नूपुर शर्मा का जीवन परिचय | Nupur Sharma Biography in Hindi

कौन है भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा का जीवन परिचय | Nupur Sharma Biography in Hindi, भारतीय राजनीतिज्ञ नूपुर की बायोग्राफी उनका मोहम्मद पैगम्बर के बारे में क्या बयान था, आयु, सुरक्षा, पति, बच्चे जीवनी हिंदी में

भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा आजकल भारत में ही नहीं बल्कि खाड़ी के देशों से लेकर लिब्रांडू गैंग तक विवाद का विषय बनी हुई हैं. टीवी डिबेट के दौर कहे गये उनके शब्दों को लेकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मोहम्मद पैगम्बर के अपमान से जोड़कर ट्रोल किया गया.

नूपुर शर्मा का जीवन परिचय | Nupur Sharma Biography in Hindi

नूपुर शर्मा का जीवन परिचय Nupur Sharma Biography in Hindi
नाम ( Name)नुपुर शर्मा
जन्म ( Date of birth)23 अप्रैल 1985
जन्म स्थान (Birth place)नई दिल्ली, भारत
उम्र (Age)37 साल (साल 2022 )
शिक्षा (Educational )पोस्ट ग्रेजुएशन (एलएलएम)
स्कूल (School )दिल्ली पब्लिक स्कूल, दिल्ली
कॉलेज (College )• दिल्ली विश्वविद्यालय के हिंदू कॉलेज, दिल्ली, भारत
• लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स, लंदन, इंग्लैंड
कद (Height)5 फीट 3 इंच
वजन (Weight )50 किलोग्राम
आंखों का रंग (Eye Colour)काला
बालों का रंग (Hair Colour)काला
धर्म ( Religion)हिन्दू
जाति (Cast )ब्राह्मण
राशि (Zodiac Sign)वृषभ राशि
नागरिकता(Nationality)भारतीय
पेशा (Profession)राजनीतिज्ञ, वकील

न्यूज & अपडेट्स

14 राज्यों में हिंसक प्रदर्शन व गिरफ्तारी की मांग: शुक्रवार को जुम्मे की नमाज के बाद दिल्ली की जामा मस्जिद से लेकर देश के 14 राज्यों में मुसलमानों ने नूपुर शर्मा के विरोध में हिंसक प्रदर्शन किये. प्रदर्शन में शर्मा का पुतला जलाने के साथ ही उन्हें फांसी देने, सर कलम करने, जीभ काटने आदि तक की डिमांड भी उपद्रवियों द्वारा की जाने लगी.

प्रो अल कायदा यूनिट की धमकी : अलकायदा के भारतीय उपमहाद्वीप से जुड़े संगठन AQIS ने अपने एक विडियो संदेश के जरीये नूपुर शर्मा और भारत के हिन्दुओं को जान से मारने की धमकी दी हैं. धमकी भरे विडियो में चार्ली हेब्दो स्टाइल में बदला लिये जाने की बात कही हैं.

हेट स्पीच आरोप सिद्ध हुए तो तीन साल की सजा होगी : आईपीसी की धारा 153 (a) के तहत देश के कई राज्यों में शर्मा के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई हैं. अगर कोर्ट में उनका वक्तव्य हेट स्पीच साबित हो जाता है तो नूपुर की तीन साल की सजा हो सकती हैं. महाराष्ट्र के मुंब्रा इलाके की पुलिस नूपुर को समन जारी कर 22 जून को पूछताछ के लिए बुलाया हैं.

मोदी से रिश्ते तोड़े शरीफ खानदान – इमरान : नूपुर शर्मा के बयान की सबसे अधिक चर्चा पाकिस्तान में हैं. सोशल मिडिया ट्रेंड्स के माध्यम से पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी ने ही इस मामले को बढ़ा चढ़ा कर खाड़ी देशों तक पहुचाया था. अब इमरान खान ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ से भारत से सम्बन्ध खत्म करने की बात भी कही हैं.

कौन है नुपुर शर्मा (Who is Nupur Sharma )

दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के यूथ विंग की एक महिला राजनीतिज्ञ के रूप में नुपुर की पहचान है, यह पेशे से वकील भी हैं. अपनी बेबाकी के लिए जानी जाने वाली नुपुर भाजपा की वर्किंग कमेटी की सदस्या भी रह चुकी हैं.

2015 के दिल्ली विधानसभा चुनावों में भाजपा ने इन्हें आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल के खिलाफ चुनावी मैदान में उतारा था, मगर वह हार गई. साल 2020 में ही शर्मा को भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया गया, वे टीवी डिबेट्स और विभिन्न अवसरों पर अपनी पार्टी का बचाव करते देखी गई.

नुपुर शर्मा का जन्म एवं शुरुआती जीवन (Nupur Sharma Birth )

23 अप्रैल 1985 को नई दिल्ली में जन्मी नूपुर शर्मा एक ब्राह्मण परिवार से ताल्लुक रखती हैं. बचपन से से तीव्र और कुशाग्र बुद्धि के चलते ये अच्छी वक्ता थी.

कुछ मिडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इन्होने जुलाई 2021 में सगाई कर ली थी तथा उसकी तस्वीरे भी सोशल मिडिया पर पोस्ट की थी. इनके परिवार तथा अधिक निजी जानकारियाँ सार्वजनिक रूप से उपलब्ध नहीं हैं.

नुपुर शर्मा की शिक्षा (Nupur Sharma Education )

अगर बात करें नूपुर शर्मा की शिक्षा की तो इन्होने भारत के साथ ही लंदन से भी पढ़ाई की हैं. नूपुर ने दिल्ली के दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) से विद्यालयी शिक्षा पूर्ण कर हिन्दू कॉलेज से वकालत की पढ़ाई की.

आगे की शिक्षा इन्होने लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स, लंदन से की, जहाँ से इन्होने एल एल एम की डिग्री हासिल की. अर्थशास्त्र और कानून की पढ़ाई कर चुकी नूपुर ने राजनीति में अपना करियर संवारने का प्रयत्न किया हैं.

नूपुर शर्मा का राजनीतिक करियर

बात करे नुपूर के राजनैतिक जीवन की तो इसकी 2009 में हुई, जब यह अपने कॉलेज के दिनों में राजनीति में उतरी. शर्मा ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् की टिकट से दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्र संघ का चुनाव लड़ा तथा विजयी हुई.

इस तरह यह भारतीय जनता पार्टी के युवा चेहरे के रूप में राष्ट्रीय कार्यकारी समिति की सदस्य चुनी गई. भाजपा यूथ विंग की मिडिया प्रभारी चुनी गई तथा दिल्ली की राज्य कार्यकारिणी में भी इन्हें स्थान मिला.

वर्ष 2015 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में नूपुर शर्मा भाजपा प्रत्याशी बनकर विधायक के चुनावों में उतरी मगर कामयाब नहीं हो पाई. साल 2015 में ही ये भाजपा की दिल्ली इकाई की मिडिया प्रवक्ता बनी तथा नेशनल न्यूज चैनल्स पर अपनी पार्टी का प्रतिनिधित्व करने लगी.

वर्ष 2020 में यह राष्ट्रीय प्रवक्ता बनी तथा दो साल के भीतर उनके बयान पर मचे बवाल के बाद पार्टी ने इन्हें छः वर्षों के लिए निलंबित कर दिया. चूँकि पेशेवर वकील होने के नाते नूपुर शर्मा दिल्ली उच्च न्यायालय में प्रैक्टिस भी करती आ रही हैं.

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2015 में नूपुर शर्मा

एक युवा कार्यकर्ता और पार्टी के कई अहम जिम्मेदारीपूर्ण पदों पर निष्ठां से काम कर रही नूपुर को राजनीति के अखाड़े में नई दिल्ली की प्रतिष्ठित सीट से 2015 में उतारा गया.

उनके समक्ष त्रिकोणीय मुकाबले में सबसे बड़ी चुनौती आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविन्द केजरीवाल की थी. आम आदमी पार्टी इन चुनावों को एकतरफा जीती, शर्मा कांग्रेस से अधिक वोट लेने के बावजूद केजरीवाल से चुनाव हार गई. इन्हें 25,630 वोट मिले जबकि केजरीवाल को 57,213 वोटों के साथ 31,583 के अंतर से विजय मिली.

भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा से जुड़े विवाद (Nupur Sharma Controvercy )

पार्टी प्रवक्ताओं के लिए टीवी डिबेट्स में सोच समझकर बोलने और विवाद से बचने की चुनौती हमेशा बनी रहती है, मगर कई बार वे निशाना बन जाते हैं. ऐसा ही नूपुर शर्मा के साथ टाइम्स नाउ के एक प्राइम टाइम टीवी डिबेट शो में हुआ.

दरअसल बहस ज्ञानवापी मंदिर मस्जिद विषय पर चल रही थी. जिसमें मुस्लिम पक्षकार बार बार शिवलिंग को फव्वारा बताकर वाराणसी की सड़कों पर बने अन्य फव्वारों को पूजने के लिए कहते हैं.

नूपुर अपने इष्ट के अपमान के बदले पैगम्बर मोहम्मद व उनकी आयशा के साथ कम उम्र में शादी और बराक पर मौलाना से सवाल करती हैं, और उनका यही बयान विवाद बन जाता हैं. हालांकि नूपुर ने पब्लिक डिस्कोर्स में उपलब्ध तथ्य और इस्लामिक ग्रन्थ में कही बात ही दोहराई.

उनके इस बयान के एक दिन बाद मोहम्मद जुबैर नाम के एक फेक्ट चेकर द्वारा वीडियो का हिस्सा अपलोड कर उनकी गिरफ्तारी की मांग की जाती हैं, इस घटना को लेकर कानपुर में हिंसा की घटना को अंजाम देकर सोशल मिडिया के जरिये अरब देशों तक इस घटना को बढ़ा चढ़ाकर प्रसारित किया जाता हैं.

दवाब में मोदी सरकार द्वारा नूपुर शर्मा को पार्टी से छः वर्ष के लिए निलम्बित करने के साथ ही उनका बचाव करने वाले एक अन्य प्रवक्ता नेता नवीन कुमार जिंदल को भी पार्टी से निकाल दिया जाता हैं.

नूपुर ने अपने इस वक्तव्य के लिए सार्वजनिक रूप से माफ़ी भी मांगी हैं, मगर कट्टरपंथियों द्वारा उन्हें जान से मारने की लगातार धमकियां भी मिलती रही. थ्रेट के चलते दिल्ली पुलिस ने उन्हें सुरक्षा भी मुहैया करवाई.

नुपुर शर्मा के बारे में रोचक तथ्य

अब हम पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा से जुड़ी कुछ ऐसी बातों और तथ्यों को आपके समक्ष रखेगे जो शायद आप नहीं जानते हैं.

  • हालिया विवाद में नूपुर शर्मा को डच सांसद गीर्ट वाइल्डर्स समेत देश के करोड़ों लोगों ने अपना समर्थन दिया है तथा बीजेपी की कार्यवाही को कायराना बताया हैं.
  • नूपुर के मोहम्मद पैगम्बर पर दिए बयान से करीब 8 से 10 मुस्लिम देशों ने कड़ी आपत्ति जताई तथा सोशल मिडिया पर भारत व पाकिस्तान के मुसलमानों ने भी इन्हें जान से मारने की धमकी दी व करोड़ों में हेड मनी का ऐलान भी हुआ.
  • टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने 26 जनवरी 2009 के अपने विशेष प्रसारण में भाजपा नेत्री नूपुर को गेस्ट एंकर के रूप में बुलाया था.
  • न्यूज पोर्टल हिंदुस्तान टाइम्स द्वारा वर्ष 2009 में जारी देश की प्रमुख दस वुमेन इन्स्प्रेशन पर्सनलिटी में इनका नाम भी शामिल किया गया था.
  • साल 2012 में यूनाईटेड स्टेट अमेरिका में आयोजित इंडो-पाक अमेरिकन काउंसिल ऑफ यंग पॉलिटिकल लीडर्स सम्मेलन में भारतीय जनता पार्टी व भारत सरकार के प्रतिनिधि दल में इन्हें शामिल किया गया था.
  • दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्र संघ रहते हुए नूपुर शर्मा ने महाविद्यालय परिसर की सुरक्षा के लिए सोलर लैंप, वाटर प्यूरीफायर और सीसीटीवी सुविधा का जिम्मा उठाया तथा पूरा किया ऐसे कामों से इन्हें लोकप्रियता भी मिली.

नुपुर शर्मा की पसंद

आज भारत ही नहीं बल्कि दुनियाभर में नूपुर शर्मा अपने खुले विचारों के लिए जानी जाती हैं. बेबाक बोल बोलने की उनकी खूबी ने ही इन्हें राजनीति में उतारा और कामयाब भी बनाया. अगर इनके निजी जीवन को देखा जाए तो इनको यात्राओं का भी काफी शौक हैं.

एक अच्छी वक्ता होने के साथ ही साथ नूपुर अच्छी लेखिका भी हैं. इनके ज्ञान भंडार की वजह ज्ञानवर्धक पुस्तकें पढ़ना रहा हैं. टाइम्स ऑफ़ इंडिया के 2009 के गणतंत्र दिवस एडिशन में यह मुख्य मेहमान सम्पादिका भी रह चुकी हैं.

अपने विद्यार्थी जीवन में ही नूपुर सोशल मुद्दों के प्रति काफी नजदीक रही है तथा आम जन की मूलभूत सुविधाओं के लिए आवाज उठाती आई हैं. इन्होने दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ते हुए DU@Doorstep की मेजबानी की थी.

Facts & Links

TwitterLink
wikipediaLink
सम्‍पर्क नंबर9711860881
ई-मेलnupsha@gmail.com

FAQ

Q. नूपुर शर्मा मोदी सरकार में किस पद पर थी?

Ans: यह भारतीय जनता पार्टी की प्रवक्ता थी सरकार में शर्मा की प्रत्यक्ष भागीदारी नहीं थी.

Q. भाजपा ने नूपुर के विवादित बयान के बाद क्या कार्यवाही की हैं?

Ans: बीजेपी ने नूपुर को 6 वर्षों के लिए निलम्बित किया है तथा उनका बचाव करने वाले एक और नेता नवीन जिंदल को पार्टी से बर्खास्त किया हैं.

Q. नूपुर के पिता का नाम क्या हैं?

Ans: इनके पिताजी का नाम विनय शर्मा हैं.

यह भी पढ़े

उम्मीद करते है फ्रेड्स नूपुर शर्मा का जीवन परिचय | Nupur Sharma Biography in Hindi का यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा, अगर आपको इस नेत्री के बारे में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो इस लेख को सोशल मिडिया पर भी शेयर करें.

Leave a Comment

Your email address will not be published.