डाकिया पर निबंध | Essay on Postman in Hindi And English

नमस्कार फ्रेड्स डाकिया पर निबंध | Essay on Postman in Hindi And English में आपका स्वागत हैं. आज का निबंध डाक घर में काम करने वाले पोस्ट मैन पर दिया गया हैं, जो डाक वितरित करने का कार्य करते हैं. कई दशक पूर्व जब संदेश संचार का एकमात्र माध्यम पत्राचार था उस समय समाज में डाकिये का विशेष सम्मानित स्थान था, आज भी कई काम काजों में ये अपनी सेवाएं समाज को देते हैं.

डाकिया पर निबंध | Essay on Postman in Hindi And English

डाकिया पर निबंध | Essay on Postman in Hindi And English

Postman in Hindi: this is an important person in our life. Postman (dakiya) deliver us to post on time. in this internet world, all mailing services provide by Google and other internet services but still post system important for us.

in this Essay on Postman in Hindi And the English gives you short and long length essay paragraph on the postman. if you searching postman essay for class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9 then this postman essay helpful for student and kids.

Essay on Postman in English

the postman is a public servant. he is very useful to society. he delivers mail. money orders, invitations and parcels etc. to us.

he has a bag across his shoulders. he wears khaki shirts and a pair of trousers. at first, he goes to the general post office. he collects the letters. he delivers the same to us.

he goes from door to door and delivers dak. he undertakes daily 2 round in his area. he leads a hard life. he is a humble servant. he can read English, Urdu, Hindi etc.

mostly postman is honest. we give him tip on good news. he is a low paid servant. our government should improve his status. he works smilingly during rains, under scorching heat, and in extremely cold winter.

Essay on Postman in Hindi (डाकिया पर निबन्ध)

डाकिया एक सरकारी नौकर है। यह हमारे समाज के लिए बहुत उपयोगी है। वह मेल भेजता है। मनी आर्डर, निमंत्रण, और पार्सल आदि हमारे लिए घर तक लाता है।

उसके कंधों में एक बड़ा बैग रहता है। वह खाकी शर्ट पहनता है और पतलून की एक जोड़ी पहनता है। पहले, वह जनरल डाकघर में जाता है। वहाँ पत्र इकट्ठा करता है। तथा वही पत्र व चिट्टियाँ हमें प्रदान करता है।

वह दरवाजे से दरवाजे तक जाता है और डाक देता है। वह अपने क्षेत्र में रोजाना दो चक्कर लगाता है। पोस्टमेन की ड्यूटी वाकई बड़ी मुश्किल भरी होती है। वह एक विनम्र, तथा सहनशील सरकारी कर्मचारी है। डाकिया अंग्रेजी, उर्दू, हिंदी आदि भाषाओं को आसानी से समझते हैं।

ज्यादातर डाकिया ईमानदार होते है। हम उसे अच्छी खबर पर टिप देते हैं। वह एक कम वेतन पाने वाला कर्मचारी है। हमारी सरकार को इनकी स्थिति में सुधार करना चाहिए। वह बारिश के दौरान, गर्मी के दौरान, और बहुत ठंड सर्दी में भी मुस्कुराते हुए अपना काम बखूबी करता है।

यह भी पढ़े

आपको डाकिया पर निबंध | Essay on Postman in Hindi And English का यह आर्टिकल कैसा लगा कमेंट कर जरुर बताएं. साथ ही इस लेख को कैसे बेहतर बना सकते है अपने सुझाव भी देवे, हम आपकी प्रतिक्रिया का इन्तजार कर रहे हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published.