसार सबसे बेहतरीन मनोरंजन का साधन अपने परिवार के लोगों के साथ रात में बैठकर आपस में बातचीत करना हैं.

अपनों के साथ हंसी मजाक के साथ बिताएं 30 मिनट भी दिनभर की थकान को दूर करने के लिए पर्याप्त हैं. इस तकनीक का सबसे बड़ा लाभ यह होगा कि परिवार के अन्य सदस्य भी खुद को रिलेक्स कर सकेगे. भाग दौड़ के जीवन में परिवार को वक्त भी दे पाएगे और पारिवारिक रिश्ते भी प्रगाढ़ बनेगे.

एक और बेहतरीन मनोरंजन का विकल्प भ्रमण हैं, आप अपने हमउम्र लोगों के साथ या परिवार के साथ सप्ताह या महीने में एक बार कही घूमने जा सकते हैं. लगातार एक सी दिनचर्या में लगे रहने से जीवन बोझिल सा लगने लगता हैं. ताजगी व मनोरंजन के लिए किसी खेल के मैच को मैदान पर परिवार या दोस्तों के साथ जाकर देखना भी मनोरंजन का एक उपयुक्त साधन

मनोरंजन के आधुनिक साधन पर निबंध 500 शब्द

प्रस्तावना-

मनोरंजन का अर्थ है मन को प्रसन्न रखना, अर्थात उसका काम में मन नही लगता है. तब उसे मनोरंजन की जरुरत पडती है. मनोरंजन के बाद थका हारा व्यक्ति भी नवीं उत्साह को महसूस करता है और फिर से अपने काम में दुगुने जोश से जुट जाता है.

मनोरंजन का जीवन में महत्व (Importance of Life in Entertainment)

आज वैज्ञानिक युग में यांत्रिकता बढ़ गई है. और मानवजीवन अधिकाधिक जटिल, नीरस एवं संघर्षमय बनता जा रहा है. आज हम एक क्षण के लिए भी संतोष और विश्राम का अनुभव नही कर पाते है. इस कारण अब मानव स्वयं को भी एक यंत्र और हर समय स्वय को अत्यंत व्यस्त मानने लगा है.

इसलिए आज मानव जीवन के लिए मनोरंजन का विशेष महत्व है. जिस प्रकार शरीर को पुष्ट बनाने के लिए उतम भोजन एवं स्वच्छ जल की आवश्यकता होती है. उसी प्रकार मन के लिए मनोरंजन को परम विश्रांतिदायक माना जाता है.

मनोरंजन के साधनों का विकास (Evolution of means of entertainment)

प्राचीनकाल में मानव का जीवन बहुत सहज और सरल था. तब भी मनोरंजन की आवश्यकता अनुभव की जाती थी, उस समय लोगों के पास समय की कमी नही थी. इस कारण उनके मनोरंजन के साधन ऐसें थे, जिससे अधिक से अधिक समय कट सके.

इसलिए उस समय नाटक, मेले तमाशे, एवं महोत्सव ऐसें होते थे, जिनसे कई दिनों और रातों का जनता का मनोरंजन हो जाता था. परन्तु वर्तमान में सभ्यता के विकास और मानव रूचि के परिवर्तन के साथ मनोरंजन के साधन भी बदल गये है.

मनोरंजन के आधुनिक साधन (modern means of entertainment)

वर्तमान समय में मनोरंजन के साधनों के रूप में रेडियों, टेलीविजन, फोटोग्राफी, वीडियो गेम्स, टेपरिकार्डर एवं खेलों का अत्यधिक महत्व है. ग्रामीण क्षेत्रों में सिनेमा घर न होने से टेलीविजन का महत्व और बढ़ गया है.

अब टेलीविजन पर विविध धारावाहिक, प्रश्नोतरी प्रतियोगिता, विज्ञान अभिरुचि के कार्यक्रम, क्रिकेट और हॉकी आदि खेलों के मैच विशिष्ट समारोहों का आखों देखा प्रसारण और समाचार दर्शन आदि कार्यक्रम आने लगे है, जिनसे घर बैठे ही मनोरंजन हो जाता है.

ललित कला से संबधित साधनों जैसे मुशायरा, कवि सम्मेलन, संगीत नृत्य के कार्यक्रम, हास्य सम्मेलन आदि से भी आधुनिक समय में अच्छा मनोरंजन हो जाता है. इससे व्यावहारिक ज्ञान भी बढ़ता है.

आधुनिक मनोरंजन के साधनों में वैज्ञानिक उपकरणों के अधिक प्रयोग होने से इसमे गतिशीलता एवं चमत्कार आ गया है. इससे अच्छे कौतुहल का आनंद मिल जाता है.

उपसंहार-

जीवन में अन्य कार्यो की भांति मनोरंजन का उपयोग भी उचित मात्रा में होना चाहिए. मनोरंजन सदैव स्वस्थ प्रकृति का होना चाहिए. आधुनिक समय में मनोरंजन के साधन उतरोतर बढ़ते जा रहे है.

इससे आज के व्यस्तम मानव को भी आनन्द मिल सकेगा और उनके जीवन की नीरसता और यांत्रिकता समाप्त हो जाएगी.

यह भी पढ़े-

उम्मीद करता हूँ दोस्तों मनोरंजन के आधुनिक साधन पर निबंध Essay on Modern Means of Entertainment in Hindi का यह हिंदी निबंध अच्छा लगा होगा, यदि आपकों यह छोटा सा लेख पसंद आया हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे. आपका कोई सुझाव या सवाल हो तो कमेंट कर जरुर बताएं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *