मिलावट पर शायरी Shayari On Adulteration In Hindi Milavat Par Shayari Status

मिलावट पर शायरी Shayari On Adulteration In Hindi Milavat Par Shayari Status: नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है. आज हम Food adulteration Best मिलावट Quotes, Status, Shayari, Poetry लेकर आए हैं. आप इन शायरी स्टेटस के कलेक्शन से पसंदीदा थोट्स सुविचार स्लोगन को कॉपी कर सोशल मिडिया पर शेयर कर सकते हैं.

मिलावट पर शायरी Shayari On Adulteration In Hindi Milavat Par Shayari Status

मिलावट पर शायरी Shayari On Adulteration In Hindi

शहद सी मीठी है तेरी कलम , जरूर तेरी
श्याही में सियासत की मिलावट होगी।🔥


बस माँ के प्यार में मिलावट नहीं होती ,
सालों गुजर जाए पर कभी गिरावट नहीं होती ।


मिलावट अगर खाने में हो तो शरीर को तोड़ के रख देती है और
अगर विश्वास में हो तो आत्मा तक को तोड़ के रख देती है !


मनमुटाव होते तो माफ भी कर देते।
कम्भख्त तुमने हमारे हिस्से में मिलावट की है।


मिलावट इश्क़ मे भी होनी चाहिए जनाब…
तलब, जुनून और चाहत कि, बजाये हवस कि!


आजकल मिलावट का जमाना है
यारों हां में हां मिला दिया करो


मिलकर बिछुड़ना और फिरसे मिल जाना ये सब तो लकीरों की
सजावट है जो बिन मिले ही गुज़र गए उनके नसीब में मिलावट है।


मिलावट पर कविता पोएम

ये दूरी नहीं है समाज से,
ये दूरी है खतरे से भरे आज से,
उस आज से जिसका कल है बहुत धुँधला गया,
उस एक छोटे से विषाणु से, जो ना जाने कहाँ से आ गया,
समा गया है पूरा संसार, अपने अपने घरों में,
खौफ़ है हर गली, हर गाँव और आधुनिक शहरों में,
लोगों, वर्दी वालों और डॉक्टरों की कोशिशें भी हैं पूरी,
पर इसका एक ही इलाज है, एक दूजे से फासला
और एक दूसरे से दूरी,
सबसे ज्यादा जरूरत है समझदारी की इस वक़्त में,
यही रोक सकती है मिलावट तुम्हारे और मेरे रक्त में,
आखिरी में एक बात सुनाता हूँ और बात करता हूँ पूरी,
कुछ वक़्त ऐसे भी आते है जिनमें दूरिया भी होती हैं जरूरी।


ख्वाब मेरे भी थे कुछ,
या यूँ कहूँ की मैंने भी,
जीने का एक लक्ष्य ढूंढा था,
उस स्वप्न को मैंने भी एक अकेली शाम को देखा था,
मैं उसके करीब था,
बस जब वो मेरे नगीच आया तो थोड़ा टूट गया मैं,
ना जाने क्यों ?
उस का जवाब अब तक ढूंढ़ रहा हूँ मैं,
शायद मेरी मेहनत में मिलावट थी।


मिलावट हिंदी शायरी

आजकल चलते नहीं रिश्ते ज्यादा वक़्त तक,
लगता है प्यार में खुदगर्जी की मिलावट होने लगी है


मिलावट हो रही है मोहब्बत में, तभी शायद
कड़वाहट आ रही है आज-कल के रिश्तो में।


अब मिठाइयों में मिलावट का दौर गया,
अब तो रिश्तों में मिलावट का दौर है,
समझो किसी को कुछ, निकलता वो कुछ और है।💔


मयस्सर हुई जो बस कांटों की टहनियां थी,
शायद मुकद्दर की मिट्टी मिलावट से सिंची है |


चाय मे मिलावट जहर की थी , पता था हमे ,
मगर चाय तेरे हाथो से बनी थी इसिलिए हमारे
शरीर मे उसकी मिलावट कर दी..


हर तरफ हैं दर्द भरी ‘मिलावट’ ।
यहां कोई नहीं ‘श्री राम’ का केवट ।।


मिलावट का ज़माना है ।
सम्भल के हमको रहना हैं। 🙌


कुछ मिलावट अच्छी होती हैं धूप में छाव की मिलावट ,
अन्धेरे में रोशनी की मिलावट।।😊😊


फ़ूड अडल्ट्रेशन शायरी इन हिंदी

मिलावट का मंजर यूं है
की सब कुछ मिलावटी
होता जा रहा हैं।
मिलावटी हो रहे है ज़ज्बात हमारे।
मिलावटी हो रहे है रिश्ते हमारे।


इश्क़ का रंग सफेद पिया 🔥
ये इश्क़ में भी मिलाबट कर गया


सुन्दरता मे चतुराई की मिलावट हूई होगी,
तब कही जाके तुम्हारी बनावट हूई होगी।


इस जमाने मे प्यार के साथ धोका ,
नेता के साथ झूठे वादे ,
अभिनेता के साथ झूठी मुस्कान
भी मिलावट मे मिलेगी साहब ♥️


उसके इश्क़ में सजावट बहुत है,
लगता हैं नियत मिलावट बहुत है


आज के युग में हर रिश्ते में मिलावट है
कुछ में कड़वाहट की
तो कुछ में झूठी मुस्कुराहट की..!©


मिलावटी नहीं है मेरा मिजाज़ मगर,
ख़ुद मे खूबियां मिलाकर, तुम्हारे लिए
किरदार कयी निभाए हे मैंने।


बस इंसान ही है जो किसी से मिलता जुलता नहीं हैं
वरना जमाना तो भरपूर मिलावट का चल रहा है


मिलावट शायरी स्टेटस कोट्स इन हिंदी

हम तो पहले ही हैरान थे समान की मिलावट
से की आजकल रिश्ते भी मिलावटी होने लगे।


Milawat h aj har rishte mai..
Mot ke sath ka rishta bs ab scha lgne lga b😢


बदल रहा है देश और बदलती आ रही है यह सियासत,
पर नही बदली गरीब के हिस्से के दानों में होने वाली मिलवाट ।।


kahin to milawat thi teri mohabbat k afsane me,
yun hi to dar b dar nahi huwey hum


इंसानों की नस्ल में हो गई मिलावट,
इंसानियत अब बस रह गई बनावट।


मुझमें तेरी मिलावट जैसे नमक
में नमक की मिलावट..❤


सब मे मिलावट है….
बस माँ के प्यार को छोड़कर।❤️


मिलावट वाली अमावट को बेचते सब है
पर चखना कोई नही चाहता !!


मिलावट तो सब करते है,
“दूसरों की बुराई करने में”
और
“खुद की तारीफ करने में”।


मिलावट एक परदे की तरह है जिस चीज़ में हो जाती है
उसकी पहचान छीन के उसे बनावटी बना देती है


जो कभी पाक था, वो आज बेवज़ह बर्बाद है।
आज के प्यार को मुहब्ब्त का दर्जा देने वालों,
ये कलयुग है , बस मिलावट के ही सिर ताज़ है।😊😇🙏🙏


मिलावटों का दौर है,
सिर्फ़ माँ का दूध ही प्योर है।💓


अब तो रविवार में भी कुछ यूँ मिलावट हो गयी है,
कि छुट्टी तो दिखाई पड़ती है,लेकिन सुकून के पल नजर नहीं आते।


मिलावटों में हम इस कदर खो गए
कल थे कुछ ; आज कुछ और हो गए


सुनो एक राय है मेरी।
ये इश्क की मिलावट की चाय है मेरी।❤️


हर रिश्ते में #मिलावट देखी
कच्चे रंगों की #सजावट देखी
सालों साल देखा है #मां को
लेकिन उसके चेहरे पर #थकावट ना देखी
ना ममता मे मिलावट देखी..😍🙏


मिलावट बहुत है आज के रिश्तों में,
अपने भी बिक जाते हैं किस्तों में।


♥️परिवार के प्यार♥️ और 💪 दोस्त का साथ में💪
कभी मिलावट नहीं होता है 😊😊


ओ जनाब थोड़ा सम्बल कर चलो .
मिलावट का मौसम चल रहा हे .
यहाँ होटों पर हसी और हातो में
खंजर लेकर हर कोई चल रहा हे .


यहां तो पुरी जिंदगी मिलावट हैं तो और
कुछ मिलावट होने या ना होने से फ़र्क नही पड़ता।।


मिलावट मोल मिलती है आजकल कुछ
नहीं मिलता तो वो है शुद्धता।

यह भी पढ़े

उम्मीद करता हूँ दोस्तों मिलावट पर शायरी में दिए गये शायरी स्टेट्स कोट्स थोट्स आपकों पसंद आए होंगे, यदि आपकों Adulteration Shayari, Milawat Shayari पसंद आई  हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *