पर्यायवाची शब्द (Paryayvachi Shabd)

पर्यायवाची शब्द (Paryayvachi Shabd) : प्रिय विद्यार्थियों हिंदी व्याकरण में Paryayvachi Shabd (synonym words) एक अहम अध्याय हैं. पर्यायवाची शब्द PDF नोट्स यहाँ उपलब्ध करवा रहे हैं प्रतियोगी परीक्षाओं में तैयारी के लिए पर्यायवाची आप आसानी से खोज पाएगे. अक्सर हम विद्यार्थियों के लिए मददगार विषयों पर लेख आपके लिए लाते हैं. hindi paryayvachi shabd pdf free download में हमने ऑनलाइन स्रोतों से आपके लिए अहम नोट्स डिक्शनरी के रूप में यहाँ संग्रहित किया हैं.

पर्यायवाची शब्द (Paryayvachi Shabd)

पर्यायवाची शब्द (Paryayvachi Shabd)

कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11,12 के विद्यार्थियों के लिए हिंदी की व्याकरण के वर्ण विचार में पर्यायवाची शब्द को याद करने ही पड़ते हैं. यहाँ से कुछ महत्वपूर्ण हिंदी नोट्स फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं.

पर्यायवाची शब्द

हम सभी मुख्य रूप से हिंदी भाषा में पर्यायवाची शब्दों का विस्तार से उपयोग करते हैं और जिनके बारे में हम स्कूलों में भी जानकारी हासिल करते हैं|  इन पर्यायवाची शब्दों को हम कई बार अपने बोलचाल की भाषा में या वाक्यांशों के जरिए भी लिखते और बोलते हैं। ऐसे में आज हम आपको पर्यायवाची शब्दों के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे  जिससे आपको भी इनके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी हासिल हो सके|

क्या है पर्यायवाची शब्द

पर्यायवाची शब्द उन शब्दों को कहा जाता है जिनके अर्थ बिल्कुल एक समान होते हैं और इनका उपयोग भी एक तरीके से किया जा सकता है। अगर आपको किसी एक शब्द का अर्थ नहीं मालूम है, ऐसे में  आप किसी दूसरे शब्द के माध्यम से भी उनके अर्थों को समझ सकते हैं|

 सामान्य रूप से देखा जाता है कि किसी भी भाषा में पर्यायवाची  शब्दों की संख्या ज्यादा होती है| ऐसे में हिंदी के अतिरिक्त संस्कृत भाषा में भी पर्यायवाची शब्दों के बारे में जाना जा सकता है। ऐसे में प्रत्येक शब्द का महत्व विषय और  स्थान  के अनुसार अलग-अलग होता है| 

 पर्यायवाची दो शब्दों  पर्याय और  वाची  से मिलकर बना होता है, जिसमें भाव हमेशा मिलता जुलता रहता है|

Telegram Group Join Now

पर्यायवाची शब्दों के प्रकार

आज तक हम सभी पर्यायवाची शब्दों के बारे में पढ़ते और सुनते आए हैं| ऐसे में हम अपने ज्ञान का विस्तार भी कर सकते हैं। लेकिन आज हम आपको पर्यायवाची शब्दों के प्रकार के बारे में जानकारी देने वाले हैं, जो आपके लिए बेहद ही आवश्यक जानकारी होगी|

  1. पूर्ण पर्यायवाची शब्द—- मुख्य रूप से ऐसे शब्द का उपयोग तब  होते हैं, जब वाक्य में किसी भी शब्द के स्थान पर उस शब्द का पर्यायवाची शब्द प्रयोग में लाने पर उसके अर्थ में कोई परिवर्तन नहीं आता है उसे पूर्ण पर्यायवाची शब्द कहा जाता है|  हिंदी व्याकरण  मैं सामान्य तौर पर पूर्ण पर्यायवाची शब्दों का ही उपयोग किया जाता है|
  2. अपूर्ण पर्यायवाची शब्द— ऐसे वाक्यों का उपयोग तब किया जाता है, जब दो पर्यायवाची शब्दों को एक दूसरे के स्थान पर प्रयोग में नहीं लाया जा सकता है| ऐसे शब्दों को अपूर्ण पर्यायवाची शब्द कहा जाता है।

कुछ मुख्य पर्यायवाची शब्द

  1. पर्वत — भूधर,  अचल, गिरी, पहाड़, नग, शिखर|
  2. पुत्री — बेटी, लड़की, आत्मजा,  तनया, सुता तनुजा दोहिता नंदिनी|
  3. पृथ्वी — धारा,  भूमि, वसुंधरा, धरती, वसुधा, भू, मही, इला|
  4. विष्णु— अच्युत, जनार्दन, चक्रपाणि,  विश्वंभर, मुकुंद, नारायण, ऋषिकेश, गोविंद|
  5. राजा—  महीप, महिपति, नरेश,  सम्राट, नरेंद्र, महिपाल|
  6. महादेव— शिव,  शंकर, चंद्रशेखर, शशि शेखर, नीलकंठ, पशु पति, त्रिलोचन, चंद्रचूड़, त्रयंबक|
  7. रात— रात्रि, निशा, रजनी,  यामिनी, त्रियामा, शर्वरी|
  8. हवा— पवन, अनिल,  प्रभंजन, वायु,  समीर, पवमान|
  9. शेर —    मृगराज,  केसरी,  केहरी, परशुराज,  वनराज|
  10. हाथी—  गज, मातंग, कुंजर,  करीश,  सारंग, हस्ती|
  11. गणेश— लंबोदर, विनायक, गणपति, एकदंत,  गजानन, गणनायक, पार्वती नंदन|
  12. गंगा— देवानंद, सुर सरिता, जानवी, देव नदी, मंदाकिनी,  भागीरथी|
  13. जल— पानी,   बारी, अंबु, सलिल,  अमृत, सारंग|
  14. अग्नि आग,  पावक,  वहींन,  शुची, हरि, ज्वालन|
  15. कमल —  जलज,  सरोज, पंकज,  नीरज, अरविंद, नलिन, राजीव|
  16. पति— वल्लभ,  स्वामी,  दूल्हा, भरतार,  सहचर, सुहाग, सोहर, साजन|
  17. पत्नी— भार्या, स्त्री,  गृहणी, बहु, प्राण प्रिय, औरत, अर्धांगिनी,  गृह लक्ष्मी|
  18.  चांद— चंद्रमा, हिमांशु,  सुधांशु, सुधाकर,  राकेश, शशि,  निशाचर, निशा पति, रजनीश, शशांक|
  19.  आनंद— आमोद, प्रमोद,  सुख, प्रसन्नता, उल्लास, खुशी|
  20.  आंख— नेत्र, नयन, लोचन,  चक्षु, दृष्टि, विलोचन|
  21. राक्षस—  निशाचर,  असुर, दनुज, दानव, देवारी,  यातूधान|
  22. दुर्गा— चंडी, चंडिका, चामुंडा, भवानी, भव्य, महागौरी, कल्याणी,  शैलपुत्री, अंबिका, अंबा|
  23. कृष्ण — मुरलीधर,  गिरिधर, कन्हैया, कान्हा, गोपीनाथ, द्वारिकाधीश|
  24. लक्ष्मी— इंदिरा, कमला,  सिंधुजा, पदमा, विष्णु प्रिया|
  25. रावण—   दक्षमुख, दशानन,  लंकापति, लंकेश|
  26. पत्थर—  पाषाण, पाहन, शीला, ऊपल,  प्रस्तर|
  27. राम— रघुनायक,  राघव, रघुपति, सियाराम, श्री राम, रघुनाथ| 
  28. अनुरोध– प्रार्थना,  निवेदन, विनती, याचना|
  29. किताब—   पुस्तक, ग्रंथ, पोथी|
  30. अंधकार— अंधेरा, अंधियारा,   तमस, तम|
  31. अनिवार्य— अपरिहार्य, परम आवश्यक, अति आवश्यक, अवश्यंभावी|
  32. असभ्य—   कुशील,  अभद्र, गवार, अशिष्ट, हिनाचार|
  33. अंगद— भुज बंद, बाजूबंद,   बली कुमार, बाली पुत्र, बाली तनय|
  34. अगला – प्रथम, सामने का, पहला, आगे आने वाला|
  35. अच्छा लगना—  शोभा देना, नजर में चढ़ना, पसंद आना, प्रिया लगना, सजना|
  36. अतिक्रमण— उल्लंघन,  अवज्ञा,  संक्रमण, अधिचार|
  37. अनियमित — असमान,  बेकायदा, अनियत|
  38. अंक —- संख्या, गिनती, क्रमांक, निशान, चिन्ह|
  39. अंकुश— प्रतिबंध, दबाव,  रोक, रुकावट,  नियंत्रण|
  40. अचानक—  अकस्मात, अनायास,  एकाएक,  देव योगा|
  41. अमृत— अमीय,  पीयूष, मधु, सोम, सुधा,  अमी|
  42. अश्व — घोड़ा, तुरंग,  बाजी,   रवि सूत|
  43.  अतीत— पूर्व काल, भूत काल, विगत,  गत|
  44. अनुकंपा– दया, कृपा,  मेहरबानी, कर्म|
  45. अप्सरा— परी, देवकन्या, अरुण प्रिया, सुख वनिता, देवांगना,  दिव्यांगना|
  46. अभय— निडर, साहसी, निर्भीक, निर्भय,  निश्चिंत|
  47. अभ्यास— रियाज, पुनरावृति, दोहराना|
  48. अनभिज्ञ— अज्ञानी, मोड, अबोध, नासमझ, अल्पज्ञ,  अकुशल|
  49. अशुद्ध — दूषित, गंदा, अपवित्र,   असूची|
  50. अध्ययन— अनुशीलन, पारायण, पठन पाठन, पढ़ना|
  51. अपराधी— मुजरिम, दोषी, कसूरवार, सदोष|
  52.  अंधा— नेत्रहीन, सूरदास,  अंध, प्रज्ञा चक्षु|
  53. आकृति— आकार, चेहरा,  नैन नक्श|
  54. आश्रया— सहारा, आधार,  भरोसा,  अवलंब|
  55. आदि— पहला,  प्रथम, आरंभिक, आदिमा|
  56. इंदिरा— लक्ष्मी,  रामा, कमला|
  57. इच्छा– लालसा, कामना, चाह, मनोरथ, आकांक्षा,  अभिलाषा, मनोकामना|
  58. इंद्रधनुष— इंद्रधनु, चक्रचाल|
  59. ईमानदार— सच्चा, निष्कपट,  सत्य निष्ठा, सत्य पारायण|
  60. ईश्वर— परमात्मा, परमेश्वर, ओम, ब्रह्मा, अनादि, आज, अगोचर, जगदीश|
  61.  अनाथ—   यतीम, बेसहारा, दीन,  निराश्रित|
  62. अभिप्राय— तात्पर्य,   मतलब, अर्थ, मनसा, व्याख्या,  टीका टिप्पणी|
  63. जंगल— अरण्य,  कानन, वन,  दावा,  विपिन, कांतर, दावा|
  64. अधिकार— हक, स्वामित्व,  कब जा, अधिपत्य|
  65. आंधी– तूफान,  चक्रवात, झंझावात,  बवंडर| 
  66. दोस्त — बंधु, मित्र, साथी, सखा, हितेषी, जीवनसाथी, सहायक|
  67. बिजली—   चपरा, चंचला, दामिनी, सौदामिनी, विद्युत, बिजुरी|
  68. बादल—  मेघ, जालंधर, पयोद, धन, पयोधर|
  69.  सांप–   भुजंग, विषधर, नाग, उरग|
  70. सागर — समुद्र,  वारिधि, सिंधु, नदीश,  जल धाम, अर्णव|

पर्यायवाची शब्दों का हिंदी में प्रयोग

सामान्य तौर पर हम पर्यायवाची शब्दों का हिंदी में प्रयोग करते हैं और कई बार इन पर्यायवाची शब्दों को उपयोग में लाते  हैं|  कई बार हम इनके सामान्य अवस्था के बारे में जानकारी प्राप्त नहीं कर पाते हैं|

पर्यायवाची शब्दों के माध्यम से हम खुद के वाक्य  को पूर्ण बना सकते हैं और किसी भी प्रकार की होने वाली दिक्कतों को भी दूर कर सकते हैं|  कई बार हमें पर्यायवाची शब्दों के बारे में पूरी जानकारी नहीं होती और  पर्यायवाची शब्दों के माध्यम से  खुद के ज्ञान को बढ़ाया भी जा सकता है|

पर्यायवाची शब्दों का मुख्य प्रयोग 

पर्यायवाची शब्दों का हम विभिन्न प्रकार से प्रयोग कर सकते हैं— 

  1. अपने वाक्यों की संरचना में|
  2.  हिंदी  वाक्य संरचना करने में|
  3.  अपने वाक्यों को बेहतर बनाने में|
  4.  सही दिशा में वाक्यों को ले जाने में|

Hindi Paryayvachi PDF Notes Free Download

  • Book Name : पर्यायवाची शब्द PDF नोट्स
  • Size : 600kb
  • Language : Hindi
  • Format : PDF

हिंदी व्याकरण नोट्स डाउनलोड करने के लिए यहां पर CLICK करें। 1000 हिंदी पर्यायवाची शब्द की पीडीऍफ़ यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे.

पर्यायवाची शब्द एवं परिभाषा | Synonyms & Paryayvachi Shabd In Hindi

हेलों दोस्तों, हिंदी व्याकरण का सबसे महत्वपूर्ण टॉपिक पर्यायवाची शब्द (Synonyms) आज हम पढ़ने जा रहे हैं. हिंदी विषय का कोई भी कम्पीटीशन एग्जाम हो उसमें पर्यायवाची का सवाल अवश्य ही पूछा जाता हैं.

यदि आप हिंदी के स्टूडेंट्स है और  महत्वपूर्ण  पर्यायवाची शब्दों की तलाश में है तो यहाँ आपके लिए पर्यायवाची शब्द क्या होते हैं, पर्यायवाची की परिभाषा, synonyms in hindi, Paryayvachi Shabd In Hindi में विस्तृत सूचि उपलब्ध करवा रहे हैं.

यदि आप किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे है जिसके पाठ्यक्रम में हिंदी व्याकरण है तो आपके लिए पर्यायवाची शब्द पढना अनिवार्य हो जाता हैं. यदि आप एक स्टूडेंट है तो भी आपकों हिंदी में पर्यायवाची शब्दों पर काफी अच्छी पकड़ रखनी चाहिए.

ऐसे शब्द जो दिखने में भिन्न होने पर भी समान अर्थ देते हैं. उन्हें पर्याय शब्द कहा जाता हैं. अंग्रेजी में इन्हें Synonyms के नाम से जाना जाता हैं.

हिंदी के पर्यायवाची शब्द – Paryayvachi Shabd In Hindi

पर्यायवाची शब्द की परिभाषा व अर्थ:- हिंदी भाषा में प्रयुक्त होने वाले सभी शब्द अपना स्वतंत्र अर्थ रखते हैं तथा कोई शब्द पूरी तरह से दूसरे शब्द का पर्याय नही होता, फिर भी कुछ समानताओं के आधार पर इन्हें पर्यायवाची मान लिया जाता हैं.

प्रत्येक पर्यायवाची शब्द का वाक्य में प्रयोग के आधार पर ही उचित अर्थ बैठता हैं. अतः भावानुसार पर्यायवाची शब्दों का ही प्रयोग करना चाहिए. पर्यायवाची शब्द गद्य या पद्य साहित्य को पुनरुक्ति दोष से ग्रसित होने से बचाते हैं. हिंदी के मुख्य पर्यायवाची शब्द (Important Paryayvachi Shabd In Hindi Language) दिए जा रहे हैं.

मुख्य पर्यायवाची शब्द

अ से आरम्भ होने वाले पर्यायवाची शब्द

  • अमृत- सुधा, पियूष, सोम, अमिय, जीवनोदक, अमी, मधु
  • अग्नि- वह्री, कृशानु, अनल, पावक, वैश्वानर, ज्वाला, धनंजय, दहन, आग
  • असुर- जातुधान, दैत्य, दानव, निशाचर, तमीचर, दनुज, राक्षस, मायावी, रजनीचर, सुरारि
  • अजेय- अपराजेय, अदम्य, अपराजित, अजित
  • अरण्य- विपिन, कानन, वन, अटवी, जंगल, कान्तार, दावा
  • अतिथि- अभ्यागत, आगन्तुक, पाहुना, मेहमान
  • अनुपम- अपूर्व, अभूतपूर्व, अनूठा, अनोखा, निराला, अद्वितीय
  • अंधकार- तम, तिमिर, तिमिस्त्र, अँधेरा, तमस
  • अपमान- निरादर, तिरस्कार, अवमानना, बेइज्जती
  • अश्व- घोटक, तुरंग, हय, वाजि, सैन्धव, घोड़ा
  • अन्य- पर, भिन्न, पृथक, और, दूसरा, अलग
  • अहंकार- अभिमान, दंभ, दर्प, घमंड
  • अनुचर- भृत्य, किंकर, दास, परिचारक, सेवक
  • अनार- शुकप्रिय, रामबीज, दाड़िम
  • अश्रु- आंसू, नयननीर, नयनजल, नैत्रनीर, नैत्रज.
  • अर्जुन- पार्थ, धनंजय, सव्यसाची,  गांडीवधारी
  • अटल- अविचल, स्थिर, दृढ़, अचल
  • अभिजात- संभ्रान्त, श्रेष्ठ, कुलीन, योग्य
  • अक्षर- हरफ, ब्रह्मा, अ आदि वर्ण, अविनाशी
  • अँधा- नेत्रहीन, चक्षुहीन, विवेकशून्य, दृष्टिहीन
  • अनाज– धान्य, खाद्यान्न, शस्य, अन्न, गल्ला
  • अकाल- सूखा, दुर्भिक्ष, भुखमरी, कमी
  • अधर- ओष्ठ, होंठ, रदच्छद, लब, किनारा
  • अधिकार- हक, स्वामित्व, स्वत्व, कब्जा, आधिपत्य
  • अनुमान- अंदाज, तखमीना, अटकल, कयास
  • अनाथ- यतीम, निराश्रित, बेसहारा, नाथहीन, दीन
  • अनुमति- इजाजत, आज्ञा, अनुज्ञा, मंजूरी, स्वीकृति
  • अप्सरा- देवांगना, सुरांगना, देवकन्या, सुखनिता, अरुणप्रिया
  • अवनति- अपकर्ष, हास, गिराव, उतार
  • अर्थ- व्याख्या, भाष्य, टीकाटिप्पणी, आशय
  • अशुद्ध- अपवित्र, दूषित, मलिन, गंदा, गलत
  • अस्त- ओझल, गायब, तिरोहित, छिपना

आ से आरम्भ होने वाले पर्यायवाची शब्द

  • आंगन- प्रांगण, बाखर, अंगन, बगर
  • आंधी- तूफान, चक्रवात, झंझावत, बवंडर
  • आँख- नेत्रड्र्ग, चक्षु, लोचन, नयन, अक्षि, द्रष्टि
  • आभूषण- जेवर, गहना, भूषण, आभरण, मंडन
  • आत्मा- चैतन्य, विभु, जीव, सर्वज्ञ, सर्वव्याप्त
  • आकाश- अम्बर, गगन, नभ, व्योम, अन्तरिक्ष, शून्य, पुष्कर, अनन्त, आसमान
  • आम- अम्बु, आम्र, रसाल, अमृतफल
  • आज्ञा- आदेश, निर्देश, हुक्म
  • आनन्द- आमोद, प्रमोद, प्रसन्नता, हर्ष, उल्लास, आह्लाद, मोद, मुद, खुशी, मजा
  • आयु- उम्रः, वय, अवस्था, जीवनकाल
  • आदर्श- मानक, प्रतिमान, नमूना, प्रतिरूप
  • आदि- प्रथम, आरम्भिक, पहला, अथ
  • आधार- अवलम्ब, सहारा
  • आपति- विपति, आपदा, संकट, मुसीबत
  • आश्रय- अवलम्ब, आश्रय, सहारा, प्रश्रय

इ-ई से आरम्भ होने वाले पर्यायवाची शब्द

  • इंद्र- महेंद्र, देवराज, देवेश, सुरपति, शचीपति, वासव, पुरंदर, सुरेश, सुरेन्द्र, देवेन्द्र
  • इच्छा- ईप्सा, आक्षासा, अभिलाषा, कामना, चाह, मनोरथ, ईहा, स्पृहा, लालसा
  • ईश्वर- जगदीश, परमेश्वर, प्रभु, ईश्, दीनबंधु, भगवान्, जगन्नाथ, अल्लाह
  • इर्ष्या- जलन, डाह, द्वेष, खार, रश्क, कुढ़न
  • ईनाम- उपहार, पुरस्कार, पारितोषिक, बख्शीश

उ-ऊ से आरम्भ होने वाले पर्यायवाची शब्द

  • उत्सव- समारोह, पर्व, त्योहार, जलसा, जश्न
  • उदय- प्रकट होना, आरोहण, चढ़ना
  • उत्तम- श्रेष्ठ, उत्कृष्ट, बेहतरीन, अच्छा
  • उदास- दुखी, रंजीदा, विरक्त, अनमना, अन्यमनस्क
  • उद्यान- उपवन, वाटिका, बाग, बगीचा, फुलवारी, गुलशन
  • उन्नति- प्रगतिउत्कर्ष, उन्नयन, उत्थान
  • उदाहरण- द्रष्टान्त, मिसाल, नजीर, नमूना
  • उद्देश्य- लक्ष्य, ध्येय, हेतु, प्रयोजन,
  • उद्यम- साहस, उद्योग, परिश्रम, व्यवसाय, धंधा
  • उपकार- भलाई, कल्याण, मदद, परोपकार
  • उपमा- तुलना, मिलान, साद्रश्य, समानता
  • उदर- पेट, कुक्ष, जठर
  • ऊंट- उष्ट्र, क्रमेलक, मरुयान, लम्बोष्ठ, महाग्रीव

ए-ऐ-ओ-औसे आरम्भ होने वाले पर्यायवाची शब्द

  • एकांत- सूना, निर्जन, जनशून्य
  • एश्वर्य- वैभव, संपन्नता, सम्रद्धि, प्रभुत्व
  • ओझल- गायब, लुप्त, अद्रश्य, अंतर्धान, तिरोभूत
  • ओस- तुषार, हिमकण, शबनम, हिमबिंदु

क से आरम्भ होने वाले पर्यायवाची शब्द

  • कमल- पद्म, अम्बुज, पुण्डरीक, अब्ज, अरविन्द, सरसिज, सरोज, जलज, पंकज, नीरज, वारिज, शतदल, राजीव, उत्पल
  • कल्पवृक्ष- कल्पद्रुम, कल्पतरु, देववृक्ष, सुरद्रुम, सुरतरु
  • कबूतर- हारीत, कपोत, परेवा, पारवत
  • कर्ण- अंगराज, सूतपुत्र, सूर्यपुत्र, कान
  • करुणा- दया, कृपा, अनुकम्पा
  • कर्ज- उधार, ऋण, देनदारी, देयता
  • कलंक- लांछन, दोष, दाग, तोहमत, धब्बा
  • कमर- कटी, श्रोणि, लंक, म्ध्यांग
  • कस्तूरी- म्रग्नाभि, म्रदमद, मद्लता
  • कवि- कल्पक, स्रष्टा, काव्यकार, रचनाकार
  • कलश- घट, घड़ा, गागर, गगरी, कलसा, घटिका
  • कामदेव- मन्मथ, मदन, मनोज, रतिपति, मकरध्वज, पंचशर, कन्दर्प, मनसिज, अनंग
  • काग-कौआ, करटक, वायस, पिशुन, काक
  • कान- कर्ण, श्रवण, श्रोत, श्रुतिपुट, श्रवनेंद्रिय
  • कान्ति- आभा, चमक, प्रभा, सुषमा, घ्युति
  • किरण- रशिम, कर, मरीचि, मयूख, अंशु
  • किनारा- तट, तीर, कूल, पुलिन, पर्यन्त
  • कुबेर- यक्षराज, धनाधिप, धनद, धनपति
  • कुत्ता- श्वान, शुनक, गंडक, कूकर

Paryayvachi Shabd In Hindi List

  • आग – अग्नि, अनल, हुतासन, पावक, कृशानु, वहनि, शिखी, वह्नि.
  • आँख – लोचन, नयन, नेत्र, चक्षु, दृष्टि.
  • शिक्षक – गुरु, अध्यापक, आचार्य, उपाध्याय.
  • शेर – केहरि, केशरी, वनराज, सिंह.
  • शेषनाग – अहि, नाग, भुजंग, व्याल, उरग, पन्नग, फणीश, सारंग.
  • आकाश – नभ, गगन, अम्बर, व्योम, आसमान, अर्श.
  • इन्द्राणि – इन्द्रवधू, मधवानी, शची, शतावरी, पोलोमी.
  • ईश्वर – परमात्मा, प्रभु, ईश, जगदीश, भगवान, परमेश्वर, जगदीश्वर, विधाता.
  • उज्जड़ – अशिष्ट, असभ्य, गँवार, जंगली, देहाती, उद्दंड, निरकुंश.
  • सहेली – आली, सखी, सहचरी, सजनी, सैरन्ध्री.
  • आनंद – हर्ष, सुख, आमोद, मोद, प्रमोद, उल्लास.
  • आश्रम – कुटी, विहार, मठ, संघ, अखाड़ा.
  • आत्मा – जीव, चैतन्य, चेतनतत्तव, अंतःकरण.
  • उजला – उज्ज्वल, श्वेत, सफ़ेद, धवल.
  • उजाड़ – जंगल, बियावान, वन.
  • अग्नि – आग, अनल, पावक.
  • अपमान – अनादर, अवज्ञा, अवहेलना, तिरस्कार.
  • अलंकार – आभूषण, गहना, जेवर.
  • अहंकार – दंभ, अभिमान, दर्प, मद, घमंड.
  • अमृत – सुधा, अमिय, पीयूष, सोम.
  • गज – हाथी, हस्ती, मतंग, कूम्भा, मदकल .
  • सुन्दर – कलत, ललाम, मंजुल, रुचिर, चारु, रम्य, मनोहर, सुहावना, चित्ताकर्षक, रमणीक, कमनीय, उत्कृष्ट, उत्तम, सुरम्य.
  • सन्ध्या – सायंकाल, शाम, साँझ, प्रदोषकाल, गोधूलि.
  • संसार – जग, विश्व, जगत, लोक, दुनिया.
  • गाय – गौ, धेनु, भद्रा.
  • असुर – दैत्य, दानव, राक्षस, निशाचर, रजनीचर, दनुज, रात्रिचर, तमचर.
  • अतिथि – मेहमान, अभ्यागत, आगन्तुक.
  • साँप – अहि, भुजंग, ब्याल, सर्प, नाग, विषधर, उरग, पवनासन.
  • सूर्य – रवि, सूरज, दिनकर, प्रभाकर, आदित्य, दिनेश, भास्कर, दिनकर, दिवाकर, भानु, आदित्य.
  • समूह – दल, झुंड, समुदाय, टोली, जत्था, मण्डली, वृंद, गण, पुंज, संघ, समुच्चय.
  • सभा – अधिवेशन, संगीति, परिषद, बैठक, महासभा.
  • उक्ति – कथन, वचन, सूक्ति.
  • उग्र – प्रचण्ड, उत्कट, तेज, तीव्र, विकट.
  • उचित – ठीक, मुनासिब, वाज़िब, समुचित, युक्तिसंगत, न्यायसंगत, तर्कसंगत.
  • उच्छृंखल – उद्दंड, अक्खड़, आवारा, निरकुंश, मनमर्जी, स्वेच्छाचारी.
  • अश्व – हय, तुरंग, घोड़ा, घोटक, बाजि, सैन्धव.
  • इच्छा – अभिलाषा, चाह, कामना, लालसा, मनोरथ, आकांक्षा, अभीष्ट.
  • इन्द्र – सुरेश, सुरेन्द्र, देवेन्द्र, सुरपति, शक्र, पुरंदर, देवराज, महेन्द्र, शचीपति.
  • उत्कर्ष – समृद्धि, उन्नति, प्रगति, उठान.
  • सोना – स्वर्ण, कंचन, कनक, हेम, कुंदन.
  • सिंह – केसरी, शेर, मृगपति, वनराज, शार्दूल, नाहर, सारंग, मृगराज.
  • समुद्र – सागर, पयोधि, उदधि, पारावार, नदीश, जलधि, सिंधु, रत्नाकर, वारिधि.
  • तरुवर – वृक्ष, पेड़, द्रुम, तरु, पादप.
  • तलवार – असि, कृपाण, करवाल, चन्द्रहास.
  • तालाब – सरोवर, जलाशय, पुष्कर, पोखरा.
  • सम – सर्व, समस्त, सम्पूर्ण, पूर्ण, समग्र, अखिल, निखिल.
  • समीप – सन्निकट, आसन्न, निकट, पास.
  • स्त्री – सुन्दरी, कान्ता, कलत्र, वनिता, नारी, महिला, अबला, ललना, औरत, कामिनी, रमणी.
  • सुगंधि – सौरभ, सुरभि, महक, खुशबू.
  • स्वर्ग – सुरलोक, देवलोक, दिव्यधाम, ब्रह्मधाम, द्यौ, परमधाम, त्रिदिव, दयुलोक.
  • उत्कृष्ट – उत्तम, उन्नत, श्रेष्ठ, अच्छा, बढ़िया, उम्दा.
  • उत्कोच – घूस, रिश्वत.
  • उत्पत्ति – उद्गम, पैदाइश, जन्म, उद्भव, सृष्टि, आविर्भाव, उदय.
  • उद्धार – मुक्ति, छुटकारा, निस्तार.
  • उपाय – युक्ति, साधन, तरकीब, तदबीर, यत्न, प्रयत्न.
  • ऊधम – उपद्रव, उत्पात, धूम, हुल्लड़, हुड़दंग, धमाचौकड़ी.
  • ऐक्य – एकत्व, एका, एकता, मेल.
  • ऐश्वर्य – समृद्धि, विभूति.
  • ओज – तेज, शक्ति, बल, वीर्य.
  • ओंठ– ओष्ठ, अधर, होंठ.
  • औचक – अचानक, यकायक, सहसा.
  • औरत – स्त्री, जोरू, घरनी, घरवाली.
  • किसान – कृषक, भूमिपुत्र, हलधर, खेतिहर, अन्नदाता.
  • कृष्ण – राधापति, घनश्याम, वासुदेव, माधव, मोहन, केशव, गोविन्द, गिरधारी.
  • कान – कर्ण, श्रुति, श्रुतिपटल, श्रवण श्रोत, श्रुतिपुट.
  • कोयल – कोकिला, पिक, काकपाली, बसंतदूत, सारिका, कुहुकिनी, वनप्रिया.
  • क्रोध – रोष, कोप, अमर्ष, कोह, प्रतिघात.
  • कीर्ति – यश, प्रसिद्धि.
  • ऋषि – मुनि, साधु, यति, संन्यासी, तत्वज्ञ, तपस्वी.
  • कच – बाल, केश, कुन्तल, चिकुर, अलक, रोम, शिरोरूह.
  • कमल– नलिन, अरविंद, उत्पल, राजीव, पद्म, पंकज, नीरज, सरोज, जलज, जलजात, शतदल, पुण्डरीक
  • कबूतर – कपोत, रक्तलोचन, पारावत.
  • कामदेव – मदन, मनोज, अनंग, काम, रतिपति, पुष्पधन्वा, मन्मथ
  • कण्ठ – ग्रीवा, गर्दन, गला.
  • कृपा – प्रसाद, करुणा, दया, अनुग्रह.
  • अनुपम – अपूर्व, अतुल्य, अनोखा, अद्भुत, अनन्य.
  • अर्थ – धन, द्रव्य, मुद्रा, दौलत, वित्त, पैसा.
  • उपवन – बाग़, बगीचा, उद्यान, वाटिका, गुलशन.
  • किताब – पोथी, ग्रन्थ, पुस्तक.
  • किनारा – तीर, कूल, कगार, तट.
  • कपड़ा – चीर, वसन, पट, वस्त्र, परिधान.
  • किरण – ज्योति, प्रभा, रश्मि, दीप्ति.
  • खग – पक्षी, विहग, नभचर, अण्डज, पखेरू.
  • खंभा – स्तूप, स्तम्भ, खंभ.
  • गंगा – देवनदी, मंदाकिनी, भगीरथी, विश्नुपगा, देवपगा, देवनदी, जाह्नवी, त्रिपथगा.
  • गणेश – विनायक, गजानन, गौरीनंदन, गणपति, गणनायक, शंकरसुवन, लम्बोदर, एकदन्त.
  • गृह – घर, सदन, भवन, धाम, निकेतन, निवास, आलय, आवास.
  • गर्मी – ताप, ग्रीष्म, ऊष्मा, गरमी.
  • गुरु – शिक्षक, आचार्य, उपाध्याय.
  • घ, च से शुरू होने वाले पर्यायवाची शब्द :
  • घट – घड़ा, कलश, कुम्भ, निप.
  • घर – आलय, आवास, गृह, निकेतन, निवास, भवन, वास, वास-स्थान, शाला, सदन.
  • घृत – घी, अमृत, नवनीत.
  • घास – तृण, दूर्वा, दूब, कुश.
  • चरण – पद, पग, पाँव, पैर, पाद.
  • चतुर – विज्ञ, निपुण, नागर, पटु, कुशल, दक्ष, प्रवीण, योग्य.
  • चंद्रमा – चाँद, चन्द्र, शशि, रजनीश, निशानाथ, सोम, कलानिधि.
  • चाँदनी – चन्द्रिका, कौमुदी, ज्योत्सना, चन्द्रमरीचि, उजियारी, चन्द्रप्रभा, जुन्हाई.
  • चाँदी – रजत, सौध, रूपा, रूपक, रौप्य, चन्द्रहास.
  • चोटी – मूर्धा, सानु, शृंग.
  • छ, ज से शुरू होने वाले पर्यायवाची शब्द
  • छतरी – छत्र, छाता.
  • जल – सलिल, वारि, नीर, तोय, अम्बु, पानी, पय, पेय.
  • जगत – संसार, विश्व, जग, भव, दुनिया, लोक
  • जीभ – रसज्ञा, जिह्वा, वाणी, वाचा, जबान
  • जंगल – कानन, वन, अरण्य, गहन, कांतार, बीहड़, विटप.
  • जेवर – गहना, अलंकार, भूषण.
  • ज्योति – आभा, छवि, द्युति, दीप्ति, प्रभा.
  • झूठ – असत्य, मिथ्या.
  • तीर – शर, बाण, अनी, सायक.
  • दास – सेवक, नौकर, चाकर, अनुचर, भृत्य.
  • ब्राह्मण – द्विज, भूदेव, विप्र, महीदेव, भूमिसुर, भूमिदेव.
  • भय – भीति, डर, विभीषिका.
  • भाई – तात, अनुज, अग्रज, भ्राता, भ्रातृ.
  • मोर – कलापी, नीलकंठ, नर्तकप्रिय.
  • मधु – शहद, रसा, शहद.
  • दधि – दही, गोरस, मट्ठा.
  • दरिद्र – निर्धन, ग़रीब, रंक, कंगाल, दीन.
  • दिन – दिवस, याम, दिवा, वार.
  • दीन – ग़रीब, दरिद्र, रंक, अकिंचन, निर्धन, कंगाल.
  • युवति – युवती, सुन्दरी, श्यामा, किशोरी, तरुणी, नवयौवना.
  • रमा – इन्दिरा, हरिप्रिया, श्री, लक्ष्मी, कमला, पद्मा, पद्मासना, समुद्रजा, श्रीभार्गवी, क्षीरोदतनया.
  • राधिका – राधा, ब्रजरानी, हरिप्रिया, वृषभानुजा.
  • लड़का – बालक, शिशु, सुत, किशोर, कुमार.
  • शहद – पुष्परस, मधु, आसव, रस, मकरन्द.
  • षडानन – षटमुख, कार्तिकेय, षाण्मातुर.
  • हाथी – हस्ती, कुंजर, कूम्भा, मतंग, वारण, गज, द्विप, करी, मदकल.
  • हस्त – हाथ, कर, पाणि, बाहु, भुजा.
  • रात – रात्रि, रैन, रजनी, निशा, यामिनी, निशि, यामा, विभावरी.
  • राजा – नृप, नृपति, भूपति, नरपति, भूपाल, नरेश, महीपति, अवनीपति.
  • रात्रि – निशा, रैन, रात, यामिनी, शर्वरी, तमस्विनी, विभावरी.
  • दीपक – दीप, दीया, प्रदीप.
  • दुःख – पीड़ा,कष्ट, व्यथा, वेदना, संताप, शोक, खेद, पीर.
  • दूध – दुग्ध, क्षीर, पय, गौरस, स्तन्य.
  • दुष्ट – पापी, नीच, दुर्जन, अधम, खल, पामर.
  • दाँत – दन्त.
  • दर्पण – शीशा, आरसी, आईना.
  • दुर्गा – चंडिका, भवानी, कल्याणी, महागौरी, कालिका, शिवा, चण्डी, चामुण्डा.
  • देवता – सुर, देव.
  • भूषण – जेवर, गहना, आभूषण, अलंकार.
  • भौंरा – मधुप, मधुकर, द्विरेप, अलि, षट्पद, भृंग, भ्रमर.
  • मनुष्य – आदमी, नर, मानव, मानुष, मनुज.
  • मदिरा – शराब, हाला, आसव, मद.
  • देह – काया, तन, शरीर.
  • धन – दौलत, संपत्ति, सम्पदा, वित्त.
  • धरती – धरा, धरती, वसुधा, ज़मीन, पृथ्वी, भू, भूमि, धरणी, वसुंधरा, अचला, मही, रत्नगर्भा.
  • धनुष – चाप, शरासन, कमान, कोदंड, धनु.
  • नदी – सरिता, तटिनी, सरि, सारंग, तरंगिणी, दरिया, निर्झरिणी.
  • नया – नूतन, नव, नवीन, नव्य.
  • नाव – नौका, तरणी, तरी.
  • पवन – वायु, हवा, समीर, वात, मारुत, अनिल.
  • पहाड़ – पर्वत, गिरि, अचल, शैल, भूधर, महीधर.
  • पक्षी – खेचर, दविज, पतंग, पंछी, खग, चड़िया, गगनचर, पखेरू, विहंग, नभचर.
  • पति – स्वामी, प्राणाधार, प्राणप्रिय, प्राणेश.
  • अंधकार – तम, तिमिर, अँधेरा, तमस, अंधियारा.
  • आम – रसाल, आम्र, सौरभ, अमृतफल
  • आंसू – नेत्रजल, नयनजल, चक्षुजल, अश्रु.
  • षंड – हीजड़ा, नपुंसक, नामर्द.
  • पत्नी – भार्या, वधू, वामा, अर्धांगिनी, सहधर्मिणी, गृहणी, बहु, वनिता, दारा, जोरू, वामांगिनी.
  • पुत्र – बेटा, आत्मज, सुत, वत्स, तनुज, तनय, नंदन.
  • पुत्री – बेटी, आत्मजा, तनूजा, सुता, तनया.
  • पुष्प – फूल, सुमन, कुसुम, मंजरी, प्रसून.
  • फूल – पुष्प, सुमन, कुसुम, गुल, प्रसून.
  • बादल – मेघ, घन, जलधर, जलद, वारिद, पयोधर.
  • बालू – रेत, बालुका, सैकत.
  • बन्दर – वानर, कपि, हरि.
  • बिजली – घनप्रिया, इन्द्र्वज्र, चंचला, सौदामनी, चपला, दामिनी, तड़ित, विद्युत.
  • बगीचा – बाग़, वाटिका, उपवन, उद्यान, फुलवारी, बगिया.
  • बाण – सर, तीर, सायक, विशिख.
  • शिव – भोलेनाथ, शम्भू, त्रिलोचन, महादेव, नीलकंठ, शंकर.
  • शरीर – देह, तनु, काया, कलेवर, अंग, गात.
  • शत्रु – रिपु, दुश्मन, अमित्र, वैरी, अरि, विपक्षी.
  • सीता – वैदेही, जानकी, भूमिजा, जनकतनया, जनकनन्दिनी, रामप्रिया.
  • बाल – कच, केश, चिकुर, चूल.
  • छली – छलिया, कपटी, धोखेबाज.
  • छवि – शोभा, सौंदर्य, कान्ति, प्रभा.
  • छानबीन – जाँच, पूछताछ, खोज, अन्वेषण, शोध.
  • छैला – सजीला, बाँका, शौकीन.
  • छोर – नोक, कोर, किनारा, सिरा.
  • ब्रह्मा – विधाता, स्वयंभू, प्रजापति, पितामह, चतुरानन, विरंचि, अज.
  • बलदेव – बलराम, बलभद्र, हलायुध, रोहिणेय.
  • बहुत – अनेक, अतीव, अति, बहुल, प्रचुर, अपरिमित, प्रभूत, अपार, अमित, अत्यन्त, असंख्य.
  • मृग – हिरण, सारंग, कृष्णसार.
  • मछली – मीन, मत्स्य, जलजीवन, शफरी, मकर.
  • माता – जननी, माँ, अंबा, जनयत्री, अम्मा.
  • मित्र – सखा, सहचर, साथी, दोस्त.
  • संसार – लोक, जग, जहान, जगत, विश्व.
  • हनुमान – पवनसुत,पवनकुमार, महावीर, रामदूत, मारुततनय, अंजनीपुत्र, आंजनेय, कपीश्वर, केशरीनंदन, बजरंगबली, मारुति.
  • हिमांशु – हिमकर, निशाकर, क्षपानाथ, चन्द्रमा, चन्द्र, निशिपति.
  • स्वर्ण – सुवर्ण, कंचन, हेन, हारक, जातरूप, सोना, तामरस, हिरण्य.
  • सरस्वती – गिरा, शारदा, भारती, वीणापाणि, विमला, वागीश, वागेश्वरी.
  • हिमालय – हिमगिरी, हिमाचल, गिरिराज, पर्वतराज, नगेश.
  • हिरण – सुरभी, कुरग, मृग, सारंग, हिरन.
  • होंठ – अक्षर, ओष्ठ, ओंठ.
  • लड़की – बालिका, कुमारी, सुता, किशोरी, बाला, कन्या.
  • लक्ष्मी – कमला, पद्मा, रमा, हरिप्रिया, श्री, इंदिरा, पद्मजा, सिन्धुसुता, कमलासना.
  • लक्ष्मण – लखन, शेषावतार, सौमित्र, रामानुज, शेष.
  • लौह – अयस, लोहा, सार.
  • लता – बल्लरी, बल्ली, बेली.
  • वायु – हवा, पवन, समीर, अनिल, वात, मारुत.
  • वसन – अम्बर, वस्त्र, परिधान, पट, चीर.
  • विधवा – अनाथा, पतिहीना.
  • विष – ज़हर, हलाहल, गरल, कालकूट.
  • वृक्ष – पेड़, पादप, विटप, तरू, गाछ, दरख्त, शाखी, विटप, द्रुम.
  • विष्णु – नारायण, चक्रपाणी.
  • विश्व – जगत, जग, भव, संसार, लोक, दुनिया.
  • विद्युत – चपला, चंचला, दामिनी, सौदामिनी, तड़ित, बीजुरी, घनवल्ली, क्षणप्रभा, करका.
  • बारिश – वर्षण, वृष्टि, वर्षा, पावस, बरसात.
  • वीर्य – जीवन, सार, तेज, शुक्र, बीज.
  • वज्र – कुलिस, पवि, अशनि, दभोलि.
  • विशाल – विराट, दीर्घ, वृहत, बड़ा, महान.
  • वृक्ष – गाछ, तरु, पेड़, द्रुम, पादप, विटप, शाखी.
  • स, श, और ष से शुरू होने वाले पर्यायवाची शब्द :
  • शुभ्र – गौर, श्वेत, अमल, वलक्ष, शुक्ल, अवदात
  • हंस – कलकंठ, मराल, सिपपक्ष, मानसौक.
  • हृदय – छाती, वक्ष, वक्षस्थल, हिय, उर.
  • हाथ – हस्त, कर, पाणि.
  • यम – सूर्यपुत्र, जीवितेश, कृतांत, अन्तक, दण्डधर, कीनाश, यमराज.
  • यमुना – कालिन्दी, सूर्यसुता, रवितनया, तरणि-तनूजा, तरणिजा, अर्कजा, भानुजा.
  • रामचन्द्र – सीतापति, राघव, रघुपति, रघुवर, रघुनाथ, रघुराज, रघुवीर,  जानकीवल्लभ, कौशल्यानन्दन.
  • रावण – दशानन, लंकेश, लंकापति, दशशीश, दशकंध.
  • खल – दुर्जन, दुष्ट, घूर्त, कुटिल.
  • खून – रक्त, लहू, शोणित, रुधिर.
  • उजाला – प्रकाश, रोशनी, चाँदनी

Paryayvachi Shabd Hindi Test Series

हिंदी ग्रामर/ व्याकरण टेस्ट सीरिज में हम आज पर्यायवाची शब्द पर महत्वपूर्ण ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर क्विज शेयर कर रहे हैं. पर्यायवाची शब्द के प्रश्न हर प्रतियोगी परीक्षा में पूछे जाते हैं मगर असंख्य शब्द होने के कारण सभी को याद किया जाना भी सम्भव नहीं हैं. ऐसे में आज के टेस्ट में हम विगत परीक्षाओं में पूछे गये महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर शामिल किये गये हैं. चलिए अब क्विज की ओर चलते हैं.

[WATU 54]

यह भी पढ़े

उम्मीद करता हूँ दोस्तों पर्यायवाची शब्द (Paryayvachi Shabd) का यह लेख आपको पसंद आया होगा. यदि आपको पर्यायवाची शब्दों के बारे में दी जानकारी पसंद आई हो तो अपने फ्रेड्स के साथ भी शेयर करें.

इस प्रकार से आज हमने विभिन्न प्रकार के पर्यायवाची शब्द के बारे में जानकारी हासिल की है जो कहीं ना कहीं हमारे लिए उपयोगी होते हैं और इन्हे हम अन्य लोगों को ही समझा कर अपने वाक्यों को सही तरीके से बना सकते हैं और उन्हें निश्चित रूप से ही आगे बढ़ा सकते हैं|

अगर आपको किसी प्रकार के पर्यायवाची का ज्ञान नहीं है, तो ऐसे में हमने एक लंबी लिस्ट दे रखी है जिसमें आप अपने शब्द का पर्यायवाची ढूंढ सकते हैं और जानकारी ले सकते हैं। पर्यायवाची शब्दों के माध्यम से हम अपने ज्ञान के भंडार को बढ़ा सकते हैं जिससे कि किसी भी प्रकार की दिक्कत ना आने पाए|

उम्मीद करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आ रहा होगा इसे अंत तक पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद|

1 thought on “पर्यायवाची शब्द (Paryayvachi Shabd)”

Leave a Comment