कॉम्पिटिशन एग्जाम में टॉपर कैसे बने पढ़ाई के आसान तरीके

कॉम्पिटिशन एग्जाम में टॉपर कैसे बने पढ़ाई के आसान तरीके नमस्कार Student दोस्तों आज हम बात करेगे एक ऐसे विषय पर जो आप सभी से जुड़ा हैं ,Exam में अच्छे नंबर्स कैसे लाये इसलिए आपको कुछ Study Tips बतायेगे जिनको फॉलो कर आप एग्जाम में अच्छे नंबर ला सकते हैं एग्जाम की तेयारी कैसे करे किस प्रकार अपनी दिनचर्या को मेनेज करे और Exam Me Top Kaise Kare एग्जाम में अच्छे अंक प्राप्त करने का आसान तरीका क्या हैं इस पर विस्तार से बात करेगे

Exam Me Top Kaise Kare In Hindi | कॉम्पिटिशन एग्जाम के लिए पढाई कैसे करनी चाहिए

Exam Me Top Kaise Kare In Hindi कॉम्पिटिशन एग्जाम में टॉपर कैसे बने पढ़ाई के आसान तरीके

एक जमाना था जब लोग सरकारी नौकरी की बजाय खुद के बिजनैस की ओर देखा करते थे, आज भी बिजनैस में रूचि रखने वाले तो बिजनैस करते ही हैं मगर एक बड़ी तादाद उन लोगों की भी हैं, जो सरकारी नौकरी के लिए स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद ही कम्पीटीशन परीक्षाओं की तैयारी में लग जाते हैं.

मध्यम और निम्न वर्गीय परिवारों में एक गर्वनमेंट जॉब का मतलब अच्छा जीवन, सामाजिक प्रतिष्ठा, समय पर अच्छी लड़की से विवाह भी जुड़ा हुआ हैं. मसलन एक बड़ी संख्या में स्टूडेंट्स स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद कोई छोटी मोटी डिग्री करके अलग अलग सेक्टर में नौकरी के लिए अप्लाई करने लग जाते हैं.

साल 2020 में रेलवे डी ग्रुप की भर्ती आई थी, तीन से चार करोड़ लोगों ने आवेदन किये थे, आप अनुमान लगा सकते हैं जब एक पोस्ट पर तीस से चालीस हजार स्टूडेंट्स का दावा हो तो फिर कम्पीटीशन का लेवल क्या होगा.

राज्य स्तरीय परीक्षाओं में भी ऐसा ही हाल शिक्षक भर्ती हो या पटवारी, कॉन्स्टेबल, आर्मी, ग्राम सेवक. सभी में प्रतियोगिता इतनी बढ़ चुकी हैं कि अच्छी प्लानिंग के साथ तैयारी नहीं की तो चयन होना बहुत मुश्किल हो जाता हैं.

आज के आर्टिकल में हम कुछ फैक्टर और टिप्स पर बात करेंगे, जो आपको तैयारी करने के सही रोड मैप की ओर ले जा सकता हैं तथा आपका सरकारी नौकरी में चयन हो सकता हैं.

सीनियर्स की सलाह

जब कभी आप परीक्षा की तैयारी की प्लानिंग कर रहे हो तो अगर आपकी पहचान में कोई दोस्त हैं जिन्होंने उस परीक्षा में सफलता अर्जित की हो तो आपको उनसे बात अवश्य करनी चाहिए. हरेक व्यक्ति के अनुभव अलग अलग होते हैं ऐसे में उनका कोई सुझाव आपके लिए सफलता के द्वार खोल सकता हैं.

कम सामग्री पढ़े पर बार बार पढ़े

बहुत से सफल अभ्यर्थी इस फार्मूले को अपनाते हैं. अगर आप सही पुस्तक या गाइड चुनकर अपनी तैयारी शुरू कर रहे हैं तो आपको अलग लेखकों की दर्जन भर किताबों में उलझने की जरूरत नहीं हैं. अधिक किताबों को कम समय में याद करने की कोशिश करने पर आपका दिमाग कन्फ्यूजन क्रिएट करेगा जो कि एक अच्छा साइन नहीं हैं.

आपको एक अच्छी किताब के चयन के बाद उसी किताब का नियमित अंतराल बाद रिवीजन करना हैं. रिवीजन के लिए आप स्वयं के हैण्ड राइटिंग में नोट्स तैयार कर सकते हैं अथवा अंडर लाइन फ़ॉर्मूले का उपयोग कर सकते हैं. ऐसा करने से दोहराने योग्य सामग्री का कम समय में अच्छे से रिवीजन किया जा सकता हैं.

माइंड मैप

आपको न केवल सुनियोजित प्लानिंग के साथ पढ़ाई करनी हैं बल्कि जब आप एग्जाम हॉल में पेपर देने के लिए जाए उस समय भी आपके दिमाग में स्पष्ट रोड मैप होना चाहिए. अर्थात मुझे 100 मिनट में 100 सवालों के उत्तर देने हैं तो एक मिनट से कम समय में हरेक सवाल को सोल्व करना हैं.

गणित या विज्ञान के सवालों को 70-80 सैकंड देकर सॉल्व करुगा वही हिंदी, अंग्रेजी और जीके को 40 सैकंड में ही सॉल्व करुगा. ज्यादा कन्फ्यूजन वाले सवालों को रिव्यू मार्क कर छोड़ दूंगा तथा अंतिम दस मिनट में मुझे उनका एक उत्तर निकालना हैं.

इस तरह का माइंड मैप आपकों परीक्षा की तैयारी के दौरान भी बनाना हैं. जैसे मेरे पास इतना समय हैं इतने सब्जेक्ट हैं प्रति सब्जेक्ट इतने यूनिट इतने दिनों में तैयार करनी हैं, उनका रिवीजन इतनी अवधि में करना हैं.

पढ़ाई के लिए समय सारणी (Time table for studies)

यदि आप exam में अच्छे नंबर के साथ टॉप करना चाहते हैं तो आपको अपनी पढाई के लिए एक time-table की सबसे पहले जरुरत होगी आपको अपने देनिक कार्यो में आसानी के साथ manegment बिठाकर 9-10 घंटे का समय सारणी बनानी होगी और इसे पूरी तरह व्यवहार में उतरना होगा उस time-table को फॉलो करना होगा.

अपने लिए time-table बनाने के लिए सबसे उपयुक्त समय होता हैं एग्जाम से 3 से 4 महीने पहले ही बना देना चाहिए यदि आप कॉम्पीटिशन एग्जाम में कुछ ही नंबर्स से पिछड़ रहे हैं तब आपको अपने समय सारणी पर ध्यान देना होगा जिससे आप अपने पिछले एग्जाम से अच्छे अंक ला सके

पढ़ाई कैसे करे (How to study)

  • आपको पिछले सालो के सभी पेपर को देखना चाहिए और उनको सोल्व करने की कोशिश करे इससे आपको पेपर की जटिलता और प्रारूप की भली-भांति जानकारी हो जाएगी.
  • आपके पढाई करने का कमरा कोलाहल से दूर आरामदायक बिस्तर के साथ ही साफ़-सुथरा व व्यवस्थित होने से पढाई करने में मन लगता हैं.
  • जब आप किसी सीरियस सब्जेक्ट की पढाई कर रहे हो तो उससे सम्बन्धित उसमे काम आने वाली सारी चीजे अपनी table पर रखे जिससे आपको किसी के लिए उठना नही पड़े अच्छी तरह मन लगाकर पढाई कर सको.

कॉम्पिटिशन एग्जाम के लिए सिलेबस (preparation tips by toppers)

आपको अपने सेलेबस की किताब खरीदते समय एक बात को निश्सित कर ले और इस बात की पूरी खोज कर ले की पिछले एग्जाम में किस पुब्लिकेशन और लेखक की किताब में से ज्यादा सवाल आये हैं इस बात से आपको कई सालो से अच्छा रिजल्ट देने वाले पब्लिकेशन का इतिहास पता चल जायेगा और आपकी एग्जाम तेयारी सही दिशा में जाएगी जिससे आपको अच्छे अंक आने की सभावना बढ़ जाती हैं.

विश्वसनीय लेखक की किताब पढने के साथ साथ आपको डेली study topic का नोट (summary) बना लेनी चाहिए जिससे एग्जाम से पहले के कुछ दिनों में आप पढ़े हुए topic का revesion कर सको इसके लिए आपको पूरी किताब नहीं देखनी पड़े मुख्य बिन्दुओ का अध्ययन कम समय में हो सकेगा.

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें (Exam tayari in hindi)

परीक्षा के समय में अक्सर बहुत सारे student नीद कम कर देते हैं पढने के जूनून तक तो ठीक हैं मगर इसका परीक्षा परिणाम पर बुरा असर पड़ता हैं इसलिए कम से कम परीक्षा के दिनों में 6 घंटे तक नीद जरुर ले.

जिस दिन एग्जाम हो उस दिन एग्जाम center पर आधा घंटा पहले जरुर पहुचे ऐसा इसलिए क्युकि परीक्षा के कुछ ही समय पहले किताब पढने से आप तनाव की स्थति में आ जाते है और हडबड़ाने लग जाते हैं.

याद करने का सही तरीका (The right way to remember)

  • परीक्षा के दिनों में तनाव की स्थति को कम कम करने के लिए नित्य व्यायाम के साथ मनोरजन जरुर करते रहे साथ ही भरपूर खाना खाए और पूरी नीद जरुर ले
  • यदि आप अपने एग्जाम के प्रति सिरियस हैं और अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते है तो मेरा एक सुझाव जरुर माने अपना डेटा पैक आज ही खत्म कर ले चैटिंग ,गेमिग,और अपने फ़ोन से दुरी बना ले
  • गणित की तैयारी कैसे करे-पढाई करने का सबसे आसान तरीका हैं जो topic आप पढ़ रहे हैं उनके मुख्य बिन्दुओ को अपनी नोटबुक में लिखते रहे और अध्याय पूरा होने पर एक बार उन्हें जरुर दोहराए जिससे पढ़ी हुई सामग्री आपकी स्थायी स्म्रति में चली जाती हैं और लम्बे समय तक याद रहती हैं

प्रतियोगी परीक्षा तैयारी /टॉप करने का सही तरीका (competition ki taiyari)

  • पुरे दिन पढने की आदत से बचे ऐसा करने से पढ़ी हुई सामग्री कम याद रहती हैं और शरीर पर बोझ एव तनाव की स्थति बनी रहती हैं इसलिए दिन में कम से कम 1-2 घंटे तक मनोरजन ,खेल ,टीवी देखे ,फिल्म देखने जाये या घुमने निकले इससे आपका स्वास्थ्य अच्छा बना रहेगा और exam में अच्छा परफॉरमेंस कर पायेगे
  • जब भी आप पढने बैठे शांत जगह और उचित रोशनी का स्थान ही चुने पढाई एक तपस्या हैं जिनमे एकाग्रता की बहुत आवश्यकता होती हैं एकाग्रता से की गयी के बिना Preparation से ज्यादा सफलता संभव नहीं हैं
  • एग्जाम हॉल में बेठने के बाद पेपर मिलने पर सबसे पहले दिशा-निदेश पढ़े और बाद में पेपर solve करते समय सबसे पहले उन्ही सवालों के जवाब से जो सरल हो और आपको पता हो इसके बाद ही बाकी सवालों के जवाब ढूढने चाहिए ऐसा न करने से कई बार कठिन सवालों के जवाब सोचते-सोचते जो हमे याद थे उनको भी भूल जाते हैं
  • परीक्षा का थोडा बहुत तनाव (stress) आना स्वाभाविक हैं मगर नकारात्मक सोच ,एग्जाम के बारे में ज्यादा सोचकर खुद की stress create कर देते हैं इनसे बचने के लिए हमेशा सकारात्मक सोच रखे और ज्यादा exam के बारे में नहीं सोचे और एग्जाम से पहले जब अपने मित्रो से मिले तब एग्जाम के बारे में चर्चा न करके किसी रोचक बिंदु पर बात करे इससे आपको तनाव में कमी महसूस होगी और एग्जाम में अच्छे अंक ला सकोगे
  • अपने पेपर का समय खत्म होने से 15 मिनट पहले ही कार्य समाप्त कर ले और किये गये सवालों को फिर से देखे जहा सुधार की गुंजाईश हो करे इसके बाद अपनी कॉपी बंद कर दे
  • पेपर सोल्व करते समय अपनी लिखावट का खास ख्याल रखे गन्दी हैण्ड राइटिंग और कचरा करने से बचे दिए गये सवाल के उत्तर की शब्द सीमा का ख्याल रखे ज्यादा लिखने की बजाय प्रभावी और आकर्षक लिखे
  • एग्जाम चाहे आपका जैसा भी हो उसके बारे में बिलकुल नहीं सोचे उनकी चिन्ता छोड़कर आने वाले पेपर पर पूरा फोकस होना चाहिए घरवाले भी बित चुके पेपर पर ज्यादा बात-चित न करके आने वाले पेपर के लिए बच्चे को पढने के लिए प्रेरित करे
  • एग्जाम हॉल में चिटिग से बचे कुछ ही माता-पिता ऐसे भी होते हैं जो अपने बच्चो को ऐसा करने से मना करते हैं आपको जिन्दगी में सफल होने की राह चुननी हैं तो आपको अपने तरीके से पेपर देना चाहिए किसी की कॉपी करना या कागज पर लिख कर ले जाना आपके भविष्य के लिए खतरनाक हो सकता हैं इसलिए ऐसा कभी ना करे
  • यदि आप लिखित परीक्षा में हिस्सा ले रहे हैं तो सवालों के जवाब हैडिंग के रूप में देना चाहिए जिससे आपकी लैंग्वेज का परीक्षक पर सकारात्मक प्रभाव पड़े

FAQ

परीक्षा के दिनों में सबसे अधिक ध्यान किस बात रखना चाहिए?

आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य का ख्याल रखना बेहद जरूरी हैं.

प्रतियोगी परीक्षा में टॉप करने के लिए कितने घंटे पढ़े?

कम्पीटीशन परीक्षा में अगर लम्बा वक्त हैं तो आप सात से आठ घंटे की नियमित तैयारी करके भी टॉपर बन सकते हैं. कम समय में आप अपने सिटिंग पॉवर, नीद, स्वास्थ्य आदि को ध्यान में रखते हुए 10 से 12 घंटे का समय पढ़ाई के लिए चुन सकते हैं.

कम्पीटीशन परीक्षा की तैयारी में सबसे जरूरी क्या हैं?

नियमित तैयारी, अच्छी नींद, सही योजना और कड़ा परिश्रम

यह भी पढ़े

मित्रों उम्मीद करता हु कॉम्पिटिशन एग्जाम में टॉपर कैसे बने पढ़ाई के आसान तरीके में आपकों taiyari kaise करनी चाहिए, जिससे आप कॉम्पिटिशन एग्जाम में टॉपर बन सकते है.competition exam के ये स्टडी टिप्स आपकों पसंद आए हो तो इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले.

Leave a Comment

Your email address will not be published.