परिवार नियोजन पर कविता Family Planning Poem In Hindi

नमस्कार दोस्तों परिवार नियोजन पर कविता Family Planning Poem In Hindi इस आर्टिकल में आपका स्वागत हैं. आज हम Pariwar Niyojan Par Kavita class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 Students के लिए लेकर आए हैं. छोटे बच्चों के लिए यहाँ परिवार नियोजन आधारित कविताएँ दी गई हैं.

Family Planning Poem In Hindi- परिवार नियोजन पर कविता

परिवार नियोजन पर कविता Family Planning Poem In Hindi

विवेक और चिन्तन इन दो गुणों के चलते मानव अन्य सभी प्राणियों से भिन्न हैं. मनुष्य के पास यह नैसर्गिक क्षमता हैं कि वह अपने वर्तमान व् भविष्य के बारे में सोच सकता है उन्हें बेहतर बनाने के लिए योजना बना सकता हैं. फिर हम जनसंख्या वृद्धि की इस समस्या से उदासीन क्यों हैं.

आज हम 135 करोड़ हो चुके हैं, जनसंख्या के मामले में चीन मात्र हमसे १० करोड़ की संख्या से आगे रह गया हैं यदि हम यूँ ही बढ़ते रहे तो आने वाले दशक में भारत जनसंख्या में चीन से आगे चला जाएगा.

जनसंख्या वृद्धि गौरव का विषय नहीं हैं बल्कि एक भयानक समस्या का द्योतक हैं हम हर साल एक ऑस्ट्रेलिया को जन्म दे देते हैं. कल्पना करिए यदि ऐसा दिन आ गया जब लोगों के बसने की जगह नहीं होगी तो क्या उगाएगे और क्या क्माएगे.

आने वाले व्यापक खतरे से बचने का एक ही उपाय हैं भारत में जनसंख्या नीति लागू की जाए अथवा परिवार नियोजन को लेकर कुछ कठोर प्रावधान किये जाए, हम दो और हमारे दो का नारा तो कई दशकों से गूंज रहा हैं.

मगर धरातल पर इस सम्बन्ध में कोई ठोस क्रियान्विति नजर नहीं आती. हमने Family Planning Poem (परिवार नियोजन कविता) आपके लिए संग्रह की हैं  चलिए पढ़ते हैं.

Family Planning Poem

नहीं तो
इक वंश वृक्ष ऐसा बढ़ेगा
कि वन हो जाएगा
और कठिन ही नहीं
असम्भव उसमें जीवन हो जाएगा.


टुन्ना-मुन्ना छोटका-बड़का
गिनती में छै बीस
बरस पैतीसा के चढ़त्हें
मन्नऽ में उठलै टीस।

केकरो फटलै धोती-कुरता
केकरो फटलै पैंट
कोइये खोजै तेल हेमानी
कोइये मांगै सैंट
कोय घुड़कै, कोइये दौड़े छै
कोइये मांगै छै आशीष।

कोय लपकै रे हड़िया देखी
कोइये दिखावै छै शेखी
गाला-गाली, मार-पीट के
घर्है देखै छी साजीश।

सोचऽ में हमरऽ कोख सुखै छै
छोटकां अभियो दूध पीयै छै
गुड्डा मारै छै धृड़कुनियाँ
लौकै हमरा चारो दीस।

ई नै जानलौ ई आफत
दुखो मिलतै बच्च्है मारफत
नै जानौ की ई फुसफुसिया
ई रग हमरा देतै लीस॥

परिवार नियोजन कविता पोएम

हे मानव ! हे सज्जन !
अपनाएं परिवार नियोजन;
तब पाएंगे अच्छा भोजन,
तनभर वस्त्र और आवास
सब कुछ होंगे पास !

शिक्षा और सद्विवेक से,
गोद भरे सिर्फ दो-एक से!
कलह-क्षोभ से मुक्त रहेंगे,
अभावों से उन्मुक्त रहेंगे !

तेरा भाररहित होगा आनन,
हे मानव ! हे सज्जन !
अपनाएं परिवार नियोजन !

तेरा चमन होगा उजियाला,
बालें सिर्फ एक-दो चिराग !
दहेज दानव पर लगेगा ताला,
जनक-संतति में पनपे अनुराग !

एक सूर्य से यह जग-जीवन,
हे मानव ! हे सज्जन !
अपनाएं परिवार नियोजन !

सबको खुश करना ना आसान
चाहे प्रयास कर खो दें जान,
एक-दो को ही योग्य बनाएं !
सभ्य-शिक्षित आरोग्य बनाएं !

विकसित होगा नंदनकानन
हे मानव ! हे सज्जन !
अपनाएं परिवार नियोजन !

असंख्य तारे सिर्फ टिमटिमाते
देते नहीं शीतलता-प्रकाश,
एक चांद चांदनी से नहला
शीतल करता भू-आकाश !

समझो महिमा दो-एक का
हे मानव ! हे सज्जन !
अपनाएं परिवार नियोजन !

सौ कौरव पर एक पांडव
उसने मचाया ऐसा तांडव,
कौरव का किया विध्वंस
पांडु का ही चला वंश !

सौ के बदले एक ही तन
हे मानव ! हे सज्जन !
अपनाएं परिवार नियोजन !

देश, राज्य, समाज का
कल का ना आज का
ना लें किसी से कृपादान
करें सबका कल्याण !

आत्मनिर्भर बनाएं तनमन,
हे मानव ! हे सज्जन !
अपनाएं परिवार नियोजन !
विनय कुमार विनायक

परिवार नियोजन

दूब-सी बढ़ती
देश की जनसंख्या
साथ में उछलती- कूदती महंगाई
हंसती-गाती बेरोजगारी
इंसान सुखी रहे तो कैसे ?

रूढ़िवादी समाज को
देश हित कदम बढ़ाना ही होगा
अब अपनाना ही होगा
परिवार नियोजन
ताकि खुल सके ताला
सुखद भविष्य का।

‘हम दो’ – ‘हमारे एक’

अगर धरा को जनसँख्या वृद्धि से है बचाना,
तो अब ‘हम दो’ पर ‘हमारे एक’ का वचन निभाना होगा।

बदलनी होगी हमें अपनी सोच,
और एक नया समाज बनाना होगा।

करने को जनसंख्या नियंत्रण,
परिवार नियोजन को अपनाना होगा।

स्वयं को जागरूक करने के साथ-साथ,
समाज में भी जागरूकता अभियान चलाना होगा।

परिवार नियोजन के महत्त्व को,
हर घर में पहुंचाना होगा।

करने जनसंख्या वृद्धि का अभियान ये सफल,
हर व्यक्ति को जिम्मेदार बनना होगा।

कर पूरा दायित्व अपना,
हर नागरिक को फर्ज निभाना होगा।

निधि अग्रवाल

Family Planning Hindi Poem

हिन्दी कविता – परिवार (Hindi Poem on Family – Parivaar)

यह भी पढ़े

आशा करता हु दोस्तों Family Planning Poem In Hindi Language का यह निबंध आपकों पसंद आया होगा.परिवार नियोजन कविता में दी जानकारी पसंद आई हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *