बंगाल का इतिहास व जानकारी | West Bengal History In Hindi

पश्चिम बंगाल का इतिहास व जानकारी | West Bengal History In Hindi: भारत के बंगाल राज्य का इतिहास बेहद पुराना हैं. जब सिकन्दर महान ने भारत पर आक्रमण किया उस समय इस प्रान्त को गंगारिदयी नाम से जाना जाता था. कई राजवंशों ने बारी बारी से बंगाल पर प्रभुत्व स्थापित किया और शासन करते रहे. यहाँ के प्रमुख राजवंशों की बात करे तो गुप्त, मौर्य, शशांक, पाल, मुगल, सेन और इसके बाद यह अंग्रेजों की अधीनता में आ गया. बंगाल पर सर्वाधिक लगभग ४०० वर्षों तक पाल वंश के शासकों ने शासन किया था. 

पश्चिम बंगाल का इतिहास व जानकारी | West Bengal History In Hindi

पश्चिम बंगाल का इतिहास व जानकारी West Bengal History In Hindi

आधुनिक बंगाल यानि सोहलवी शताब्दी के बाद बंगाल पर ब्रिटिश कम्पनी का अधिकार हो गया था. प्लासी के बैटल के बाद अंग्रेज वैधानिक रूप से भारत के अधिकार व बंगाल के शासक हो गये थे.

उन्होंने भारत में आगमन के साथ ही फूट डालो और राज करो की नीति को अपनाया, इसी का ही नतीजा था कि १९०५ में लार्ड डलहौजी ने बंगाल विभाजन (Partition of Bengal) कर दिया गया.

जनता की पहल पर १९११ में फिर से बंगाल एक हो गया. मगर शायद यह भी मंजूर नही था. १९४७ के भारत पाकिस्तान विभाजन में यह दो भागों में विभाजित हो गया.

१९५६ में भारतीय हिस्से का बंगाल पश्चिम बंगाल तथा १९७१ पूर्व तक पाकिस्तान के कब्जे वाला पूर्वी बंगाल कहलाता था. जो १९७१ में एक स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में सामने आया. अब एक नजर पश्चिम बंगाल के प्राचीन इतिहास व तथ्यों पर.

१२०२ ई में बख्तियार खिलजी ने लक्ष्मण सेन को पराजित कर तुर्क सत्ता को प्रारम्भ किया. धीरे धीरे बंगाल के अधिकाँश हिस्सों पर तुर्क स्थापित हो गये. दिल्ली से दूर स्थित होने के कारण बंगाल के सरदार/ अमीर प्रायः स्वतंत्र होने का प्रयास करते रहते थे. मोहम्मद बिन तुगलक के काल में अलाउद्दीन अली शाह ने स्वयं को स्वतंत्र घोषित कर दिया था.

१३४५ में इलियास खां सम्पूर्ण बंगाल पर अधिकार का गद्दी पर बैठा. फिरोज तुगलक ने इलियास के शासन में बंगाल पर आक्रमण किया जो असफल रहा. बंगाल के सुल्तानों ने बंगाल का सांस्कृतिक रूप में पर्याप्त विकास किया. १३८६ ई में पांडुआ में सिकन्दर शाह ने अदीना मस्जिद बनवाई जिसमें ४०० गुम्बद हैं.

रक्दुद्दीन बारबकशाह बंगाली साहित्य का महान संरक्षक था. उसने मालाधर बसु को गुणराज खां तथा उसके पुत्र को सत्यराज खां की उपाधि दी थी. मालाधुर बसु ने श्री कृष्ण विजय की रचना की. कृतिवास ने रामायण का बांग्ला भाषा में अनुवाद इसी काल में किया. कृतिवास रामायण को पंचवेद अथवा बाइबिल कहते हैं.

अलाउद्दीन हुसैनशाह बंगाल का श्रेष्ट मुस्लिम शासक था. उसने खलिफतुल्ला की उपाधि धारण की और राजधानी को पांडुआ से गौड़ स्थानांतरित किया. हिन्दुओं के प्रति उदारता के कारण इसे नरपति तिलक, कृष्ण का अवतार और जगत भूषण आदि उपाधियाँ दी गई.

नुसरत शाह ने गौड़ में बड़ा सोना मस्जिद तथा कदम रसूल मस्जिद बनवाई. इसने काशीराम द्वारा महाभारत का प्रथम बांग्ला भाषी अनुवाद करवाया, नुसरतशाह ने बाबर से संधि की थी. इसी समय में पुर्तगाली सबसे पहले बंगाल में प्रविष्ट हुए.

पश्चिम बंगाल का इतिहास और रोचक तथ्य

राज्य का नामपश्चिम बंगाल
राजधानीकोलकाता
सबसे बड़ा शहरकोलकाता
क्षेत्रफल88,752 वर्ग किमी
जनसंख्या9,13,47,736 (2011)
जिला23
स्थापना20 June 1957
राज्य की मुख्य भाषाएंहिंदी, बंगाली, उर्दू, संताली, ओड़िया,
क्षेत्रफल के आधार पर देश में स्थान14वां
जनसंख्या के आधार पर देश में स्थानचौथा
साक्षरता दर76.26% (2011)
राजकीय पशुबंगाल बाघ
राजकीय वृक्षचितौन
राजकीय पक्षीश्वेतकंठ कौडिल्ला
राजकीय पुष्पहरसिंगार

पश्चिम बंगाल की भौगोलिक स्थिति (Geographical Location of West Bengal)

भारत के हिस्से वाले पश्चिम बंगाल की भौगोलिक स्थिति विस्तार की बात करें तो यह देश का क्षेत्रफल के हिसाब से 14 वां बड़ा राज्य हैं. राज्य का भौगोलिक क्षेत्रफल 88,752 वर्ग किमी हैं. राज्य की स्थिति की बात करें तो पूर्व में यह बांग्लादेश के साथ अपनी अंतर्राष्ट्रीय सीमा साझा करता हैं.

राज्य के उत्तर पूर्व में असम, उत्तर में भूटान और सिक्किम तथा पश्चिम में झारखंड एवं बिहार के साथ अन्तर्राज्यीय सीमा जुड़ती हैं. यहाँ के घने वनों में स्थित सुंदरवन विश्व का सबसे बड़ा डेल्टा हैं. राज्य की प्रमुख नदियों की बात करे तो तोरसा, महानंदा और तीस्ता हैं.

पश्चिम बंगाल की जनसंख्या (Population of West Bengal)

91,347,736 की आबादी के साथ वेस्ट बंगाल भारत का चौथा सर्वाधिक आबादी वाला राज्य हैं. साल 2021 की अनुमानित जनसंख्या करीब दस करोड़ हैं. राज्य में पढ़े लिखे लोगों की दर की बात करें तो औसतन साक्षरता दर 76.26 हैं. राज्य की महिला साक्षरता दर 70 प्रतिशत और पुरुष साक्षरता 87 प्रतिशत के आसपास हैं.

राज्य की धार्मिक आबादी की बात करें तो राज्य के करीब 70 प्रतिशत लोग हिन्दू धर्म का अनुसरण करने वाले हैं, इनकी तादाद करीब 7 करोड़ हैं. हिन्दुओं के बाद पश्चिम बंगाल में सबसे बड़ी आबादी मुस्लिम धर्म की हैं, जिनकी कुल जनसंख्या में 30 प्रतिशत हिस्सा हैं.

FAQ

Q 1. भारत में पश्चिम बंगाल किस दिशा में स्थित है?

उत्तर- पश्चिम बंगाल भारत के पूर्वी हिस्से में स्थित है।

प्रश्न 2. पश्चिम बंगाल के पड़ोस में कौन हैं?

उत्तर- नेपाल, सिक्किम, भूटान, असम, बांग्लादेश, ओडिशा, झारखंड, बिहार पश्चिम बंगाल के पड़ोस में राज्य हैं।

Q 3. राज्य में कितने जिले हैं?

उत्तर- राज्य में 23 जिले हैं।

प्रश्न 4. यहाँ की मुख्य भाषा कौन सी है?

उत्तर- यहाँ की मुख्य भाषा बांग्ला है।

Q 5. बंगाल पर इस्लामिक शासन की शुरुआत कब हुई?

उत्तर- बंगाल पर इस्लामी शासन 11वीं शताब्दी में शुरू हुआ।

Q 6. यूरोपियन बंगाल में कब पहुंचे?

उत्तर- बंगाल में यूरोपीय लोगों का आगमन 15वीं शताब्दी के अंत में हुआ।

Q 7. बंगाल ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के अधीन कब आया?

उत्तर- 18वीं शताब्दी के अंत में, बंगाल ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के अधीन आ गया।

Q 8. भारत में ब्रिटिश साम्राज्य की नींव किस राज्य से रखी गई थी?

उत्तर- भारत में ब्रिटिश साम्राज्य की नींव बंगाल से ही रखी गई थी।

Q 9. बंगाल का क्षेत्रफल कितना है ?

Ans बंगाल का क्षेत्रफल 88,853 वर्ग किमी है।

Q 10. पश्चिम बंगाल में कितने जिले हैं?

उत्तर- पश्चिम बंगाल में 23 जिले हैं।

यह भी पढ़े

आशा करता हूँ फ्रेड्स आपकों बंगाल का इतिहास व जानकारी West Bengal History In Hindi का यह लेख पसंद आया होगा, यहाँ हमने बंगाल के बारे में आपकों संक्षिप्त में जानकारी दी हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published.