घनश्याम नायक (नट्टू काका) का जीवन परिचय | Ghanshyam Nayak Biography in Hindi

घनश्याम नायक (नट्टू काका) का जीवन परिचय | Ghanshyam Nayak Biography in Hindi दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में बात करेंगे ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ सीरियल से प्रसिद्धि पाने वाले और उसमें नट्टू काका के किरदार में दिखने वाले अभिनेता (Ghanshyam Nayak) घनश्याम नायक के बारे में। वैसे तो अपने जीवन में घनश्याम नायक ने कई फिल्मों और सीरियलों में काम किया है परंतु उन्होंने अपनी एक अलग पहचान ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ सीरियल से ही बनाई है। 

घनश्याम नायक (नट्टू काका) का जीवन परिचय | Ghanshyam Nayak Biography in Hindi

घनश्याम नायक (नट्टू काका) का जीवन परिचय Ghanshyam Nayak Biography in Hindi

दोस्तों घनश्याम नायक के बारे में हम सभी जानते हैं की वो कौन हैं? इस आर्टिकल में आगे हम आपको उनके तथा उनके परिवार से जुड़ी सभी बातें बताएंगे। उनके द्वारा विभिन्न टीवी सीरियल में किए गए काम और उनके द्वारा की गई फिल्मों से संबंधित अन्य सभी चीजों के बारे में आपको बताएंगे। 

घनश्याम नायक (नट्टू काका) की बायोग्राफी

नाम-घनश्याम नायक (नट्टू काका) 
जन्म-12 मई 1945
जन्म स्थान-उथाई, मेहसाणा जिला, गुजरात
माता का नाम-ज्ञात नहीं
पिता का नाम-ज्ञात नहीं
शिक्षा-10वी पास
पेशा-टेलीविजन अभिनेता
राष्ट्रीयताभारतीय
धर्म-हिंदू
विवाह-निर्मला देवी नायक
बच्चे-पुत्री: भावना नायक, और तेजल नायकपुत्र: विकास नायक
मृत्यु3 अक्टूबर 2021

नट्टू काका के नाम से ख्याति  प्राप्त करने वाले घनश्याम नायक जी का जन्म 12 मई 1944 को गुजरात के मेहसाणा जिले में एक छोटा सा गांव उथाई में हुआ था। इनके माता-पिता का नाम तो ज्ञात नहीं है परंतु इनको बचपन से ही मूवी देखना बड़ा पसंद था। और यह फिल्मों में ही अपना करियर बनाना चाहते थे। 

इसके लिए घनश्याम नायक जी बहुत कम उम्र में ही घर से मुंबई निकल गए। घनश्याम नायक उर्फ नट्टू काका मुंबई के मलाड इलाके में अपने परिवार के साथ रहते थें। परिवार में उनकी पत्नी निर्मला देवी नायक और उनके तीन बच्चे जिसमें दो पुत्री भावना नायक और तेजल नायक और 1 पुत्र विकास नायक उनके साथ रहते थें। 

बड़ी बेटी भावना नायक जो कि 47 साल की है अपने माता पिता के साथ ही रहती है। और वही उनका ख्याल रखती है। जबकि छोटी बेटी तेजल नायक एक प्राइवेट स्कूल में टीचर है। और बेटा विकास किसी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज कंपनी में मैनेजर है। 

गौरतलब है कि घनश्याम नायक ने अभी तक अपनी किसी भी बेटी की शादी नहीं की है। हां उनके बेटे विकास की शादी जरूर हो चुकी है। विकास के दो बच्चे भी हो चुके हैं। और विकास नायक एक ब्लॉगर भी हैं, को मुंबई के मलाड इलाके में 2BHK हाउस में. रहते हैं। 

घनश्याम नायक का अभिनय कैरियर

घनश्याम नायक जी आज पूरे शहर में अपने नट्टू काका के किरदार में पहचाने जाते हैं। परंतु क्या आप सभी जानते हैं कि लगभग पांच दशकों से फिल्मी दुनिया में घनश्याम नायक जी ने सैकड़ों किरदार निभाए हैं।

हालांकि उन्हें फिल्मों में वह सफलता नहीं मिली जिसकी उम्मीद उनको थी। सबसे पहले घनश्याम नायक जी ने 1960 में अपने अभिनय की शुरुआत की थी, उस समय की एक हिट फिल्म ‘मासूम’ से उन्होंने अपने फिल्मी कैरियर की शुरुआत की थी। 

घनश्याम नायक अपने कैरियर में ‘बेटा’, ‘क्रांतिवीर’, ‘लाडला’, ‘बरसात’, ‘चाइना गेट’, ‘घातक’, ‘हम दिल दे चुके सनम’, ‘तेरे नाम’, ‘खाकी’, ‘लज्जा’, ‘तेरा जादू चल गया’ इसके अलावा ‘चोरी चोरी’ जैसी कई हिट बॉलीवुड फिल्मों में छोटे-मोटे किरदारों में नजर आए।

उस समय फिल्म इंडस्ट्री में उनके पास काम की कोई कमी नहीं थी। उन्होंने अपने कैरियर में कई बड़े स्टार्स के साथ काम किया, जिनमें काजोल, श्रीदेवी, अमिताभ बच्चन, अनिल कपूर, माधुरी दीक्षित जैसे नाम शामिल है।

परंतु घनश्याम की प्रसिद्धि 2008 में आए तारक मेहता का उल्टा चश्मा सीरियल से प्राप्त हुई। इस सीरियल में घनश्याम जी ने नटवरलाल प्रभा शंकर उधई वाला उर्फ नटू काका के किरदार निभाए है। पिछले 1 दशक से घनश्याम नायक जी इस सीरियल से जुड़े हुए हैं। 

आज की डेट में घनश्याम नायक जी को लगभग सभी लोग नट्टू काका के नाम से ही जानते हैं। अपने जीवन के लगभग 60 वर्ष से भी अधिक का समय एक्टिंग की दुनिया में बिताने वाले नट्टू काका ने हिंदी और गुजराती फिल्मों के साथ-साथ टीवी सीरियल में भी काम किया हैं।

फिल्मों में उन्हे वह नाम नहीं प्राप्त हुआ। लेकिन टीवी सीरियलों में उनका कद हमेशा उच्च रहा है। और तारक मेहता का उल्टा चश्मा सीरियल से उन्हें जो ख्याति मिली, उसने उनको हमेशा के लिए घनश्याम नायक से नट्टू काका बना दिया था।

नट्टू काका अपने अभिनय की दुनिया में लगभग 250 से भी अधिक गुजराती और हिंदी फिल्मों में 350 से अधिक टीवी सीरियलों में काम कर चुके हैं। फिल्म और टीवी सीरियल की दुनिया में आने से पहले वह एक नाटककार भी रह चुके हैं। वह गुजराती भाषा में करीब 100 से अधिक नाटक का भी मंचन कर चुके हैं। 

घनश्याम नायक को बचपन से ही अभिनय का बड़ा शौक था और इस शौक के लिए वे पढ़ाई लिखाई छोड़ कर बचपन में ही मुंबई आ गए थे।  साल 1960 में जब वह महज 14 या 15 साल के थे, तभी उन्हें एक फिल्म ‘मासूम’ में चाइल्ड एक्टर के तौर पर लिया गया था। 

घनश्याम नायक से जुड़ी कुछ रोचक तथा अनसुनी बातें

  • घनश्याम जी के बारे में ऐसा कहा जाता है कि वह थिएटर बैकग्राउंड से ताल्लुकात रखते थे। इसकी वजह उनके पिताजी और दादा जी दोनों का थिएटर आर्टिस्ट होना बताया जाता है।
  • नट्टू काका के साथ उनकी दोनों बेटियां भावना नायक और तेजल नायक भी रहती हैं और उनके बेटे विकास नायक की फैमिली मलाड में ही दूसरे घर में रहती है।
  • अपने फिल्मी कैरियर की शुरूआत घनश्याम जी ने एक चाइल्ड आर्टिस्ट के तौर पर 1960 में बनी मासूम फिल्म में किया था।
  • अपने 60 साल के अभिनय के कैरियर में घनश्याम जी ने लगभग 250 से अधिक गुजराती और हिंदी फिल्मों में अभिनय किया है, और 350 से अधिक टीवी सीरियलों में वह काम कर चुके हैं।
  • फिल्म और टीवी सीरियलों के अलावा वे करीब 100 से अधिक गुजराती नाटकों का भी मंचन कर चुके हैं।
  •  नट्टू काका के बारे में ऐसा कहा जाता है कि वह एक एक्टर के साथ साथ सिंगर भी रह चुके हैं और उन्होंने कई फिल्मों में गाना भी गाया है।
  • घनश्याम जी के बारे में एक रोचक जानकारी है कि उनके पास कार होते हुए भी वह ऑटो रिक्शा से अपने सेट्स पर आना जाना पसंद करते थे। दरअसल नट्टू काका को कार चलाना नहीं आता हैं। और इस वजह से उन्होंने अपनी कार बेच दी थी।

घनश्याम नायक (नट्टू काका) से जुड़ी ताजा खबरें

तारक मेहता का उल्टा चश्मा सीरियल जो कि भारत का सबसे लोकप्रिय सीरियल माना जाता है। इस सीरियल में नटू काका का किरदार निभाने वाले घनश्याम नायक जी का 77 वर्षों की उम्र में 3 अक्टूबर 2021 को निधन हो गया।

आपको बता दें कि नट्टू काका पिछले कई महीनों से कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से ग्रसित थें। इस दौरान लगातार उनका इलाज भी चल रहा था। पिछले वर्ष ही इनके गर्दन की सर्जरी हुई थी, जिसमें 8 गाठे निकाली गई थी। 

उनके निधन की खबर सुनकर तारक मेहता का उल्टा चश्मा के सभी साथी कलाकार, उन्हें देखने वाले सभी फैंसो के साथ साथ पूरे भारत के लोगों में शोक की लहर दौड़ गई है। नट्टू काका पिछले 13 वर्षों से ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ सीरियल से जुड़े हुए थे।

और इस सीरियल के जरिए नट्टू काका ने चाहे बच्चे हो बुड्ढे हो या जवान हों। सभी के दिलों में अपने लिए एक विशेष जगह बनाई थी। नट्टू काका के सरल व्यवहार और उनकी अच्छाई सभी लोगों को काफी पसंद आती थी।

गंभीर बीमारी से लड़कर भी करते रहे काम

एक ढलते उम्र के व्यक्ति होते हुए भी उन्होंने खुद को कभी भी किसी से कम नहीं समझा। और कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से पीड़ित होते हुए भी घनश्याम नायक जी अपने कार्य को बहुत ही मेहनत और लगन से करते थे। 

आज घनश्याम नायक को हम सभी नट्टू काका के नाम से जानते हैं। लेकिन क्या आपको पता है घनश्याम नायक से नटू काका बनने की कहानी कितनी लंबी है? जी हां घनश्याम नायक जब एक15 साल का लड़का अपनी पढ़ाई लिखाई छोड़ कर अभिनय की जुनून के पीछे मुंबई आता है, और फिर 1960 में एक मूवी में चाइल्ड आर्टिस्ट के तौर पर सिलेक्ट किया जाता है। 

फिर क्या था यहीं से शुरू होती है, घनश्याम नायक से नट्टू काका बनने की कहानी। और लगभग 50 वर्षों तक कई फिल्मों और सीरियलों में अभिनय करने के पश्चात अंत में साल 2008 में घनश्याम नायक को तारक मेहता का उल्टा चश्मा सीरियल में बतौर नट्टू काका के किरदार में सिलेक्ट किया जाता है।

और इस सीरियल के माध्यम से पूरे भारत में लोग घनश्याम नायक को नट्टू काका के रूप में इस कदर पसंद करते हैं कि लोग उनका असली नाम घनश्याम नायक को भी भूल जाते हैं और अब तो लोग उन्हें सिर्फ और सिर्फ नटू काका के नाम से ही जानते हैं।

आज नट्टू काका हमारे बीच नहीं रहे पर वह हम सब की यादों में हमेशा जीवित रहेंगे और उनके सरल स्वभाव और हंसाने वाला अंदाज हमारे बीच हमेशा जीवित रहेगा।

यह भी पढ़े

उम्मीद करते हैं घनश्याम नायक उर्फ हम सबके घनश्याम नायक (नट्टू काका) का जीवन परिचय Ghanshyam Nayak Biography in Hindi से संबंधित हमारी यह आर्टिकल आपको पसंद आई होगी और अगर घनश्याम नायक से संबंधित कोई भी जानकारी हमारे इस आर्टिकल में छूट गई हो तो प्लीज नीचे कमेंट बॉक्स में हमें जरूर बताएं, हम उसे अपडेट करने की पूरी कोशिश करेंगे। लेख अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के बीच शेयर करें और  अपने सोशल अकाउंट पर शेयर करें धन्यवाद।

अपने विचार यहाँ लिखे