लोकल एरिया नेटवर्क क्या है | What Is LAN In Hindi

What Is LAN In Hindi : जब कभी आप बैंक अस्पताल या कोई कार्यालय में गये हो और गौर किया हो तो उनके अलग अलग सेक्शन में लगे कंप्यूटर एक दूसरे से कैसे जुड़े होते हैं. एक क्षेत्र में विद्यमान कंप्यूटरों को जोड़ने वाले एक नेटवर्क का नाम LAN हैं.

मूल रूप से डाटा शेयरिंग के लिए इस नेटवर्क को उपयोग में लाया जाता हैं. अगर आप जानना चाहते है कि LAN क्या है LAN क्या काम आता है तथा यह तकनीक किस तरह काम करती है.

इस आर्टिकल में हम LAN के बारे में समस्त जानकारी सरल भाषा में देगे, आप हमारे साथ अंत तक बने रहे, उम्मीद करते है आपको सभी सवालों का जवाब मिल जाएगा.

तो चलिए शुरू करते है तथा जानते है कि LAN क्या होता है हिंदी में.

लोकल एरिया नेटवर्क क्या है | What Is LAN In Hindi

LAN क्या है (What is LAN in Hindi)

LAN जिसका फुल फॉर्म होता है लोकल एरिया नेटवर्क इसे हिंदी में स्थानीय क्षेत्रीय जालस्थल कह सकते हैं. यह एक प्रकार का नेटवर्क है जिसमें एक से अधिक कंप्यूटर सेट एक दूसरे से जुड़े होते हैं.

घर, ऑफिस, स्कूल, कॉलेज, हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन आदि में LAN का उपयोग इन्टरनेट एवं अन्य डाटा ट्रान्सफर के लिए भी किया जाता हैं. LAN में एक डिवाइस से लेकर हजारों डिवाइस एक समय कनेक्ट किए जा सकते हैं.

Telegram Group Join Now

LAN के द्वारा एक कंप्यूटर में सुरक्षित की गई फाइल, एक्सेल, एम एस वर्ड, ईमेल, प्रिंटर आदि को साझा किया जा सकता हैं. LAN नेटवर्क तकनीक की एक सीमा यह है कि इसे एक क्षेत्र की परिधि में ही उपयोग किया जा सकता हैं.

लेन नेटवर्क के कंपोनेंट्स की बात की जाए तो इसमें कोई विशेष हार्डवेयर टूल्स की जरूरत नहीं होती हैं. LAN सम्पर्क को स्थापित करने के लिए नेटवर्क एडप्टर, मीडियम, केबल, पावर, राउटर की जरूरत पड़ती हैं.

एक LAN नेटवर्क की रेंज क्षमता की बात की जाए तो यह 100 मी से 1000 मीटर तक के क्षेत्र को कवर कर सकता हैं. अगर इससे बड़े दायरे में कंप्यूटरों को लिंक करना हो तो WAN व MAN नेटवर्क को स्थापित किया जा सकता हैं.

LAN सम्पर्क को स्थापित करने के दो तरीके प्रचलित हैं. पहला पारम्परिक जिसमें केबल के जरिये एक डिवाइस को दूसरे से कनेक्ट किया जाता हैं. वही दूसरा वायरलेस कनेक्शन हैं. जिसमें केबल की जरूरत नहीं पड़ती हैं.

अब तक हम जान चुके है कि LAN नेटवर्क क्या होता हैं. एक एक करके LAN और नेटवर्क के बारे में थोड़ा जान लेते हैं.

नेटवर्क क्या है ? (what is network)

किसी भी माध्यम के द्वारा अगर दो कंप्यूटर को डाटा शेयरिंग या अन्य पर्पज के लिए आपस में कनेक्ट किया जाता हैं तो यह तकनीक नेटवर्क कहलाता हैं. इसे केबल के द्वारा अथवा केबल के बिना भी कनेक्ट किया जा सकता हैं.

अगर केबल नेटवर्क की बात करे तो यह पियर केबल, कोअक्सिअल केबल अथवा फाइबर ऑप्टिक्स केबल हो सकती हैं. तथा बिना केबल के कनेक्शन की बात करे तो यह रेडियो वेव, ब्लूटूथ इन्फ्रारेड अथवा सेटेलाइट माध्यम हो सकता हैं.

इंटरनेट आज के दौर में नेटवर्क का सबसे बेहतरीन उदाहरण है जिसके जरिये लाखों कंप्यूटर एक दूसरे से जुड़े होते हैं. नेटवर्क कंप्यूटर, सर्वर, मेनफ्रेम, नेटवर्क डिवाइस अथवा अन्य प्रकार के डिवाइस से जुड़ा सिस्टम है जिनमें डेटा शेयर एवं एक्सेस करने की अनुमति भी रहती हैं.

LAN का पूरा नाम क्या है (LAN Full Form in Hindi )

LAN Full Form In Hindi  – Local Area Network

LAN का पूरा नाम लोकल एरिया नेटवर्क है इसे हिंदी में स्थानीय क्षेत्र जालस्थल कहा जाता हैं. इसका उपयोग दो अथवा दो से अधिक कंप्यूटर डिवाइस को आपस में कनेक्ट करने के लिए किया जाता हैं.

अगर सरल शब्दों में बात करे तो घर, ऑफिस अपार्टमेन्ट को कवर करने वाले कंप्यूटर नेटवर्क को LAN या लोकल एरिया नेटवर्क कहा जाता हैं.

LAN के प्रकार (Type of LAN in Hindi)

सामान्य तौर पर, LAN दो प्रकार के होते हैं –

  • क्लाइंट सर्वर LAN
  • पीयर-टू-पीयर LAN

इनके बारे में संक्षिप्त में जान लेते हैं.

क्लाइंट सर्वर लेन

इस LAN नेटवर्क में कमर्शियल क्लाइंट के सभी डिवाइस एक केन्द्रीय सर्वर के साथ जुड़े होते हैं. जो आपस में फाइल स्टोरेज, एप्लीकेशन एक्सेस, डिवाइस एक्सेस तथा नेटवर्क पर आने वाले लोगों को मैनेज करते हैं.

ऑफिस, स्कूल अथवा कॉलेज में क्लाइंट सर्वर लेन का उपयोग किया जाता है जिसका एक्सेस बिना केबल के भी इंटरनेट के माध्यम से किया जा सकता हैं.

पीअर टू पीअर लेन

पीयर-टू-पीयर नेटवर्क में किसी एक नेटवर्क को एडमिनिस्ट्रेटर की भूमिका नहीं दी जाती है न ही कोई डेडिकेटिड (Dedicated) सर्वर काम करता हैं. बल्कि सभी कंप्यूटर समान रूप से जुड़े होते हैं.

पीयर -टू- पीयर नेटवर्क के अंतर्गत हर कंप्यूटर डिवाइस क्लाइंट एवं सर्वर दोनों रूपों में रिक्वेस्ट व रिस्पोस को सम्पन्न करता हैं. आमतौर पर इस नेटवर्क का उपयोग घरों में किया जाता हैं. जिसमें कभी कनेक्टेड डिवाइस वायरलेस तरीके से जुड़े होते हैं.

लेन नेटवर्क की विशेषताये (Features if LAN)

  • इसका उपयोग एक सिमित क्षेत्र में ही हो सकता है जैसे घर, ऑफिस या अपार्टमेन्ट तक
  • अन्य सिस्टम नेटवर्क की तुलना में LAN में Data Transfer Speed अधिक होती है.
  • अन्य आउटसोर्स नेटवर्क को रेंट पर नहीं लेना पड़ता हैं.
  • डाटा का सुरक्षित उपयोग व शेयरिंग को सेफ बनाता है.
  • अपने सभी कंप्यूटरों के डाटा को आसानी से मैनेज करने के योग्य बनाता है.

लोकल एरिया नेटवर्क का उपयोग (Uses of LAN in Hindi )

अगर बात की जाए LAN के उपयोग कि तो यह डाटा शेयरिंग को घर, ऑफिस आदि के आसान बनाता हैं. इसकी सहायता से हार्डवेयर, सोफ्टवेयर, सिस्टम फाइल तथा अन्य डाटा आसानी से साझा किया जा सकता हैं.

अल्प खर्च में अधिकतम कार्य इसकी मदद से किया जा सकता हैं. इसे इस तरह परिभाषित किया जा सकता है कि LAN का उपयोग एक प्रतिबंधित क्षेत्र में डेटा साझाकरण के लिए किया जाता हैं. सभी का डेटा केन्द्रीय सर्वर में स्टोर होता है जो एडमिनिस्ट्रेटर की भूमिका निभाता हैं.

लोकल एरिया नेटवर्क के फायदे (Advantage of LAN in Hindi)

चलिए अब हम LAN के लाभ क्या क्या है जानते है.

  • लेन नेटवर्क की सहायता से कंप्यूटर डिवाइस जैसे प्रिंटर, स्कैनर, मोडेम, डीवीडी-रोम ड्राइव आदि को साझा किया जा सकता हैं इससे अलग अलग तरह के हार्डवेयर परसेज के खर्च से निजात मिल जाती हैं.
  • एक ही सॉफ्टवेयर KEY को सभी कंप्यूटर में इंस्टाल किया जा सकता हैं. जिसके कारण अलग अलग डिवाइस के लिए सॉफ्टवेयर का भुगतान नहीं करना पड़ता हैं.
  • सभी तरह की कंप्यूटर फाइल, डेटा तथा प्रोग्राम को एक से दूसरे डिवाइस में शेयर किया जा सकता हैं.
  • सभी LAN डिवाइस के एडमिनिस्ट्रेटर के रूप में केन्द्रीय सर्वर काम करता है जो रिकवरी तथा सुरक्षा देता हैं.
  • इन्टरनेट के द्वारा सभी डिवाइस आपस में जुड़े रहते हैं.
  • सिस्टम इस्टालेशन में वन टाइम खर्च आता है, इसके बाद अल्प खर्चे में सिस्टम बेहतरीन काम अंजाम देता हैं.

लोकल एरिया नेटवर्क के नुकसान (Disadvantage of LAN in Hindi )

कई तरह के फायदे होने के साथ साथ LAN नेटवर्क के कई नुक्सान भी है जो इस प्रकार हैं.

  • LAN नेटवर्क के सेटअप में सर्वर स्थापन्न तथा कई तरह के सॉफ्टवेयर की जरूरत पड़ती है जो काफी खर्चीले होते हैं. हार्डवेयर के रूप में केबल, राउटर, स्विच, मॉडेम भी बजट पर भारी पड़ते है.
  • लोकल एरिया नेटवर्क से जुड़े कंप्यूटर में किसी तरह की प्राइवेसी नहीं रहती हैं. कनेक्टेड सभी यूजर्स डिवाइस की फाइल्स और डेटा में आसानी से एक्सेस कर सकते हैं.
  • LAN में एक केन्द्रीय एडमिनिस्ट्रेटर की आवश्यकता होती है जो इंस्टॉलेशन से लेकर सभी तरह के कंट्रोल और बेकअप अपने पास रखता हैं.
  • लोकल एरिया नेटवर्क की एक कमी यह भी है कि इसे केवल सिमित रेंज में ही उपयोग में लाया जा सकता हैं.

मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क

Metropolitan Area Network (MAN) भी LAN तथा WAN की तरह एक नेटवर्क है, जो एक शहर से दूसरे शहर को जोड़ता है. मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क की मदद से किसी इमेज, डाटा या वौइस् को 200MB प्रति सैकंड की गति से 75 किमी दूरी तक भेजा जा सकता हैं.

MAN लोकल एरिया नेटवर्क से कुछ बड़ा तथा वेन WAN से छोटा होता हैं. इसमें एक शहर के सभी कंप्यूटर को कनेक्ट किया जा सकता हैं. उच्च गति के इस नेटवर्क को एक ही नेटवर्क द्वारा नियंत्रित किया जा सकता हैं.

FAQ

Q. लोकल एरिया नेटवर्क का संक्षिप्त नाम क्या है?

Ans: इसे शोर्ट में LAN कहा जाता है.

Q. LAN की रेंज का दायरा कितना होता हैं?

Ans: यह 100 मीटर से 1 किमी तक का होता हैं.

Q. WAN क्या है?

Ans: जिस प्रकार LAN एक छोटे क्षेत्र को कवर करने वाला कंप्यूटर नेटवर्क है इसी तरह WAN (वाइड एरिया नेटवर्क दूरसंचार नेटवर्क) है जिसका स्वरूप इंटरनेट के रूप में देख सकते हैं.

यह भी पढ़े

उम्मीद करते है फ्रेड्स लोकल एरिया नेटवर्क क्या है | What Is LAN In Hindi का यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा. अगर आपको LAN के बारे में यहाँ दी गई बेसिक डिटेल्स पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.

इस तरह के टेक्नोलॉजी तथा फाइनेंस से जुड़े फ्रेश आर्टिकल पढ़ने के लिए आप अपने इस ब्लॉग को नियमित रूप से विजिट करे .

Leave a Comment