विराट कोहली जीवन परिचय Virat Kohli Biography In Hindi

क्रिकेटर विराट कोहली जीवन परिचय Virat Kohli Biography In Hindi- विराट कोहली भारतीय क्रिकेट टीम के महान खिलाडी तथा वर्तमान भारतीय अन्तर्राष्ट्रीय टीम के कप्तान है. विराट को आज कौन नहीं जानता है, पर आज हम विराट के बारे में विस्तार से जानेंगे.

विराट कोहली का परिचय Virat Kohli Biography In Hindi

विराट कोहली जीवन परिचय Virat Kohli Biography In Hindi
नामविराट कोहली
उपनामरन मशीन, चीकू, किंग ऑफ़ क्रिकेट
पेशाक्रिकेटर
नागरिकताभारतीय
माता-पितासरोज, प्रेम कोहली
धर्महिन्दू
कोचराजकुमार शर्मा
शौकव्यायाम, यात्रा, गायन, नृत्य
भाई-बहनविकास कोहली, भावना कोहली
जातिपंजाबी
बल्लेबाजी तरीकादाएं हाथ के बल्लेबाज
पत्नीअनुष्का शर्मा
पुत्र/पुत्रीविमिका कोहली
भूमिकाबल्लेबाज
जर्सी नंबर18

क्रिकेट वह खेल है, जिसमे अनेक खिलाडी हुए है, जिन्होंने इस खेल से अपना नाम कमाया है. उन्ही में से एक है, विराट कोहली जो अन्तर्राष्ट्रीय भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान तथा शीर्षक्रम के बलेबाज है.

विराट कोहली का जन्म : 5 नवम्बर 1988 को दिल्ली में हुआ. इनका परिवार पंजाबी परिवार था. जिसमे पिता प्रेम कोहली तथा माता का नाम सरोज कोहली था. इनका परिवार एक सामान्य परिवार था.

विराट के पिता पेशे से एक वकील थे, तथा माता गृहणी थी. विराट अपने परिवार में सबसे छोटे थे. विराट के एक भाई विकास तथा एक बहन भावना है.

विराट कोहली का बचपन से ही क्रिकेट से प्रेम था, वे हमेशा क्रिकेट खेल करते थे, विराट हमेशा मौहल्ले में क्रिकेट खेलने जाते थे, तथा अपने पिता जी के साथ क्रिकेट खेलते थे. विराट की दिलचस्पी के कारण राजकुमार के पास विराट को क्रिकेट ट्रेनिंग के लिए भेजा करते थे.

विराट कोहली की शिक्षा (Virat Kohli Education)

विराट कोहली ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा विशाल भारतीय पब्लिक स्कुल से की थी. विराट शिक्षा में मेधावी छात्र थे. लेकिन वे हमेशा से ही क्रिकेटर बनने की चाह रखते थे. जिस कारण उन्होंने शिक्षा पर कम ध्यान दिया. और क्रिकेट पर अधिक.

विराट ने 9 वर्षीय आयु में ही क्रिकेट क्लब में भाग लिया. पर अपने परिवार के कहने के आगे और हर जगह शिक्षा के महत्व के कारण विराट ने 12 वी कक्षा तक शिक्षा ग्रहण की. और क्रिकेट को अपना करियर बनाया.

विराट कोहली का क्रिकेट में करियर (Virat Kohli Career)

विराट ने मात्र 4 वर्ष की आयु में क्रिकेट शुरू किया. लम्बे सफ़र के बाद इनके क्रिकेट कैरियर की शुरुआत 2002 में होती है, जब वे अंडर 15 दिल्ली की टीम के चयन किया गया.

अपने शुरूआती मैचो में ही अच्छा प्रदर्शन करने के कारण तथा पहले सत्र में सबसे अधिक रन बनाने के कारण विराट को अगले सत्र के लिए दिल्ली का कप्तान बना दिया गया. यही से विराट का भग्य बदलता है.

साल 2004 में विराट को अंडर 17 में दिल्ली की टीम की ओर से खेलने का मौका मिलता है. इस सत्र में भी विराट का बल्ला आग उगलता है. और विराट रनों को बारिश करते है. जिस कारण अगले साल इन्हें रणजी ट्रोपी में शामिल किया जाता है.

विराट कोहली ने पहले रणजी टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड भी बनाया इस सत्र में विराट ने 7 मैचो में 757 रन बनाए जो रणजी के इतिहास में सबसे अधिक रन थे. जिसमे विराट का एवरेज 85 के तकरीबन रहा था.

रणजी के अच्छे प्रदर्शन के कारण 2006 में विराट को पहली बार अंडर 19 भारतीय टीम में शामिल किया गया. जिसमे इंग्लैड तथा पाकिस्तान के खिलाफ विराट ने जमकर रन बरसाए. जिस कारण विराट को अंडर 19 का स्थायी सदस्य बना लिया गया.

2006 में विराट को पहली बार फस्ट क्रिकेट में दिल्ली की टीम की ओर से खेलने का मौका मिला. इस सत्र में विराट ने तमिलनाडु तथा कर्नाटक के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया. जब विराट कर्नाटक के खिलाफ मैच खेल रहे थे.

उस मैच के दिन ही विराट के पिताजी प्रेम कोहली का देहांत हो गया. इस मैच को खेलकर विराट पिता का अंतिम संस्कार करने के लिए घर पहुंचे इस मैच में 90 रनों की पारी के साथ ही विराट ने अपने पिता को सादर श्रीद्धांजलि दी.

2008 में मलेशिया में खेले गए. वर्ल्डकप में अंडर 19 भारतीय टीम के कप्तान रहे. इस टूर्नामेंट में विराट ने सभी को बता दिया कि वे केवल बल्लेबाज ही नहीं बल्कि एक कप्तान भी है. जो टीम का अच्छा नेतृत्व भी कर सकते है.

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट

विराट कोहली लम्बे समय से अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे. अब उन्हें अन्तर्राष्ट्रीय टीम में खेलने का इन्तजार था. लम्बे संघर्ष के बाद श्रीलंका के खिलाफ सीरिज में जब सचिन और सहवाग जैसे खिलाडी चोट के कारण टीम से बाहर थे.

यही समय था, विराट का अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पर्दापण का. इस सीरिज में विराट को खेलने का मौका मिला. जिसमे उनका पहला मैच 18 अगस्त 2008, श्रीलंका के खिलाफ खेला गया. इसमे विराट खास प्रदर्शन नहीं कर सकें.

19 वर्षीय विराट की पहली अन्तर्राष्ट्रीय श्रंखला में उनका स्कोर 12, 37, 25, 54 थे. अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट के शुरूआती मैचो में इनका बल्ला खामोश रहा. लेकिन श्रीलंका के खिलाफ चौथे मैच में विराट ने अर्द्ध शतकीय पारी खेलकर टीम को मैच जिताया. और सीरिज भी अपने नाम की.

सितम्बर 2008 में विराट को आस्ट्रेलिया A के खिलाफ धाकड़ बल्लेबाज शिखर धवन की जगह टीम के शमिल किया था, इस सीरिज में विराट आस्ट्रेलिया के खिलाफ दो मैचो में खेले जिसमे एक बार बल्लेबाजी का मौका मिला था.

इसी समय चल रही निसार ट्रोपी में विराट ने दिल्ली की ओर से धाकड़ बल्लेबाजी का प्रदर्शन दिखया जिसमे एक शतक और एक अर्द्ध शतक भी था, इस सीजन में विराट ने सबसे अधिक रन बनाए.

विराट कोहली के अच्छे प्रदर्शन के कारण विराट लगातर टीम से जुड़े हुए थे. विराट को विश्व कप 2011 की टीम में शामिल किया गया, जो विराट का सपना था. विराट ने इस वर्ल्ड कप में भारतीय टीम को जीत दिलाने में भूमिका निभाई थी.

एकदिवसीय क्रिकेट में अपना जलवा दिखाने के कारण विराट को 2011 में वर्ल्ड कप के बाद पहली बार सफ़ेद जर्सी यानी टेस्ट क्रिकेट में उतारा गया. इनका पहला मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ था.

2011 में दिसम्बर के माह में विराट को आस्ट्रेलिया जैसी खतरनाक टीम के खिलाफ खेलने का मौका मिला. इस सीरिज में विराट का कई बार दर्शको द्वारा अपमान किया गया. लेकिन इस सीरिज में विराट ने सबसे अधिक रन बनाए.

हालाँकि आस्ट्रेलिया के खिलाफ इस सीरिज को भारत जीत नहीं सका. इसके बाद भारत श्रीलंका तथा आस्ट्रेलिया के खिलाफ त्रिकोणीय सीरिज में विराट भारत की ओर से श्रेष्ठ रनर रहे. पर भारत ये सीरिज भी नहीं जीत सका.

सन 2012 में विराट के बेहतर प्रदर्शन के कारण विराट को प्लेयर ऑफ़ द इयर का आवार्ड दिया गया. अगले साल विराट वनडे क्रिकेट में पहली बार बल्लेबाजी क्रम में शीर्ष के बल्लेबाज के रूप में उतरे.

2012 में चयनित एशिया कप टीम के विराट के बेहतर प्रदर्शन के कारण इन्हें टीम के शामिल किया गया तथा टीम का उपकप्तान भी बनाया गया. एशिया कप में विराट ने खूब रन बनाए तथा एक मैच में पाकिस्तान के खिलाफ 183 रनों को पारी खेली.

इस मैच में विराट भारतीय टीम को जीत दिलाने में कायम रहे. किसी भी खिलाडी का एशिया कप में सर्वाधिक स्कोर था. जो विराट का आज तक श्रेष्ठ स्कोर बना हुआ है. इस दौरान विराट ने लारा का रिकॉर्ड तोडा.

एशिया कप के बाद विराट ने न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में अपना दूसरा शतक जमाया. ये श्रंखला दो मैचो की थी. जिसमे विराट ने २०० से अधिक रन बनाए.

सन 2015 में विराट ने विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ पहले ही मैच में शतक जमाया तथा दुसरे मैच में अफ्रीका के खिलाफ 40 से अधिक रन बनाए इस प्रकार विश्वकप में विराट ने ३०० से अधिक रन बनाए.

2016 के t-ट्वेंटी विश्व कप में विराट ने भारतीय टीम के लिए सबसे अधिक रन बनाए तथा इस विश्वकप में पाकिस्तान वेस्टइंडीज तथा आस्ट्रेलिया के खिलाफ अर्द्धशतकीय पारिया खेली.

इस विश्व कप में विराट ने जमकर रन बरसाए लेकिन इस विश्वकप में भारतीय टीम वेस्टइंडीज के खिलाफ हार गई. और ये विश्वकप वेस्टइंडीज के नाम हुआ. हालाँकि फाइनल इंग्लैंड के खिलाफ था.

2017 की icc चैंपियन ट्रोपी में विराट ने भारतीय टीम का नेतृत्व किया. इस ट्रोपी में भारत ने शानदार प्रदर्शन किया. इस ट्रोपी में भारत ने फाइनल तक का सफ़र किया. लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ हार गई.

इस ट्रोपी में विराट ने भारत को उप चैम्पियन बनाया. इस ट्रोपी में भारतीय टीम के सभी खिलाडियों का शानदार प्रदर्शन देखने को मिला. इसके बाद विराट ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ दो शतक तथा दो अर्द्धशतक बनाकर अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखा.

इसके बाद विराट ने टेस्ट क्रिकेट में लगातार 4 सीरिज में चार दोहरा शतक लगाकर सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए इसके साथ ही विराट टेस्ट के नंबर वन बल्लेबाज बन गए.

विराट कोहली अभी तक ७० शतक जड़ चुके है. जिसमे ४३ शतक वनडे में २७ शतक टेस्ट क्रिकेट में लेकिन विराट टी ट्वेंटी में अभी एक शतक लगामे में भी असमर्थ है.

विराट कोहली की शादी और बच्चे (Virat Kohli Marriage)

विराट कोहली का विवाह 11 दिसम्बर 2017 को फिल्म इंडस्ट्रीज की अभिनेत्री अनुष्का शर्मा से हुआ, जो अनेक फिल्मो में काम कर चुकी है. अनुष्का विराट एक दुसरे को बहुत पसंद करते है.

अनुष्का विराट की एकमात्र गर्लफ्रेंड भी है. विराट तथा अनुष्का के घर वामिका कोहली बेटी का जन्म हुआ. वामिका का जन्म 11 जनवरी 2021 को हुआ था.

आईपीएल कैरियर

विराट कोहली के आईपीएल कैरियर की शुरुआत आईपीएल के पहले सीजन से ही होती है. जहाँ विराट को बैंगलोर की टीम इस युवा खिलाडी को खरीदकर बल्लेबाज के रूप में खूब मौके देती है. लेकिन विराट का प्रदर्शन काफी कमजोर रहा.

लगातर 2 सीजन में विराट खास जलवा नहीं दिखा सकें. लेकिन 2010 में विराट बैंगलोर के श्रेष्ठ स्कोरर रहे. और इस सीजन में बैंगलोर फाइनल तक गई. लेकिन हार का सामना करना पड़ा.

2011 के आईपीएल में विराट को टीम का उपकप्तान बनाया गया. जिसमे कई मैचो में विराट को कप्तानी करने का मौका भी मिला. इस सीजन में विराट गेल के बाद सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाडी रहे. इस सीजन में विराट का कुल स्कोर 557 था.

2012 के आईपीएल में विराट 364 ही बना सकें.टीम के कप्तान विटोरी का सेनावृति में प्रवेश करने के कारण उपकप्तान विराट को टीम का नेतृत्व सौपा गया. जिसे विराट ने खूब निभाया. और टीम को पांचवे स्थान पर रखा.

इस सत्र में विराट ने ६०० से अधिक रन बनाए. जिसमे 6 अर्द्धशतकीय पारी भी शामिल थी. इस सीजन में विराट तीसरे सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाडी रहे.

अगले सत्र में बैंगलोर अंकतालिका में 7 स्थान पर रही. जिसमे विराट ने 359 रन बनाए.इसके बाद 2015 में विराट ने टीम को सेमीफाइनल में पहुँचाया. इस सीजन में विराट ने ५०० से अधिक रन बनाए.

2016 के आईपीएल में विराट ने बैंगलोर को फाइनल तक पहुँचाया लेकिन हैदराबाद के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा. इस सीजन में विराट ने सबसे अधिक रन बनाए. जिसमे चार शतक भी शामिल थे.

लगातार विराट कोहली आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन कर रहे है. लेकिन वे बैंगलोर को आईपीएल का ख़िताब जिताने में अभी भी समर्थ नहीं रहे है. विराट आईपीएल के श्रेष्ठ बल्लेबाज तथा कप्तानो में से एक है.

रिकॉर्ड

  • सचिन के बाद सबसे अधिक शतक 70 बनाने वाले खिलाडी.

  • odi क्रिकेट में लगातर 3 शतक लगाने वाले एकमात्र बल्लेबाज.

  • अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे कम पारियों 137 में 8000 रन बनाने का रिकॉर्ड.
  • किसी टेस्ट को दोनों पारियों में बतौर कप्तान सबसे अधिक बार २०० से अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड.
  • बतौर कप्तान पहले तीन टेस्ट में तीन शतक बनाने का रिकॉर्ड.
  • टेस्ट में लगातार चार सीरिज में चार दोहरे शतक बनाने का रिकॉर्ड.
  • टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे अधिक रन.
  • टी ट्वेंटी में सबसे अधिक अर्द्ध शतक बनाने का रिकॉर्ड.
  • अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सभी फोर्मेट में २०००० रन.
  • किसी एकदिवसीय सीरिज में सबसे ७ अधिक बार ३०० से अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड.
  • रोहित शर्मा के साथ 4 बार २०० से अधिक रनों की साझेदारी का रिकॉर्ड.
  • एक वर्ष में सबसे अधिक अन्तर्राष्ट्रीय रन बनाने का रिकॉर्ड.
  • बतौर कप्तान वनडे क्रिकेट में एक साल में सबसे अधिक 6 वनडे शतक लगाने का रिकॉर्ड.
  • टेस्ट क्रिकेट में 6 दोहरे शतक बतौर कप्तान. भारत की सबसे अधिक दोहरे शतक धारी बल्लेबाज.
  • अपने पहले विश्वकप मैच में शतक लगाने वाले पहले खिलाडी बने.
  • विराट आईपीएल में ६००० से अधिक रन बनाने वाले खिलाडी बने.

पुरस्कार/आवार्ड

  • साल 2012 में ICC प्लेयर ऑफ़ द इयर अवार्ड प्राप्त.
  • 2012 पीपल चॉइस अवार्ड फॉर फेवरेट स्पोर्ट्समैन आवार्ड.
  • २०१३ में अर्जुन पुरुष्कार
  • सिएनएन आईबीएन इन्डियन ऑफ़ डी इयर २०१७
  • सिएनएन आईबीएन इन्डियन पीपल चॉइस अवार्ड फॉर फेवरेट स्पोर्ट्समैन
  • राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार २०१८
  • पद्म श्री पुरस्कार २०१७
  • विज्डन क्रिकेटर्स ऑफ द ईयर 2019
  • सर गारफील्ड सोबर्स ट्राफी 2018

खेल सम्मान

  • अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद पुरुष टीम वनडे क्रिकेटर ऑफ़ द डिकेड: 2011–2020
  • अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद पुरुष टेस्ट टीम ऑफ़ द डिकेड: 2011–2020
  • अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद मेन्स ODI टीम ऑफ़ द डिकेड: 2011–2020
  • अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद पुरुष  T20 टीम ऑफ़ द डिकेड: 2011–2020
  • सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी (आईसीसी मेन्स क्रिकेटर ऑफ द डिकेड): 2011–2020
  • सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी (आईसीसी क्रिकेटर ऑफ द ईयर): 2017, 2018
  • आईसीसी वनडे प्लेयर ऑफ द ईयर: 2012, 2017, 2018
  • आईसीसी टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर: 2018
  • अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ODI टीम ऑफ़ द ईयर: 2012, 2014, 2016, 2017, 2018, 2019
  • आईसीसी टेस्ट टीम ऑफ द ईयर: 2017, 2018, 2019
  • अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद स्पिरिट ऑफ क्रिकेट: 2019
  • पोली उमरीगर विजडन लीडिंग क्रिकेटर इन द वर्ल्ड: 2016, 2017, 2018
  • सिएट इंटरनेशनल क्रिकेटर ऑफ द ईयर: 2011-12, 2013-14, 2018-19
  • बर्मी आर्मी – वर्ष का अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी: 2017, 2018

पसंदीदा चीजे

  • पसंदीदा अभिनेता- सलमान खान, रॉबर्ट डॉउनी जूनियर तथा जॉनी भाग
  • पसंदीदा खाना- सेलमन तथा सुशी
  • पसंदीदा अभिनेत्री- पेनेलोप क्रूज तथा अनुष्का शर्मा
  • कार- ओडी कार
  • बॉलीवुड फ़िल्में- पाइरेट्स ऑफ द कैरेबियन तथा रॉकी और आयरन मैन आदि.
  • हॉलीवुड फिल्में- रॉकी और आयरन मैन और पाइरेट्स ऑफ द कैरेबियन आदि.

संपत्ति और कमाई

विराट कोहली जिस प्रकार मैदान में छाए हुए है. उसी भांति ये दर्शको की लोकप्रियता तथा सोशल मिडिया पर हमेशा छाए रहते है. विराट विश्व के अमीर क्रिकेटरों में से एक है.

विराट की कुल संपत्ति 700 करोड़ से अधिक है. विराट के पास ओडी कार भी है. विराट की आईपीएल सलाना फ़ीस 15 करोड़ है. तथा भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की ओर से विराट को सालान 7 करोड़ रुपये मिलते है.

विराट कोहली के रोचक तथ्य

  • विराट कोहली के कोच अजित सिंह ने विराट को चीकू का उपनाम दिया.
  • एकदिवसीय क्रिकेट में भारतीय टीम की ओर से सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड विराट के नाम है.
  • कोहली के शरीर पर अनेक टेटू बनाए गए है.
  • विराट कोहली विश्व के टॉप 10 शौक़ीन व्यक्तियों में से एक है.
  • विराट कोहली आज अनेक कम्पनियों के विज्ञापन का कार्य कर रहे है.
  • विराट को माँ के हाथ का बना खाना बेहद पसंद है.
  • विराट के आज के समय में काफी लोकप्रिय है, जिनमे विराट को कई बार खून से लिखे पत्र भी मिलते है.
  • विराट की बचपन की पसंदीदा अभिनेत्री अनिश्मा कपूर है.
  • भारत के राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने विराट को अर्जुन आवार्ड दिया.
  • विराट ने पहली बार 2012 में पहली बार प्लेयर ऑफ़ द इयर का आवार्ड जीता था.
  • कोहली एक समाजसुधारक भी है, जो हाल ही में अपने नाम से कई संस्थाए चला रहे है.

  • विराट ने अपने नेतृत्व में अंडर 19 टीम को ख़िताब जिताया था.

ये भी पढ़ें

प्रिय दर्शको उम्मीद करता हूँ, आज का हमारा लेख विराट कोहली की जीवनी Virat Kohli Biography In Hindi आपको पसंद आया होगा, यदि लेख अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *