हिमाचल पर्वत धारा योजना 2021 Himachal Pradesh Parvat Dhara Yojana

हिमाचल पर्वत धारा योजना 2021 Himachal Pradesh Parvat Dhara Yojana : हिमाचल देश के उन राज्यों में शामिल है जहाँ घने पहाड़ हैं उनसे बहती जलधाराए हैं, परन्तु जल संकट यहाँ भी एक प्रमुख समस्या रही हैं. वित्तीय वर्ष 2021-22 में प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना की घोषणा की थी. इस सरकारी स्कीम के जरिये प्रदेश में जल स्रोतों के तथा भूजल स्थिति में वृद्धि के प्रयास शामिल हैं. हाल ही में शुरू की गई पर्वत धारा योजना में जल संग्रहण, प्रबंधन और संरक्षण के लिए राज्य सरकार द्वारा 20 करोड़ रु का व्यय किया जाएगा.

Himachal Pradesh Parvat Dhara Yojana 2021

हिमाचल पर्वत धारा योजना 2021

योजना का नाम हिमाचल पर्वत धारा योजना
संचालक हिमाचल सरकार
लाभार्थी 10 वन मंडल
उद्देश्य जल व वन संरक्षण
खर्च धनराशि 20 करोड़
ऑफिसियल वेबसाइट लिंक

क्या हैं पर्वत धारा योजना

हिमाचल सरकार ने विलुप्त हो रहे जल स्रोतों के जीर्णोद्धार तथा ढलानदार खेतों में प्रवाह सिंचाई परियोजना के माध्यम से सिंचाई उपलब्ध करवाने हेतु पर्वत धारा योजना शुरू की हैं. योजना के अंतर्गत सेटेलाइट इमेज के आधार पर जल संग्रहण जलाशयों का निर्माण किया जा रहा हैं. इनका रखरखाव तथा प्रबंधन मनरेगा के अंतर्गत किया जा रहा हैं. इस पहल से गर्मी के मौसम में सिंचाई का प्रावधान हो पाएगा और भू जल स्रोतों का जीर्णोद्धार होगा. इस योजना पर 2020-21 में 20 करोड़ रु खर्च किये जाएगे.

जल के प्राकृतिक संसाधनों का कायाकल्प और पुनर्भरण के उद्देश्य से शुरू की गई यह स्कीम हिमाचल के किन्नौर और लाहौल-स्पीति जिलों को छोड़कर अन्य दस राज्यों में पायलट प्रोजेक्ट स्कीम के रूप में आरंभ की गई हैं. प्रदेश का लगभग दो तिहाई 27 प्रतिशत भूभाग वनआच्छादित हैं. वन विभाग इस योजना के क्रियान्वयन में अपनी भूमिका निभा रहा हैं. पर्वत धारा स्कीम में जल भंडारण की नई संरचनाओं और जलाशयों के जीर्णोद्धार का कार्य शामिल हैं.

पर्वत धारा योजना 2021 का लाभ

बिलासपुर, हमीरपुर, जोगिंद्रनगर, नाचन, पार्वती, नूरपुर, राजगढ़, नालागढ़, ठियोग और डलहौजी इन दस वन प्रभागों में पर्वत धारा योजना 2021 को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया गया हैं. योजना के अंतर्गत विभिन्न स्थानों में तालाबों की सफाई और रखरखाव के अलावा नए तालाबों, समोच्च खाई, बांधों का निर्माण किया जाएगा तथा मनरेगा के तहत मिट्टी के कटाव को नियंत्रित करने के लिए चेकडैम का निर्माण और दीवार निर्माण के कार्य सम्मिलित हैं. वर्ष 2020-21 में, वन विभाग ने योजना के तहत 2.76 करोड़ रुपये खर्च किए हैं, जिसमें 110 बड़े और छोटे तालाबों, 600 विभिन्न चेक डैम और दीवारों का निर्माण, वृक्षारोपण के साथ 12 हजार समोच्च खाई शामिल हैं.

हिमाचल पर्वत धारा योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के जल स्तर को बढ़ाना हैं. इसके लिए सतही जल के संरक्षण रखरखाव और भूजल स्तर को बनाए रखने के कार्य किये जाएगे. साथ ही साथ वन संरक्षण और वृक्षारोपण पर भी विशेष जोर दिया जाएगा. वनों की स्वच्छता और जंगलों की आग पर रोकथाम के लिए भी योजना में बजट का प्रावधान किया गया हैं. पर्वत धारा योजना अभी तक अपने पहले चरण में हैं, भविष्य में इसमें वृक्षारोपण के अतिरिक्त मृदा संरक्षण को भी सम्मिलित किया जाएगा. पहाड़ की चोटियों पर बर्फ तभी तक बनी रहेगी जब तक हमारा पर्यावरण संतुलित रहेगा जलवायु का संतुलन रहेगा. जल की धारा निरंतर तभी बह पाएगी जब हमारे जंगल सुरक्षित रहेगे. योजना बहुउद्देश्यों को लेकर शुरू की गई जिसका प्राथमिक लक्ष्य जल संरक्षण करना हैं.

Parvat Dhara Scheme का लाभ व पात्रता

हिमाचल पर्वत धारा में हजारों प्रदेश के परिवारों को निर्माण और पुनः निर्माण कार्यों के जरिये प्रत्यक्ष रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे. साथ ही किसानों को खेतों की सिंचाई तथा जल स्रोतों के निर्माण, रखरखाव आदि के लिए मनरेगा के तहत कार्य मिलेगा व आर्थिक सहायता भी प्राप्त होगी. इस योजना में पायलट प्रोजेक्ट के तहत 110 छोटे-बड़े तालाब, 600 विभिन्न प्रकार के चेक डैम व चेक वॉल, 12 हजार कन्टूर ट्रैंच के निर्माण कार्य होंगे. यदि इन कार्यों के सुखद परिणाम मिले तो राज्य के सभी हिस्सों में इसे लागू कर दिया जाएगा.

जल शक्ति विभाग प्रदेश के जल संकट के हालातों को लेकर काफी गम्भीर हैं. हिमाचल में एक तरफ पर्वत बर्फ से ढक जाते है तो दूसरी तरफ सूखे की मार भी झेलनी पड़ती हैं. कई वर्षों से अच्छी बारिश न होने से जल स्रोत सूखने की कगार पर आ गये हैं. इस साल बरसात कम हुई तो हालात और विकट हो जाएगे. हिमाचल पर्वत धारा योजना 2021 के प्रयासों से कुछ सुधार की सभी को अपेक्षा हैं.

यह भी पढ़े

उम्मीद करता हूँ दोस्तों हिमाचल पर्वत धारा योजना 2021 Himachal Pradesh Parvat Dhara Yojana का यह लेख आपकों पसंद आया होगा. यदि आपकों इस लेख में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *