पैसे की बचत कैसे करे आसान उपाय | Paise Ki Bachat Kaise Kare in Hindi

Paise Ki Bachat Kaise Kare in Hindi पैसे की बचत कैसे करे आसान उपाय: पैसा हर इंसान की आवश्यकता हैं. जीवन जीने के लिए पैसा कमाना जरूरत भी हैं. हर कोई किसी न किसी तरह से पैसे कमा तो रहा हैं मगर फिर भी पैसा टिकता नहीं अर्थात पैसे की बचत नहीं हो पाती हैं और कोई काम पड़ने पर उन्हें बैंक या साहूकार से कर्ज लेना ही पड़ता हैं. यदि आपकी आमदनी खर्च से अधिक हैं फिर भी आप पैसा नहीं बचा पा रहे हैं. तो यहाँ आपकों Paise Ki Bachat सेविंग के कुछ टिप्स और उपाय बता रहे हैं. जिससे निश्चय ही आपकों धन को बचाकर रखने में मदद मिलेगी.

पैसे की बचत कैसे करे आसान उपाय Paise Ki Bachat Kaise Kare in Hindi

पैसे की बचत कैसे करे आसान उपाय Paise Ki Bachat Kaise Kare in Hindi

ईमानदारी से धन कमाना सर्वश्रेष्ठ नीति हैं तथा मेहनत से कमाए धन से जो संतोष और ख़ुशी मिलती हैं वह अनैतिक तरीको से कमाई में नहीं मिलती हैं.

एक मजदूर भले ही बहुत थोडा कमा लेता हैं मगर वह अपने जीवन और कार्य से संतुष्ट रहता हैं दूसरी तरफ भ्रष्ट तरीको से घर भरने वाले लोग कितना भी कमा लेते हो मगर उनकी भूख कभी शांत ही नहीं होती.

इसलिए ईमान के आचरण के साथ व्यक्ति को धन कमाने के प्रयास करने चाहिए. कई बार लोग शिकायत करते हैं कि वे कमाते तो बहुत हैं मगर बचत नहीं हो पाती हैं.

उन्हें शांत चित से एक  बार  महीने  की कमाई और खर्च का गणित अवश्य मिलाना चाहिए. खर्चे का सही मैनेजमेंट नही होने के कारण ही वे कमाई से अधिक खर्च कर जाते हैं.

पैसे की बचत कैसे करे- How To Save Money In Hindi

पैसे की बचत के लिए खर्च पर कंट्रोल आवश्यक हैं. इस बात को समझने के लिए मैं आपकों अपने दो पड़ोसी दिनेश और हरिराम का उदाहरण देना चाहूँगा.

दिनेश दो साल पहले मेरे साथ ही पढ़ता था आठ नौ महीने पहले उसकी सरकार नौकरी लगी.  दूसरी तरफ हरिराम जी चाय की केबिन चलाते हैं.

और मुश्किल से १० हजार तक कमा पाते हैं जबकि दिनेश का   मासिक  वेतन  ५० हजार हैं यानी वो हरिराम से ५ गुणा अधिक कमाता हैं.

मेरी अक्सर दोनों से मुलाक़ात होती रहती हैं पिछले महीनों में दिनेश ने कई बार पैसे उधार लिए हैं जबकि हरिराम के विषय में ऐसा कभी सुनने को नहीं आया,

यानी वे अपनी कमाई से घर का गुजारा कर लेते है जबकि दिनेश नहीं कर पाता हैं. जानते है इन दोनों के बीच सबसे बड़ी असमानता क्या है-

दिनेश के हाथ एक तारीख को वेतन आता हैं वह विगत 30 दिनों की जरूरतों, उधार, घर पर पैसे भेजकर 15 तारीख आते आते फिर से उधार मांगने लग जाता है.

मगर हरिराम हर दिन 200-300 कमाते है घर का गुजर बसर हो जाता हैं महीने के 1000 रूपये बचत खाते में जमा भी करवा देते हैं.

पैसा दोनों के पास है हाँ मात्रा में भले ही अलग हो मगर खर्च और योजना का दिनेश के पास अभाव हैं. वह भी बचत तो करना चाहता हैं मगर सोचता है महीने के आखिर में बसे पैसे खाते में डलवा दूंगा, मगर वो दिन आज तक नहीं आया.

इस कहानी से आप समझ सकते हैं बचत करना एक कला हैं जिसे सही योजना के साथ क्रियान्वित किया जाए तो थोड़ी कमाई से भी पैसे बचाए जा सकते हैं.

अपनी Saving बढाने के कुछ सरल उपाय/तरीके यहाँ आपकों बता रहा हूँ जिन्हें आप उपयोग में लेकर फायदा उठा सकते हैं.

पैसे की बचत करना क्यों जरूरी है (Why is it important to save money)

यह बात तो आप अच्छी तरह से जानते हैं कि आज के टाइम मे जिस व्यक्ति के पास पैसे होते हैं उसी की इज्जत होती है और उसी की कदर होती है। इसीलिए वर्तमान के टाइम में पैसे कमाना और पैसे बचाना दोनों ही महत्वपूर्ण है।

अगर हम पैसे की सेविंग के तरीके जानते हैं तो यह हमारे फ्यूचर के लिए और इमरजेंसी के लिए बहुत ही अच्छा होता है, क्योंकि आपातकाल की स्थिति में हमारी सेविंग के पैसे ही सबसे पहले हमारे काम आते हैं।

इसलिए चाणक्य नीति में भी यह कहा गया है कि लोगों को कुछ ना कुछ पैसे की सेविंग अवश्य करनी चाहिए 

धन की बचत के कुछ तरीके

आपको बता दें कि, पैसे बचाना कोई गलत काम नहीं है परंतु पैसे बचाने के चक्कर में ज्यादा कंजूसी करना भी सही नहीं है। आपको अपनी इनकम का बैलेंस बनाते हुए सेविंग भी करनी चाहिए और आवश्यक चीजों पर खर्च भी करना चाहिए।

अगर आप पैसों की दिक्कत से परेशान हैं और आप मनी की सेविंग कैसे करें अथवा पैसे की बचत कैसे करें, के बारे में जानना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपको काफी फायदा पहुंचाने वाला है,क्योंकि इस पोस्ट में आप मनी सेविंग टिप्स इन हिंदी जानेंगे।

लोन के द्वारा प्रॉपर्टी ना खरीदें

कई बार ऐसा होता है कि जब आदमी को कोई प्रॉपर्टी खरीदनी होती है तो उसके पास पर्याप्त मात्रा में फंड नहीं होता है। ऐसी अवस्था में प्रॉपर्टी पसंद आ जाने पर वह बैंक से लोन लेकर के या फिर किसी व्यक्ति से लोन लेकर के प्रॉपर्टी तो खरीद लेता है.

परंतु जो रकम उसे लोन लेकर के प्राप्त हुई होती है, उस रकम पर उसे ब्याज भी देना पड़ता है और ऐसा होने पर व्यक्ति को दिए गए पैसे के अलावा भी एक्स्ट्रा पैसे ब्याज के तौर पर देने पड़ते हैं। इसलिए हो सके तो आपको लोन लेकर के प्रॉपर्टी नहीं खरीदनी चाहिए।

अगर प्रॉपर्टी खरीदना जरूरी है, तो आपको जो बैंक कम से कम ब्याज पर लोन दे उसी बैंक से ही लोन लेना चाहिए अथवा अथवा आप चाहे तो अपने दोस्तों से भी उधार पैसे लेकर के प्रॉपर्टी खरीद सकते हैं।

अपने पैसे को इन्वेस्टमेंट स्कीम में यूज करें

अगर आप मंथली सैलरी पाते हैं और आप धीरे-धीरे अपने पैसे को बढ़ता हुआ देखना चाहते हैं तो आप जितना जल्दी हो सके उतना जल्दी सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान में अपने पैसे थोड़ी थोड़ी मात्रा में इन्वेस्ट करना चालू कर दें।

सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान में आप मंथली तौर पर ₹100 का भी इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं और 3 साल, 6 साल, 10 साल अथवा 20 साल का प्लान आप ले सकते हैं।

आप जितना लंबा प्लान लेंगे भविष्य में आपको अपने पैसे की बढ़ोतरी उतनी ही ज्यादा होते हुए दिखाई देगी।

महंगी गाड़ियां ना खरीदें 

चाहे आप दो लाख की गाड़ी ले या दो करोड़ की गाड़ी ले। काम दोनों एक ही करेंगी। इसलिए लोगों को दिखाने के लिए अथवा दिखावटी पन के लिए महंगी गाड़ियों में अपनी मेहनत की कमाई बर्बाद ना करें।

अगर आपको कार की आवश्यकता नहीं है तो जहां तक हो सके आप कार नहीं लें और अगर कार लेनी भी है, तो आप चाहे तो कोई अच्छी बढ़िया सी सेकंड हैंड कार भी ले सकते हैं, जो कि काफी कम कीमत में ही आपको प्राप्त हो जाएगी।

अपने पास थोड़ा सा कैस रखें 

आप जितना भी कमाते हैं उसमें से कम से कम 10 परसेंट अमाउंट आपको अपने पास Cash के तौर पर रखनी चाहिए।इस पैसे का इस्तेमाल आप अनावश्यक प्रॉब्लम का सलूशन निकालने में कर सकते हैं।

महंगे कपड़े ना खरीदे 

आपने फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग को देखा ही होगा। वह अधिकतर आपको एक ही टीशर्ट में दिखाई देते हैं। सामान्य तौर पर अगर किसी व्यक्ति से पूछा जाए कि मार्क जुकरबर्ग की टी-शर्ट कितने की होगी, तो वह कहेगा 100 या ₹200 की होगी।

कहने का तात्पर्य यह है कि किसी को दिखाने के लिए आपको महंगे कपड़े नहीं पहनने चाहिए, बल्कि आपको ऐसे कपड़े पहनने चाहिए जो आपकी बॉडी पर अच्छे लगे फिर चाहे वह 200 का हो या फिर 300 का हो।

