वेंकटेश अय्यर का जीवन परिचय Venkatesh Iyer Biography in Hindi

वेंकटेश अय्यर का वेंकटेश अय्यर का जीवन परिचय Venkatesh Iyer Biography in Hindi सामान्य तौर पर देखा जाता है कि भारत में क्रिकेट को एक विशेष दर्जा प्राप्त है जहां पर हर खिलाड़ी को ही लोग बड़े प्यार और मोहब्बत से अपनाते हैं और उनके हर परफॉर्मेंस पर ध्यान रखते हैं। आज तक इस देश में ऐसे कई महान  खिलाड़ियों का जन्म हुआ जिन्होंने क्रिकेट के माध्यम से लोगों का प्यार पाया। 

वेंकटेश अय्यर का जीवन परिचय Venkatesh Iyer Biography in Hindi

वेंकटेश अय्यर का जीवन परिचय Venkatesh Iyer Biography in Hindi

ऐसे ही आज हम एक तूफानी क्रिकेटर के बारे में बात करेंगे जिनमें क्रिकेट की ऊंचाइयों को छूने की काबिलियत है  और वह क्रिकेटर हैं वेंकटेश अय्यर। आप सभी ने इन्हें आईपीएल के मैचों में धुआंधार बल्लेबाजी करते हुए देखा होगा जिनमें कई लोगों ने इन्हें क्रिकेट  जगत का नया सितारा  मान लिया है| 

आज हम आपको इस महान क्रिकेटर वेंकटेश अय्यर के बारे में संपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं,  जिससे आपको भी इनके बारे में  पढ़कर अच्छा लगेगा।

कौन है वेंकटेश अय्यर 

वेंकटेश अय्यर को हम सभी  आईपीएल के  कोलकाता नाइट राइडर के  युवा ऑलराउंडर खिलाड़ी के रूप में जानते है,  जिनका मुख्य रूप से इंदौर में एक साधारण परिवार में जन्म  हुआ था|  जब से इन्होंने आईपीएल के मैचों में कदम रखा है तभी से इन्हें चमकते सितारे के रूप में देखा जा रहा है जहां उन्हें सबसे महंगा खिलाड़ी भी घोषित किया जा चुका है।

 इन्होंने अपने पहले ही मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ 27 गेंद में 41 रन की तूफानी पारी खेलकर टीम को हार से बचा लिया था और उसके बाद से ही  उन्होंने अपना परचम लहरा दिया और पीछे मुड़कर नहीं देखा|

जन्म

क्रिकेट जगत के ऑलराउंडर वेंकटेश अय्यर का जन्म 25 दिसंबर 1994 को इंदौर मध्य प्रदेश में हुआ था। वह एक तमिल ब्राहमण है और उनके पिता का नाम राजशेखर अय्यर  है। इनका पूरा नाम वेंकटेश राजसेकरण  अय्यर है और इनका निक नेम वेकी है। इनकी हाइट  6 फिट है और वजन 70 किलोग्राम है|

शिक्षा 

वेंकटेश  अय्यर ने अपनी शुरुआती शिक्षा “सैंट पौल हायर सेकेंडरी स्कूल” इंदौर से प्राप्त की। उसके बाद 2016 में उन्होंने इंटर की परीक्षा पास की और अपना दाखिला बीकॉम के लिए लिया था।

उन्होंने आगे की पढ़ाई इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडी से किया था, जो कि इंदौर में ही स्थित है।  पारिवारिक दबाव की वजह से उन्होंने सीए करने की सोचा लेकिन क्रिकेट के प्रति उनका प्यार हमेशा बरकरार रहा और इसलिए उन्होंने एमबीए करने का फैसला लिया। वह पढ़ाई में अच्छे थे और इसीलिए एमबीए उन्होंने पूरी की और उसके बावजूद भी क्रिकेट के प्रति उनकी दीवानगी बरकरार रही|

उनके पिता कभी नहीं चाहते थे कि वे अपनी शिक्षा को अधूरी छोड़ कर आगे बढ़े, ऐसे में उन्होंने  पिता की बात को मानते हुए एमबीए करना सही समझा।

घरेलू क्रिकेट में  शानदार प्रदर्शन 

बचपन से ही इन्हें क्रिकेट खेलने का शौक था और जब भी उन्हें मौका मिलता तो वे अपने दोस्तों के साथ क्रिकेट खेलने चले जाया करते थे ऐसे में कभी-कभी उन्हें घरवालों से डांट सुननी पड़ती थी लेकिन कभी भी उन्होंने अपने शौक को मरने नहीं दिया।

जब वे 10 साल के हुए उसी समय से ही उन्होंने क्रिकेट को अपना करियर बनाने की बात सोची और क्रिकेट के लिए उन्होंने इंदौर क्रिकेट क्लब में शामिल होना शुरू किया।

जब जब वे क्रिकेट खेलने वहां जाया करते थे तब उन्हें क्रिकेट के प्रति लगाव बढ़ता ही चला गया लेकिन उन्होंने कभी अपनी पढ़ाई पर इसे हावी होने नहीं दिया।

जब उन्होंने एमबीए कंप्लीट कर लिया था उसके बाद ही मुंबई के एक मल्टीनेशनल कंपनी में उन्हे जॉब मिल गई लेकिन उन्हें हमेशा क्रिकेट की याद सताने लगी और इस वजह से ही उन्होंने  अपनी जॉब को अलविदा कह दिया।

वेंकटेश अय्यर का पहला मैच

उनके करियर का सबसे पहला मैच 25 मार्च 2015 को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी था जो उनके करियर का पहला मैच बेहद महत्वपूर्ण साबित हुआ जिसे उन्होंने होलकर स्टेडियम में रेलवे क्रिकेट टीम के खिलाफ खेला था

जिसमें उन्होंने विकेट लेकर बाजी मार ली थी|  इस मैच के बाद  उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा  और लगभग 38 मैच खेलते हुए उन्होंने जबरदस्त इकोनामी रेट हासिल किया।

 इसके बाद उन्होंने 11 दिसंबर 2015 को विजय हजारे ट्रॉफी में सौराष्ट्र के खिलाफ मध्यप्रदेश के लिए राजकोट में पहला  लिस्ट  ए मैच खेला जिसमें उन्हें जबर्दस्त कामयाबी मिली।  धीरे-धीरे उन्होंने आगे बढ़ना सीख लिया और उनके परिवार को भी  उन पर गर्व होने लगा था।

शुरू में वे अंडर-19 स्तर तक विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में खेलते थे धीरे-धीरे उनके अंदर गेंदबाजी करने का भी जज्बा पैदा होने लगा और उन्होंने गेंदबाजी में भी रुचि दिखाई।

वेंकटेश अय्यर का आईपीएल करियर

वेंकटेश अय्यर ने इसी साल 2021 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ आईपीएल में अपना स्थान बनाया था और पहले ही मैच में उन्होंने 27 गेंद में 41 रन की पारी खेलकर  विरोधी टीम से  जीत वापस ले ली थी। 

इन्होंने अब तक आईपीएल के 5 मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने दो अर्धशतक लगाते हुए 141 की स्ट्राइक रेट हासिल की है और शानदार 193 रन बनाए हैं|  उनकी बेहतरीन बल्लेबाजी को देखकर यह कहा नहीं जा सकता कि इन्होंने अभी-अभी आईपीएल में कदम रखा  है क्योंकि इन्होंने उम्दा खेल दिखाया है|

उन्होंने अपने 15 पारियों में 36.33 रन प्रति मैच के औसत से 545 रन बनाए और इसमें उन्होंने सर्वोच्च 193 बनाएं। इसके अलावा उन्होंने 10 प्रथम श्रेणी मैचों में 112.20 की स्ट्राइक रेट के साथ सात विकेट भी लिए हैं जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 3/46 था।

अय्यर के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

1.पसंदीदा खिलाड़ीदिनेश कार्तिक, सौरव गांगुली
2.पसंदीदा भोजनशाकाहारी भोजन 
3.पसंदीदा मैदानमध्य प्रदेश भारत 
4.पसंदीदा शौकयात्रा करना और पढ़ना

वेंकटेश अय्यर का व्यवसायिक जीवन 

वेंकटेश अय्यर  हमेशा अपने खेल के प्रति सजग  दिखाई देते हैं,  लेकिन एक बार उन्हें भारत के मुख्यालय द्वारा बिगफोर एकाउंटिंग  डी लाइट के साथ  काम करने का मौका मिला लेकिन उन्होंने मना कर दिया क्योंकि वह उस समय रणजी ट्रॉफी में मध्य प्रदेश की ओर से खेलने वाले थे। 

अगर वे मना नहीं करते तो उन्हें कहीं बाहर जाकर रहना पड़ता और पढ़ाई करना पड़ता और इस वजह से वे अपने खेल से दूर हो जाते हैं और यही वजह है कि उन्होंने क्रिकेट से दूरी बनाना जरूरी नहीं समझा और अपने शौक को भी बरकरार रखा।

वेंकटेश अय्यर की नेट वर्थ

आज के समय में इनका नाम बड़े ही सम्मान के साथ लिया जाता है क्योंकि इन्होंने अपने खेल के माध्यम से दर्शकों का दिल जीत लिया है। ऐसे में उनकी नेटवथ 22  लाख रुपए मानी जा रही है,  जो आने वाले समय में बढ़ भी सकती है| 

मनोकामना

वेंकटेश  अय्यर  क्रिकेट के साथ साथ WWE के भी बहुत बड़े प्रशंसक हैं, जहां पर  वे  “द अंडरटेकर” के फैन माने जाते हैं|  वेंकटेश अय्यर की  मनोकामना है  कि “द अंडरटेकर”  डब्ल्यू डब्ल्यू ई बेल्ट पर साइन करके गिफ्ट में उन्हें दे। अंडरटेकर तीन बार हेवी वेट चैंपियन के विजेता रह चुके हैं। ऐसे में वेंकटेश अय्यर की  मनोकामना  उनके लिए बहुत मायने रखती है| 

क्रिकेटर राहुल द्रविड़ की बातों को रखेंगे याद

वेंकटेश ने खुद इस बात की जानकारी दी है कि  उनके कोच  राहुल द्रविड़ द्वारा दी गई सीख हमेशा अपने दिमाग में रखकर खेल खेलेंगे।  

इसके अलावा राहुल द्रविड़ को भी उन्होंने गुरु मानते हुए उनकी हर सीख को आगे बढ़ाने की कोशिश की है साथ ही साथ उन्होंने  उन्हीं के नक्शे कदम पर चलते हुए सफलता हासिल करने की बात की है|  यह देखना दिलचस्प होगा कि अय्यर  किस प्रकार से आगे चलकर सफलता हासिल करते हैं? 

कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए रहे लकी

वेंकटेश अय्यर को कोलकाता नाइट राइडर ने 20 लाख रुपए मूल्य में खरीदा था। उन्होंने ऑलराउंडर की भूमिका निभाई साथ ही साथ आंद्रे रसेल और शिवम मावी जैसे खिलाड़ियों को उन्होंने कड़ी टक्कर दी।

कुछ खिलाड़ियों से उन्होंने ड्रेसिंग रूम में भी अच्छी जानकारी हासिल की और शानदार अनुभव को सांझा किया।

वेंकटेश अय्यर का प्रमुख टाइमपास

ऐसे तो वेंकटेश अय्यर को क्रिकेट खेलना बहुत पसंद है और वह अपने खाली समय में भी इसे खेलना पसंद करते हैं लेकिन इसके अलावा भी उन्हे किताबें पढ़ना और जगह-जगह घूमना  पसंद आता है।

शुरुआती समय में उन्होंने बहुत अच्छे तरीके से क्रिकेट को आगे बढ़ाया है लेकिन उनका मानना है कि धीरे-धीरे नई-नई जगह को घूम कर अपना मनोरंजन करना  चाहते हैं|   

इसके अलावा उन्हें तरह-तरह की किताबें पढ़ने का भी शौक है जिसे वे समय रहते पूरा करते हैं। पढ़ाई में अच्छे होने के बावजूद भी उन्होंने कई सारी दूसरी किताबों को भी पढ़ कर अपनी जानकारी को बढ़ाया था जिसके माध्यम से वे आज आगे बढ़ पाने में सफल रहे हैं।

वेंकटेश अय्यर का पारिवारिक माहौल

वेंकटेश्वर एक साधारण  मिडिल क्लास परिवार से ताल्लुक रखते हैं। उनके परिवार की जीवन शैली और परंपराएं उसी प्रकार हैं जिस प्रकार एक साधारण परिवार में होती हैं। बचपन में  हमेशा उनके  शौक को ध्यान में रखा गया| 

उनके माता-पिता ने भी हमेशा उनका ख्याल रखा और उन्हें अच्छी तालीम दी जब उन्होंने क्रिकेट खेलने की बात की, तब परिवार ने उनका सहयोग दिया और यही वजह है कि वेंकटेश अय्यर कभी अपने माता-पिता और दोस्तों को नहीं भूलते जब जिन्होंने साथ हमेशा दिया।

निष्कर्ष

इस प्रकार से आज हमने देश के उभरते हुए क्रिकेटर वेंकटेश अय्यर के बारे में जानकारी दी है। आज के समय में उन्हें एक चमकते सितारे के रूप में देखा जा रहा है।

उम्मीद की जा रही है कि आगे चलकर भी वह भारत का नाम रोशन करेंगे और  साथ  ही साथ युवा वर्ग के लिए भी आइडियल की तरह दिखाई दे रहे हैं। 

यह भी पढ़े

उम्मीद करते हैं आपको वेंकटेश अय्यर का जीवन परिचय Venkatesh Iyer Biography in Hindi का यह लेख पसंद आया होगा, अगर इस युवा क्रिकेटर की जीवनी आपको पसंद आई हो तो अपने फ्रेड्स के साथ जरुर शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *