वचन किसे कहते हैं। परिभाषा, भेद और उदाहरण – Vachan in Hindi

वचन किसे कहते हैं। परिभाषा, भेद और उदाहरण – Vachan in Hindi हिंदी व्याकरण मे  कई सारे ऐसी बातें होती हैं, जिनको सीखना बहुत जरूरी होता है क्योंकि यह सभी बातें हमारे वाक्यों को सही तरीके से पूरा करने में मदद करते हैं| इनमें से कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिनके बारे में हमें पूरी जानकारी होना जरूरी है ताकि हम समय रहते ही सही उपयोग करके आगे बढ़ सके|  ऐसे मैं आज हम आपको हिंदी व्याकरण के “वचन” के बारे में जानकारी देने वाले हैं, जो निश्चित रूप से ही आपके लिए बहुत उपयोगी होने वाले हैं|

वचन किसे कहते हैं। परिभाषा, भेद और उदाहरण – Vachan in Hindi

वचन किसे कहते हैं परिभाषा, भेद और उदाहरण – Vachan in Hindi

आज से पहले आपने कई बार वचन के बारे में पढ़ा और सुना भी होगा हालांकि वचन, संज्ञा के ऐसे रूप के बारे में जानकारी देते हैं, जो किसी एक व्यक्ति, वस्तु से अधिक होने या ना होने के बारे में हमें बताते हैं।

अन्य तरीके से हम कह सकते हैं कि वचन के माध्यम से किसी भी चीज  की संख्या का सही तरीके से आकलन किया जा सकता है। इसके अंतर्गत संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण भी आते हैं और आप उचित तरीके से इनका इस्तेमाल कर सकते हैं|

उदाहरण

  1. एक लड़की देखती है|
  2.  दो लड़के खड़े हैं|
  3.  वहां पर बहुत सारे बच्चे प्रार्थना कर रहे हैं|
  4.  हम सब मिलकर क्रिकेट खेलेंगे|

 इन सभी बातों से हमें वचन के बारे में जानकारी मिलती है, जिसमें संख्या भी दिखाई दे रही है।

वचन के भेद 

सामान्य रूप से वचन दो प्रकार के होते हैं जिन्हें हम संस्कृत और हिंदी में अध्ययन करते हैं।

  1. एकवचन — जिस भी शब्द की वजह से हमें किसी भी वस्तु, प्राणी, पदार्थ या व्यक्ति की एक होने का पता चलता है उसे एक वचन कहा जाता है। इनका उपयोग हम विभिन्न प्रकार से अपने पाठ्य पुस्तकों में या फिर अध्ययन में करते हैं। उदाहरण के तौर पर बच्चा,पुस्तक, टेबल, गाय, बंदर, मोर, लड़की आदि|
  2. बहुवचन— जब हमें अपने  किसी वाक्य से एक से अधिक संख्याओं का बोध हो वहां पर बहुवचन का इस्तेमाल किया जाता है। बहुवचन में हमेशा अनेकता का भाव आता है, जो कहीं ना कहीं हमें बहुवचन के बारे में भी बताता है। उदाहरण के रूप में–  लड़के, कपड़े, टोपियां,  स्त्रियां, बेटे, पुस्तकें, गुरु जन, बेटियां आदि|

एकवचन से बहुवचन बनाने के कुछ खास  नियम 

अगर आप एकवचन से बहुवचन वाक्य बनाते हैं, तो इसके लिए कुछ खास नियम आपको बताए जाते हैं जिनके तहत आप बदलाव कर सकते हैं।|

Telegram Group Join Now

  1. ऐसे वाक्य जिनमें अकारांत के पुल्लिंग शब्दों में आ की जगह  ए लगा देते हैं–
  • तारा —  तारे
  •  बेटा  — बेटे
  •  कपड़ा — कपड़े
  •  गधा — गधे
  •   केला–  केले
  •  पेड़ा  — पेड़े
  •  कमरा — कमरे
  •  कैमरा — कैमरे

  2, ऐसे वाक्य जिनमें अकारांत के स्त्रीलिंग शब्दों में  “अ” की जगह पर  “ऐ” लगा देते हैं|

  •  याद — यादें  
  •  रात — रातें
  •  पुस्तक — पुस्तकें
  •  सड़क  — सड़कें
  •  बहन — बहने
  •  बात — बातें
  •   चाल — चाले
  •  आँख—  आंखें 

  3. ऐसे वाक्य जिनमें अकारांत के स्त्रीलिंग शब्दों में “आ” की जगह पर  “ऐ” लगा दिया जाता है|   

  •  कविता–  कविताएं
  •  माता  — माताएं
  •  पत्रिका — पत्रिकाएं
  •  कामना–  कामनाएं  
  •  प्रार्थना  — प्रार्थनाएं
  •  लता—   लताएं
  •  अध्यापिका — अध्यापिकाएं
  •    छात्र— छात्राएं

 4. ऐसे वाक्य जिनमें इस तरह के शब्दों में या की जगह   चंद्रबिंदु  लगा दिया जाए

  •   चिड़िया — चिड़ियाँ
  •  गुड़िया — गुड़ियाँ
  •  चुहिया—  चुहियाँ
  •  बिंदिया — बिंदियाँ

 5. ऐसे वाक्य जिनमें    इकारांत   और ईकारांत के  स्त्रीलिंग शब्दों “या” लगाकर “इ” को ही “ई” कर दिया जाता है|

  •  नीति — नीतियां
  •  गति — गतियां
  •  नदी — नदियां
  •  लड़की—  लड़कियां
  •  टोपी—  टोपीयां
  •  सखी — सखियां
  •  नारी  —- नारियां

6 .  ऐसे वाक्य जब  उ,  अ, आ, इ, ई,  औ  की जगह पर  “ऐ” लगा दिया जाता है और  “ऊ” को “उ”  मैं बदल दिया जाता है|

  •  बहू   — बहुएं
  •  माता — माताएं
  •  वधू — वधूएं
  •  वस्तु—  वस्तुएं

7. ऐसे वाक्य जिनमें किसी विशेष वर्ग, लोग या समूह के बारे में जानकारी दिया जाता हो।

  •   मित्र — मित्रवर्ग
  •  गरीब — गरीब लोग
  •  विद्यार्थी — विद्यार्थीगण
  •  पाठक — पाठकगण
  •  सेना—  सेनादल
  •  बालक — बालक गण
  •  अधिकारी — अधिकारी वर्ग

8,   ऐसे वाक्य जिनमें एकवचन और बहुवचन दोनों में एक समान शब्द होते हैं|

  •   राजा—  राजा
  •  नेता—  नेता
  •  दादा–  दादा
  •  फल — फल
  •  पानी—  पानी
  •  पिता — पिता
  •  चाचा — चाचा
  •  पापा —पापा

9. ऐसे  वाक्य  जिनमें  शब्दों को दो बार उपयोग किया जाता हो|    

  •  भाई — भाई भाई
  •  बहन–  बहन बहन
  •  घर — घर घर
  •  शहर — शहर शहर
  •  नवीन —नवीन नवीन
  •  गांव — गांव गांव

एकवचन के स्थान पर बहुवचन का इस्तेमाल करने का तरीका

  1. कभी-कभी आदर्श स्वरूप बहुवचन का प्रयोग किया जाता है उदाहरण के तौर पर आज हमारे अध्यापक नहीं आए थे,  शिवाजी सच्चे वीर सपूत थे,  हमें गुरुजी की बातें अच्छी लगती हैं|
  2. कभी-कभी खुद को अच्छा दिखाने के लिए भी “वह” के स्थान पर  “वे” और “मैं” के स्थान पर “हम” का इस्तेमाल किया जाता है जिससे बात को बल मिल सके| उदाहरण के रूप में मैंने मम्मी से कहा हम बाजार जा रहे हैं|  आज  चाचा जी घर आए थे|   

बहुवचन के स्थान पर एक वचन का इस्तेमाल करने का तरीका

कई बार हम अपने दोस्तों से बातों ही बातों में “तू” का इस्तेमाल करते हैं। दरअसल  तू  एकवचन हैं और जिस का  तुम बहुवचन शब्द है| 

सभ्यता की वजह से हम “तू” की जगह “तुम” का इस्तेमाल करना पसंद करते हैं|  उदाहरण के तौर पर  अरे रामा  तुम कब आए?  आज तुम बहुत सुंदर दिख रही हो|

वचन में मुख्य अपवाद 

हम अपने शब्दों में कई प्रकार के वचन का इस्तेमाल करते हैं जिनमें मुख्य रुप से एकवचन और बहुवचन शामिल होते हैं। इसके बावजूद कुछ ऐसे अपवाद होते हैं, जो दोनों ही मुख्य वचन में शामिल किए जाते हैं जैसे बाबा,  नाना, दादा, युवा, पत्रकार, देवता, डॉक्टर, योद्धा, आत्मा आदि

वचन की पहचान करने के तरीके

वचन की पहचान करना आसान है जिसके बारे में हम आपको विस्तार से जानकारी देंगे। वाक्यों के माध्यम से भी किसी वचन के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हैं|

  1. वचन की पहचान संज्ञा या सर्वनाम के माध्यम से 
  • मैं स्कूल जाती हूं| [  एक वचन]
  •  हम  खेलने जाते हैं|   [ बहुवचन]
  •  गाय घास खाती है|[  एकवचन]
  •  मेरी तीन सहेलियां हैं|[  बहुवचन]
  •  तुम कहां जा रहे हो? [ एक वचन] 
  1. क्रिया के द्वारा वचन की पहचान करना
  •  लड़का दौड़ रहा है|[ एकवचन]
  • शेर सो रहा है|[ एकवचन]
  •  लड़के गाना गा रहे हैं|[  बहूवचन]
  •  कबूतर उड़ रहे थे|[ बहुवचन] 

सदा एकवचन में प्रयोग किए गए शब्द

कुछ शब्द ऐसे होते हैं जिन्हें एकवचन नहीं उपयोग किया जाता है और अपने वाक्यों में भी जगह दे दी जाती  है|  उदाहरण के तौर पर प्राकृतिक रूप से उपलब्ध संसाधन, आकाश, वर्षा को हमेशा एक वचन के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इसके साथ ही साथ जनता, बालू, सामान, सहायता, कचरा आदि को भी एक वचन के रूप में इस्तेमाल किया जाता है|  उदाहरण के रूप में

  1. आकाश से बारिश हो रही है|
  2.  मेरी सहायता करिए|
  3.  यहां वहां कचरा फेंकना मना है|

सदा बहुवचन में उपयोग किए गए शब्द

कुछ शब्द ऐसे होते हैं जिनका उपयोग हमेशा बहुवचन के रूप में किया जाता है और उन्हें पर्याप्त तरीके से अपने वाक्यों में भी विशेष जगह दी जाती है|  उदाहरण  के  रूप में 

  1. हम भगवान के दर्शन करने आए हैं|
  2. कल रात को उनके प्राण निकल गए|
  3.  सभी छात्र पढ़ाई कर रहे हैं|

वचन का हिंदी में प्रयोग

जब भी हम हिंदी में किसी वाक्य का उपयोग करते हैं या फिर नए-नए वाक्य बनाते हैं, ऐसे में हम वचन अवश्य रूप से उपयोग करते हैं जिनमें मुख्य रुप से एक वचन, बहुवचन शामिल होते हैं।

सामान्य रूप से देखा जाए तो बिना वचन के कोई भी वाक्य पूरा नहीं हो सकता क्योंकि हर वाक्य के पीछे वचन लगना आवश्यक होता है। ऐसे में विशेष बात का ध्यान रखना होगा ताकि वचन सही जगह पर लगाया जा सके और किसी प्रकार की गलती भी ना हो सके| 

कुछ शब्द ऐसे होते हैं, जहां पर  किसी भी वचन के एक ही शब्द होते हैं उन पर भी ध्यान रखना होगा और सही प्रकार से वाक्य बनाना होगा|

यह भी पढ़े

इस प्रकार से आज हमने आपको “वचन किसे कहते हैं। परिभाषा, भेद और उदाहरण – Vachan in Hindi” के बारे में सारी जानकारी दी हैं, जो निश्चित रूप से ही आपके काम आ सकती हैं।

कभी-कभी ऐसा होता है कि हम हिंदी भाषा पर ज्यादा ध्यान नहीं देते और हमसे गलतियां होने लगती हैं। हालांकि हिंदी भाषा सीखने और समझने में आसान होती हैं बावजूद इसके हम ऐसी प्यारी भाषा पर ध्यान नहीं देते। हिंदी हमारी मातृभाषा है ऐसे में इनके व्याकरण के बारे में भी जानकारी विस्तृत रूप से होना जरूरी माना गया है।

 आज हमने आपको जितनी भी  जानकारियां दी हैं सभी वचन से संबंधित हैं। इन के माध्यम से आप किसी प्रकार की गलती से बच सकते हैं और बनाने वाले वाक्य को सही तरीके से बना सकते हैं| 

 हमारे द्वारा लिखा गया यह  लेख उम्मीद करते हैं आपको पसंद आएगा|  इसे अंत तक पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

Leave a Comment