राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र 2022 | Mool Niwas form pdf download

राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र 2022 | Mool Niwas Form Pdf Download – यदि आप राजस्थान में रहते हैं. तो मूल निवास प्रमाण पत्र के बारे में अवश्य जानते हैं. यह आपके निवास स्थान से जुड़ी पहचान का दस्तावेज हैं. मूल निवास सरकारी नौकरी के लिए आवेदन हो या किसी भी सरकारी कामकाज की प्रक्रिया का अहम हिस्सा हैं. कई सारी राजस्थान सरकार व केंद्र सरकार की योजनाओं में भी मूल निवास की आवश्यकता रहती हैं. आज के आर्टिकल में हम बात करेगे कि मूल निवास क्या हैं इसे कैसे बनवाये तथा इसके फायदों के बारे में यहाँ बताया गया हैं.

राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र 2022 | Mool Niwas Form Pdf Download

राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र 2022 | Mool Niwas Form Pdf Download

Mool Niwas Kaise Banta Hain – राजस्थान मूल निवास प्रमाण-पत्र अप्लाई ऑनलाइन – How to Apply Online Bonafied Certificate in Rajasthan

हम किस राज्य में कब से निवास कर रहे हैं यह प्रमाण हमारे सरकारी रिकॉर्ड में मूल निवास दर्शाता हैं. सभी राज्यों में इसको बनाने की प्रक्रिया अलग अलग हैं. अब लगभग सभी जगह डिजिटल माध्यम से ये प्रमाण पत्र बनने लगा हैं.

इस प्रमाण पत्र से यह प्रमाणित किया जाता हैं कि हम अमुक राज्य और स्थान पर कब से रह रहे हैं. इसे बनवाने के लिए किन किन दस्तावेजों की जरूरत पड़ती हैं कितना खर्च आता हैं तथा बनवाने का तरीका क्या हैं इन सभी प्रश्नों के जवाब आज के आर्टिकल में देने की कोशिश की गई हैं.

मूल निवास प्रमाण पत्र क्या है (What is the Mool Niwas certificate)

आप यहाँ क्लिक कर तीन पेज के मूल निवास फॉर्म आवेदन पत्र को निशुल्क डाउनलोड कर सकते हैं. जब से हमारा जन्म होता हैं. जन्म प्रमाण पत्र के साथ इस संसार में हमारी पहचान मिलने लगती हैं.

आमतौर पर बनाए जाने वाले प्रमाण पत्रों में आधार कार्ड, भामाशाह कार्ड, जाति प्रमाण पत्र तथा आय प्रमाण पत्र सभी के बने होते हैं. इसके अतिरिक्त मैरिज सर्टिफिकेट, ड्राइविंग लाइसेंस, राशन कार्ड, पैन कार्ड भी हमारी पहचान के लिए उपयोग किये जाने वाले प्रमुख पत्रों में से एक हैं.

मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने के सम्बन्ध में आयु सीमा का कोई बंधन नही हैं. यानि इसके लिए जरुरी नही हैं कि आपकी उम्रः अठारह वर्ष या इससे कम व अधिक हो, किसी भी आयु के पड़ाव में अपनी आवश्यकता के मुताबिक़ मूल निवास बनाया जा सकता हैं.

मूल निवास कैसे बनवाएं (Application Process for Domicile Certificate)

मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने की आवश्यकता केवल राजस्थान राज्य के निवासियों की ही हैं. इसके लिए किसी विशेष दस्तावेज की आवश्यकता नही रहती हैं.

मूल निवास में जरूरत पड़ने वाले डोक्युमेंट में आपके पास अपनी दो फोटो, कोई एक पहचान पत्र (आधार कार्ड, मतदाता प्रमाण पत्र), अपने परिवार के राशन कार्ड की फोटोकॉपी, बर्थ सर्टिफिकेट, बिजली पानी का कोई बिल अथवा अपने निवास स्थान का कोई सरकारी दस्तावेज.

यदि ये सभी दस्तावेज आपके पास हैं तो आप दो तरीको से मूल निवास बना सकते हैं, जिसका पहला माध्यम ऑनलाइन हैं, जिसमें आप किसी ईमित्र धारक को अपने दस्तावेज तथा कच्चा फॉर्म भरकर अपनी डिटेल्स देकर इसे बनवा सकते हैं.

इसके अतिरिक्त आप स्वयं किन्ही दो राजपत्रित अधिकारियों के शपथ पत्र व गवाही के फॉर्म को भरकर अपने तहसील कार्यालय से मूल निवास बनवा सकते हैं.

Mool Niwas कहां काम आता है

यह हमारी पहचान को प्रमाणित करने वाले दस्तावेजों में से एक हैं, इसका उपयोग कई स्थानों पर किया जाता हैं जैसे.

  • स्कूल से सम्बन्धित कई कार्यों में इसका उपयोग होता हैं.
  • सरकारी नौकरी में आवेदन के समय इसकी जरूरत पड़ती हैं.
  • विभिन्न सरकारी छात्रवृत्ति योजनाओं में आवेदन के समय
  • स्कूली शिक्षा के पश्चात उच्च शिक्षा में आवेदन के समय
  • ड्राइविंग लाइसेंस आदि प्रमाण पत्र बनवाने में.

Mool Niwas प्रमाण-पत्र हेतु दस्तावेज

अगर बात करें राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र को बनवाने के लिए आवश्यक दस्तावेजों की तो उसमें कुल 5 तरह के हमारी पहचान से जुड़े दस्तावेजों की जरूरत पड़ती हैं.

पूर्व में इन डोक्युमेंट की केवल फोटो कॉपी भी मान्य थी, मगर फ्रोड के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने अब केवल ओरिजनल दस्तावेजों को स्कैन करना मान्य कर दिया हैं. इसमें निम्न दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी.

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • दस वर्ष पुराना मतदाता पत्र/ पहचान पत्र या वोटर आईडी (स्वयं का न होने पर अभिभावक का मान्य)
  • स्वयं की पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • मूल निवास का आवेदन फॉर्म
  • विवाहित होने की स्थिति में विवाह पंजीयन
  • विवाहित महिला के लिए पति का मूल निवास

2 उत्तरदायी व्यक्तियों द्वारा सत्यापन

जब आप नया मूल निवास बनवाने के लिए जाते हैं तब आपको एक आवेदन फॉर्म दिया जाता हैं जिसमें अपनी व्यक्तिगत जानकारी भरने के साथ ही दो जिम्मेदार व्यक्तियों के सत्यापन भी करवाने पड़ते हैं.

दो राजपत्रित अधिकारी जैसे अपने गाँव के सरपंच, पार्षद, डोक्टर आदि के सिग्नेचर और स्टाम्प ले सकते हैं. दूसरी मोहर आप स्कूल के फर्स्ट ग्रेड टीचर या प्रधानाचार्य की लगवा सकते हैं.

शपथ पत्र

नयें मूल निवास में एक स्वयं की शपथ का घोषणा पत्र को भी भरना पड़ता हैं. यह मूल आवेदन की प्रिंट के साथ आपको मिलता हैं. 18 वर्ष की आयु होने की स्थिति में आवेदक स्वयं का शपथ पत्र लगाकर दस्तखत कर सकता हैं.

अगर आवेदन नाबालिक हैं तो इस स्थिति में अभिभावक अपना शपथ पत्र दे सकते हैं. इस में कुछ बेसिक डिटेल्स होती हैं जैसे पूरा पता, शिक्षा, जिला, नाम और शेष विवरण और अंत में दस्तखत.

DocumentRajasthan Bonafide Certificate
लाभार्थी  राज्य के नागरिक
Official WebsiteClick Here
PDF डाउनलोड लिंक Click Here

FAQ

मूल निवास बनवाने की आधिकारिक वेबसाइट कौनसी हैं?

https://rajasthan.gov.in/

राजस्थान Bonafide सर्टिफिकेट की वैधता कितनी हैं?

आजीवन

बाहरी राज्य का व्यक्ति राजस्थान का मूल निवास बना सकता हैं?

जी नहीं, केवल राजस्थान में निवास करने वाला व्यक्ति ही बना सकता हैं.

यह भी पढ़े

राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपके पास अपनी पहचान का एक प्रमाण और जुड़ जाएगा. यह काफी सेवाओं में उपयोग होने वाला एक अनिवार्य प्रमाण पत्र भी हैं. इसलिए हमें आवश्यकता से पूर्व ही इसे बनवाकर रख लेना चाहिए, ताकि अकारण किसी सेवा से वंचित न हो.

इस तरह आशा करता हूँ आप राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र 2022 | Mool Niwas Form Pdf Download कर सकते हैं तथा इसे सही तरीके से भरकर अपना नया मूल निवास बनवा सकते हैं. आवेदक का नाम, पति का नाम, व्यवसाय, पता, फोन नम्बर, जन्म वर्ष व स्थान, सम्पति का ब्यौरा आदि बेसिक्स जानकारी भरनी होती हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published.