अच्छे आचरण पर सुविचार | Good Manners Quotes In Hindi

अच्छे आचरण पर सुविचार | Good Manners Quotes In Hindi अच्छा आचरण Good Habits & 10 good manners ही मानव के चरित्र की व्याख्या करते हैं. व्यक्ति किसी के साथ किस परिस्थिति में क्या आचरण करता है यही उसके चरित्र को दर्शाता हैं. विशेष रूप से बच्चों के आचरण पर आरम्भ से ध्यान दिया जाए तो अच्छी आदतों को जन्म दिया जा सकता हैं. आज हम अच्छे आचरण पर  Good Manners Quotes में दार्शनिकों के थोट्स जानेगे.

अच्छे आचरण पर सुविचार | Good Manners Quotes In Hindi

अच्छे आचरण पर सुविचार | Good Manners Quotes In Hindi

आचार व्यवहार अंकगणित में सिफर अथवा शून्य की तरह होते है स्वयं में भले ही उनका अधिक मूल्य न हो, परन्तु प्रत्येक वस्तु के मूल्य में बहुत कुछ जोड़ देने की क्षमता उपस्थित रहती हैं.


साधारण एवं तुच्छ त्यागपूर्ण कार्यों द्वारा अच्छे आचरण का निर्माण किया जाता हैं.


आचरण कानून की अपेक्षा अधिक महत्वपूर्ण होते है. बहुत कुछ अशों में उन पर कानून निर्भर करते हैं. कानून हमकों यत्र तत्र तथा यदा कदा प्रभावित करता हैं. आचार व्यवहार प्राणवायु के समान अपने स्थिर समान स्वाभाविक कार्य द्वारा क्लेश अथवा चैन प्रदान करते हैं, भ्रष्ट करते है और पवित्र बनाते हैं, प्रतिष्ठा प्रदान करते हैं और गिरा देते हैं, असभ्य अथवा सभ्य बना देते हैं.


अच्छे आचरण और अच्छे विचार एवं अच्छी भावना के विकासशील पुष्प की भांति होते हैं.


अच्छे आचरण सद्गुण के छोटे सिक्के के समान होते हैं.

Telegram Group Join Now


श्रेष्ठ आचार व्यवहार व्यक्तित्व को तेजस्वी बना देते हैं.


आचरण कार्य करने की सुखदायी पद्धति हैं.


आचार व्यवहार कार्य के अलंकार होते है, और एक दयापूर्ण शब्द कहने अथवा दया का कार्य करने की एक विशिष्ठ पद्धति होती हैं, जो उसके मूल्य में वृद्धि कर देती हैं, जो कार्य अनिच्छापूर्वक अथवा विनम्रता प्रदर्शित करते हुए किया हुआ प्रतीत होता है, उसको बहुत कम अवसरों पर अनुग्रह के रूप में स्वीकार किया जाता हैं.


हम सदैव उपकार नही कर सकते हैं परन्तु उपकार की भाषा तो सदैव ही बोल सकते हैं.


गुड़ न दे सके, गुड़ जैसी बात तो कहे.


मनुष्य का स्वाभाविक आचरण उसका सर्वोत्तम स्वरूप होता हैं.


अच्चारान्न आचरण उन लोगों को चिंता मुक्त कर देता हैं, जिनके साथ हम बात करते है जो व्यक्ति कम से कम व्यक्तियों को बैचेन बनाता हैं, वह उस समुदाय में श्रेष्ठतम वंश में उत्पन्न होता हैं.


विनम्रता के लिए कोई मूल्य नहीं चुकाना पड़ता हैं परन्तु वह प्रत्येक वस्तु को खरीद लेती हैं.


अच्छा आचरण चतुर व्यक्तियों द्वारा मूर्खों को दूर रखने की एक युक्ति होती हैं.


आचार मनुष्य का निर्माण करते हैं.


बड़ा रहस्य यह है कि बुरे अथवा अच्छे आचरण का प्रश्न नही होता है बल्कि रहस्य की बात यह है कि समस्त मानव आत्माओं के प्रति हमारा आचार व्यवहार एक समान हो.


एक भोज की भांति जीवन में आराम से रहिये, यदि कोई तश्तरी आपकों पेश की जाती है तो आप अपना हाथ बढ़ाइए और उसमें से सामान्य रूप में ले लो. यदि वह सामने से हटाई जाए तो उसको रोको मत, यदि तश्तरी तुम्हारी ओर नही आती, तो अपनी इच्छा को जोर से बोलकर जताओ मत, बल्कि धैर्यपूर्वक तब तक प्रतीक्षा करो, जब तक वह तुमकों पेश न की जाए.

अच्छे आचरण पर सुविचार

इंसान के व्यक्तित्व की असली पहचान उसका आचरण ही होता है।


अच्छे आचरण से मनुष्य एक दूसरे के दिल में अपनी जगह बना लेते हैं।


अच्छे आचरण की वजह से मनुष्य को दुआएँ ही मिलती हैं। दूसरों को खुशी देना खुद को ईश्वर के समीप कर देता है।


मनुष्य अपने आचरण की वजह से ही समाज में सम्मान पाते हैं। समाज में एक मुकाम प्राप्त कर लेते हैं। 


अच्छा आचरण ही है जो एक दूसरे से अलग भिन्न व्यक्तित्व स्थापित करता है, अच्छे बुरे की पहचान करवाता है।


अच्छे आचरण की वजह से मनुष्य किसी के दिल में अपनी जगह बना भी लेते हैं और याद भी किए जाते हैं। 


मनुष्य को भले एक दूसरे का चेहरा याद रहे ना रहे लेकिन अच्छा आचरण याद रहता है। मुख्यत: बुरे समय में अपने अच्छे आचरण से मदद करने वाला मनुष्य भगवान का आशीर्वाद पाता है और दूसरों के दिल में अपनी जगह बना लेता है।


अच्छा आचरण मनुष्य द्वारा कमाई जाने वाली वह दौलत है जिसे मनुष्य को बाँटना भी चाहिए और जितना हो सके उसमें बढ़ोतरी करते रहना चाहिए।


वास्तविक रूप से देखा जाए तो अच्छे आचरण जैसी बहुमूल्य दौलत कोई नहीं।


समाज में मनुष्य अपने आचरण से अपने कार्य में भी सफलता प्राप्त कर लेते हैं एवं प्रतिष्ठित भी होते हैं। अच्छे आचरण से सही कार्यों का चुनाव भी करते हैं एवम् सफलता भी प्राप्त करते हैं।


मनुष्य का बाहरी रंग रूप भले आकर्षित करे लेकिन अच्छा आचरण दिल में बस जाता है। अच्छे आचरण की वजह से लोग एक दूसरे की पसंद बन जाते हैं। चेहरा धूमिल ही सकता है लेकिन एक बार अच्छा आचरण दिल में बस जाए तो आसानी से भुलाया नहीं जा सकता है।


अच्छे आचरण के मनुष्य से सभी बात करना चाहते हैं। उनका साथ सभी को अच्छा लगता है और वह अपने अच्छे आचरण की वजह से ही लोकप्रिय होते हैं। अच्छे आचरण के मनुष्यों का साथ खुशी देता है और अच्छा महसूस कराता है।


अच्छे आचरण से मनुष्य महानता का गुण प्राप्त कर लेता है और श्रेष्ठ रूप से उच्च शिखर पर खुद को स्थापित कर लेता है। अपनी सफलता की सीढ़ी में खुशी पूर्वक चढ़ता जाता है।


अच्छे आचरण स्वरुप मनुष्य अपनी मीठी वाणी से एक दूसरे की बात को महत्व देते हैं, उनकी बातें सुनी समझी जाती है। मीठी वाणी वाले से हर कोई बात करना चाहता है। अच्छा आचरण बोली में मिठास व लहज़े में नज़ाकत का गुण लाता है जो अपनापन महसूस कराते हैं व दूसरों को भाते हैं।


मनुष्य का अच्छा आचरण दूसरे पर गहरा प्रभाव छोड़ता है जिसके स्वरूप वह अन्य मनुष्य के द्वारा पसंद किया जाता है। 


समय हालात कैसे भी हों अच्छे आचरण वाले मनुष्य साथ ज़रूर देते हैं, अपना फर्ज़ नहीं भूलते बल्कि निभाते हैं।


अच्छे आचरण में मनुष्य एक दूसरे की मदद करना सीखता है। दूसरों को पीड़ा नहीं देता है।


अच्छे आचरण वाला मनुष्य कभी भी दूसरों को परेशान नहीं करता है, दुख नहीं देता है।


किसी को शिक्षा अपने अच्छे आचरण से दी जा सकती है। बातें तो भुलाई भी जाती हैं लेकिन अच्छा आचरण याद रहता है।


अच्छे आचरण वाले मनुष्य की अगर कोई बुराई भी करता है तो उसकी अच्छाई बुरी बात पर हावी हो जाती है। लोग अच्छे आचरण पर विश्वास करते हैं बुरी बात को नजरअंदाज कर जाते हैं।


मनुष्य चाहे कितनी भी दौलत कमा ले, नाम शौहरत पा ले लेकिन अगर उसका आचरण अच्छा नहीं है तो लोग ऐसे मनुष्य से इत्तेफाक नहीं करना चाहते।


एक बेहतरीन मनुष्य अपने आचरण से जाना पहचाना जाता है बातें तो सिर्फ सुनी व पढ़ी भी जाती हैं।


मनुष्य अपने अच्छे आचरण की वजह से सभ्य कहलाते हैं उनमें अनेक गुणों का समावेश होता है। अच्छे आचरण से जीवन शांतिपूर्ण खुशहाल होता है।


अच्छे आचरण स्वरूप मनुष्य नारियों का सम्मान करते हैं, बड़े बुजुर्गों का आदर करते हैं, असहाय व जरूरतमंद लोगों की सहायता करते हैं, मनुष्यों के साथ-साथ पशु पक्षियों के प्रति भी अच्छा आचरण प्रस्तुत करते हैं।


अच्छे आचरण वाले मनुष्य में जीवन को जीने की समझ प्रबल होती है जो समाज में अपने आचरण से, अपने आदर्शों  से अपनी एक अलग ही पहचान बना लेते हैं।


परिवार में बचपन से अच्छे आचरण की नींव रखी जाए तो भविष्य तक मनुष्य का व्यक्तित्व प्रभावशाली बन जाता है।


मनुष्य का आचरण उसके व्यक्तित्व से पहचान कराता है। अच्छे आचरण वाले मनुष्य संसार में पूजनीय माने हैं।


मनुष्य का पढ़ना, लिखना, बोलना, सुनना बेकार है अगर मनुष्य के आचरण में अच्छापन नहीं है।


लोग एक दूसरे को तो अनेक उपदेश देते रहते हैं लेकिन सही व असली उपदेश तो मनुष्य अपने अच्छे आचरण से ही सीख स्वरूप दे सकता है।


मनुष्य का अच्छा आचरण विश्वासप्रिय बनाता है। लेकिन अगर आचरण में बदलाव होते रहते हैं तो शंका पैदा करता है।


मनुष्य का जैसा आचरण होगा उसके कर्म भी उसी हिसाब से परवान चढ़ेगें। जो जैसा दूसरों के साथ करेगा वैसा स्वयं के साथ होता है, सब का हिसाब इसी जन्म में जीते जी ही होता है।


अच्छे आचरण की वजह से मनुष्य ईश्वर का आशीर्वाद स्वरुप अपना जीवन निखार लेते हैं।


मनुष्य अपने अच्छे आचरण की वजह से ही महान बनते हैं। मनुष्य का अच्छा आचरण उसे सफलता के करीब ले जाता है और जीवन में खुशहाली, सुख समृद्धि का विकास होता है।


मनुष्य में उसके अच्छे आचरण उसके हृदय स्वरूप पालन किए जाते हैं वरना तो दिमाग की चालाकी सिर्फ दिखावा मात्र है।


अच्छे आचरण वाले मनुष्य में धैर्य, साहस, ईमानदारी, क्षमा भावना, सत्यनिष्ठा, आदर भाव आदि गुण विद्यमान होते हैं जिनसे मनुष्य के व्यक्तित्व का निर्माण होता है।


मनुष्य में अच्छा आचरण मन की शुद्धि करते हैं और विचारों में सकारात्मकता भर देते हैं।


मनुष्य का बाहरी शरीर वक्त के साथ ढल जाता है लेकिन मनुष्य का अच्छा आचरण सदा युवा रहता है। सुंदर शरीर ज़रूरी नहीं अच्छा हो लेकिन अच्छे आचरण वाला मनुष्य सुंदर ज़रूर होता है, उसकी सुंदरता उसके आचरण में दिखती है।


मनुष्य की जिंदगी में भले कितनी भी परेशानियाँ आये वह अपने अच्छे आचरण से समाधान निकाल लेता है, बड़ी से बड़ी समस्या का हल पा लेता है।


मनुष्य के आत्मसम्मान की नींव उसके अच्छे आचरण पर टिकी होती है।


मनुष्य का अच्छा आचरण कभी दूसरों का अहित नहीं करता है बल्कि हितकारी साबित होता है।


मनुष्य का अगर आचरण ही अच्छा नहीं होता है तो उसकी सफलता भी निरर्थक है क्योंकि मनुष्य की सफलता से ज्यादा ज़रूरी है उसका अच्छा आचरण जो सफलता कायम रखता है।


अच्छे आचरण का मूल्य अनमोल है जो दूसरों की भलाई के बारे में ही सोचता है भले खुद को कोई लाभ मिले या ना मिले।


अच्छे आचरण की नींव मनुष्य अपने कर्मों से रखता है। अगर मनुष्य की नींव मजबूत होती है तो भविष्य सुनहरा होता है।


मनुष्य का अच्छा बुरा आचरण ही उसके वर्तमान, भूत, भविष्य सभी को प्रभावित करता है।


मनुष्य का जीवन उसके अच्छे आचरण से पुष्प की भांँति खिल जाता है। अच्छे विचारों एवं भावना से निर्मल हो जाता है। मन को सुखद अनुभूति होती है एवं खुशी महसूस होती है।


जीवन में सत्कर्म अच्छे आचरण से ही प्रभावित होते हैं जो मनुष्य को सुख की अनुभूति कराते हैं एवं जीवन में शांति बनाए रखते हैं।


मनुष्य के व्यक्तित्व में उसका अच्छा आचरण लौ समान होता है जो जीवन को अपनी रोशनी से प्रकाशित कर देता है।

यह भी पढ़े

आशा करता हूँ फ्रेड्स आपकों Good Manners Quotes In Hindi का यह लेख पसंद आया होगा, यदि आपकों अच्छे आचरण पर सुविचार अच्छे लगे हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे, आपके पास इस तरह के गुड मैनर्स हिंदी कोट्स स्लोगन नारे शायरी हो तो हमारे साथ भी शेयर करे.

Leave a Comment