दिखावटी पन में ही अधिकतर लोग कर्जे का शिकार हो जाते हैं। इसीलिए आपको दिखावटीपन नही करना चाहिए और साधारण सिंपल रहना चाहिए क्योंकि आवश्यकता पड़ने पर आपकी सेविंग के पैसे ही आपके काम आएंगे ना कि आपके महंगे महंगे कपड़े।

म्यूचल फंड में इन्वेस्टींग स्टार्ट करें

सिर्फ पैसे बचाना ही काफी नहीं है बल्कि पैसे कमाना भी महत्वपूर्ण होता है। इसीलिए आप अपनी इनकम में से कुछ पैसे इन्वेस्टमेंट करके पैसे कमाने के लिए म्यूचुअल फंड का सहारा भी ले सकते हैं।

हालांकि म्यूच्यूअल फंड जोखिमों को अधीन होते हैं, इसीलिए शेयर मार्केट के किसी अच्छे जानकार से कंसल्ट करके आप इसमें अपने पैसे इन्वेस्ट कर सकते हैं।

शादी पर ज्यादा खर्च ना करें

आजकल शादियों में लोग अपनी शान और शौकत दिखाने के लिए अंधाधुन पैसे खर्च करते हैं और इसका पछतावा उन्हे तब होता है जब शादी बित जाती है और कर्जे वाले उन्हें फोन करके अपना पैसा मांगते हैं अथवा बार-बार उनके घर पर आ करके अपना कर्जा मांगते हैं।

आपको बता दें कि, शादी सिर्फ 1 दिन का ही खेल होता है, इसीलिए आपको फिजूलखर्ची करने से बचना चाहिए। शादी में आपको उतने पैसे का ही इस्तेमाल करना चाहिए जितने में आपकी इज्जत बनी रहे।

बे फालतू में शादी में आने वाले लोगों के सामने अपने पैसों की नुमाइश करने का प्रयास आपको नहीं करना चाहिए क्योंकि वह लोग तो सिर्फ मजे लेने के लिए आते हैं और मजा ले करके चले जाते हैं और कर्जे में डूब जाते हैं आप, जिससे उबरने में आपको काफी समय लग जाता है।

इनकम के एक से ज्यादा साधन बनाएं 

अगर आप पैसों की समस्या से परेशान हैं तो आप पैसे की बचत करने के अलावा अपने इनकम के रास्तों को बढ़ाने पर भी विशेष तौर पर ध्यान दें।

इससे फायदा यह होगा कि जब आपके इनकम के रास्ते बढ़ जाएंगे तो आपकी कमाई भी बढ़ जाएगी और इस प्रकार कमाई बढ़ने पर आपकी समस्याएं दूर हो जाएंगी, साथ ही एक्स्ट्रा कमाई से जो आपकी इनकम हो रही है,

आप उसका इस्तेमाल किसी अन्य काम में इन्वेस्टमेंट करने के लिए कर सकते हैं अथवा किसी ऐसी योजना में अपने पैसे को इन्वेस्ट कर सकते हैं जो आगे चलकर के आपको काफी फायदा दे।

Paise Ki Bachat Kaise Karne Ka Tarika In Hindi

  • पैसे की बचत करने की अच्छी आदत हैं जिसे आपकों आप ही अपना सकते हैं. कोशिश करनी चाहिए कि अपनी कुल आमदनी की १० से १५ फीसदी की बचत करने की आदत डाल लेनी चाहिए. जो जीवन में विपरीत परिस्थतियों में काम आती हैं.
  • महीने के पहले दिन से ही पुरे माह के बजट की योजना बना लेनी चाहिए, माह में पड़ने वाले अवसरों कुल खर्च आमदनी आदि के लिए पूर्व से तैयारी अथवा बजट का एक हिस्सा अलग कर देना चाहिए. जैसे राशन, बिजली का बिल, अपने इन्टरनेट कनेक्शन, मोबाइल बिल और बच्चो पर खर्च आदि.
  • किसी नजदीकी बैंक शाखा में सेविंग अकाउंट खुलवा ले तथा निश्चय ही हर माह एक रकम खाते में जमा जरुर करवाए. बचत खाते में अच्छा ब्याज भी मिलता हैं.
  • हरेक इंसान को अपने आय व्यय का पूरा हिसाब डायरी में लिखना चाहिए. महीने में खर्च होने वाली बहुत सी चीजों का हिसाब रखने से बहुत सी फिजूलखर्ची से बच सकते हैं.
  • यदि किसी तरह की बुरी आदते है तो जरुर छोड़ देनी चाहिए, शराब, सिगरेट, गुटखा और पान मसाला आदि छोटी छोटी बातों पर महीने के हजार दो हजार खर्च हो जाते हैं. यदि इसी धन को बचत किया जाए तो साल के अंत में काफी बड़ी रकम हो जाती हैं.

यह भी पढ़े

दोस्तों यदि आपकों Paise Ki Bachat Kaise Kare in Hindi Language का यह लेख आपकों पसंद आया हो तो प्लीज अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *