मेजर गौरव आर्य का जीवन परिचय | Major Gaurav Arya Biography in Hindi

मेजर गौरव आर्य का जीवन परिचय | Major Gaurav Arya Biography in Hindi पिछले कई दिनों से इंटरनेट पर मेजर गौरव आर्य के बारे में जानने के लिए काफी कुछ सर्च किया जा रहा है। बता दें कि मेजर गौरव आर्य अक्सर टीवी में राष्ट्रीय सिक्योरिटी, लीडरशिप और डिफेंस जैसे सब्जेक्ट पर डिबेट करते हुए दिखाई देते हैं। अगर आप मेजर गौरव आर्य की लाइफ के बारे में जानना चाहते हैं तो मेजर की इस बायोग्राफी वाले आर्टिकल में आपको मेजर गौरव आर्य की जीवनी से संबंधित सभी इंफॉर्मेशन प्राप्त होगी।

मेजर गौरव आर्य का जीवन परिचय Major Gaurav Arya Biography in Hindi

मेजर गौरव आर्य का जीवन परिचय Major Gaurav Arya Biography in Hindi

गौरव आर्य का व्यक्तिगत परिचय

पूरा नाममेजर गौरव आर्य 
प्रोफेशनजनरलिस्ट
जन्म तारीख25 सितंबर 1972 
जन्म स्थानभारत का नई दिल्ली राज्य 
गृह नगरभारत का नई दिल्ली राज्य 
वर्तमान उम्र49 साल
राशितुला
धर्महिंदू
राष्ट्रीयताभारत
यूनिवर्सिटीसेंट स्टीफन कॉलेज नई दिल्ली, आईआईटीसी लखनऊ 
शैक्षिक योग्यताबीए ऑनर्स, मार्केटिंग और सेल्स में एमबीए 
वैवाहिक स्थितिविवाहित 
रेजीमेंट17 कुमाऊँ रेजीमेंट
शौकलिखना, डिबेट करना

प्रारंभिक जीवन

टीवी पर अक्सर विभिन्न मुद्दों पर डिबेट करते हुए दिखाई देने वाले मेजर गौरव आर्य जिस परिवार में पैदा हुए थे उस परिवार का गवर्नमेंट नौकरी से पुराना नाता था, क्योंकि इनके जो पिताजी थे वह खुद भी एक आईपीएस ऑफिसर थे। आर्य का जन्म सन 1972 में 25 सितंबर के दिन हमारे भारत देश के नई दिल्ली राज्य में ही हुआ था। 

रोज जब हम टीवी खोलते हैं और टीवी खोलने के बाद हम रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क लगाते हैं तो उस पर हमें एक निश्चित टाइम पर मेजर गौरव आर्य दिखाई देते हैं, क्योंकि अभी के टाइम में यह रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क मे हीं काम कर रहे हैं। इनके पद की बात की जाए तो यह रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क में कंसल्टिंग एडिटर हैं।

इसके अलावा यह टीवी पर आने वाले रिपब्लिक भारत चैनल में टीवी कार्यक्रम को होस्ट करने का काम भी करते हैं। इनकी लोकप्रियता वर्तमान के टाइम में बढ़ती ही जा रही है क्योंकि यह बड़ी बेबाकी से टीवी डिबेट करते हैं और बिना कोई लाग लपेट के अपनी बात को दर्शकों के सामने और पैनलिस्ट के सामने रखते हैं।

शिक्षा

मेजर गौरव आर्य ने अपनी प्रारंभिक एजुकेशन को कहां से हासिल किया है, इसके बारे में हमें जानकारी नहीं पता है। हालांकि हमें यह पता है कि इन्होंने अपनी ग्रेजुएशन नई दिल्ली राज्य में स्थित सेंट स्टीफन कॉलेज से पूरी की है। 

सेंट स्टीफन कॉलेज से आर्य ने बीए ऑनर्स की डिग्री को पूरा किया है। इसके अलावा इन्होंने आईआईटीसी लखनऊ से भी ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की है। 

गौरव आर्य ने आईआईटीसी लखनऊ से मार्केटिंग और सेल्स के सब्जेक्ट में मास्टर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन की पढ़ाई को पूरा किया है और इसके बाद वह कॉरपोरेट सेक्टर में नौकरी करने लगे थे।

आपकी इंफॉर्मेशन के लिए बता दें कि गौरव आर्य सिर्फ टीवी पर डिबेट ही नहीं करते हैं बल्कि यह अभी तक कई किताबें भी लिख चुके हैं क्योंकि इन्हें बचपन से ही लिखने का शौक है और यह अपने आप को एक लेखक के तौर पर प्रजेंट करते हैं। 

यह रिपब्लिक भारत की वेबसाइट के लिए तो आर्टिकल दैनिक तौर पर लिखने का काम करते ही हैं, साथ ही यह अन्य कई फेमस हिंदी भाषा और अंग्रेजी भाषा की इंडियन वेबसाइट के लिए भी रोजाना आर्टिकल लिखते हैं, जिसके जरिए इनकी कमाई भी होती है। 

इसके अलावा यह यूट्यूब पर भी काफी सक्रिय रहते हैं। यूट्यूब पर ऐसे कई चैनल है जहां पर आपको आर्य की डिबेट वाले वीडियो आसानी से देखने को मिल जाएंगे। 

जब गौरव आर्य ने भारतीय सेना को कहा अलविदा

मेजर ने जब भारतीय सेना को जॉइन किया था, तो उसके बाद यह सिर्फ 6 साल तक ही इंडियन आर्मी में अपनी सर्विस को दे पाए थे जिसका कारण यह था कि एक बार ड्यूटी करते वक्त इनके साथ कुछ दुर्घटना घट गई थी और उसी के बाद हेल्थ से संबंधित प्रॉब्लम को देखते हुए उन्होंने साल 1999 में भारतीय फौज को छोड़ने का डिसीजन लिया।‌

मिलिट्री कैरियर

काफी लंबे समय से मेजर भारतीय सेना में जाने की तैयारी कर रहे थे और उनका यह सपना साल 1993 में आखिरकार पूरा हो ही गया। यही वह समय था जब आर्य ने स्टाफ सिलेक्शन बोर्ड की एग्जाम को काफी अच्छे अंकों के साथ पास किया था और इसकी वजह से शार्ट सर्विस कमीशन ऑफिसर के तहत इन्हें भारतीय सेना में शामिल होने का मौका मिला।

जिस साल में आर्य भारतीय सेना में भर्ती हुए, उस साल मे भारतीय सेना में शार्ट सर्विस कमीशन के ऑफिसर के लिए एक नियम था जिसके अंतर्गत जो भी इससे जुड़ता था उसे टोटल 14 साल तक भारतीय सेना में शामिल रहना पड़ता था परंतु चोट लग जाने के कारण सिर्फ 5 साल के बाद में ही साल 1999 में गौरव ने इंडियन आर्मी की सर्विस को छोड़ दिया।

गौरव आर्य 17 कुमाऊँ रेजीमेंट में भी अपनी सर्विस दे चुके हैं। इस रेजीमेंट में भर्ती होने से पहले इन्हें ट्रेनिंग के लिए चेन्नई भेजा गया था। चेन्नई में ही स्थित ऑफिसर ट्रेनिंग अकैडमी में इन्होंने अपनी ट्रेनिंग को पूरा किया था और उसके बाद 17 कुमाऊं रेजिमेंट में इन्हें शामिल किया गया था।

मेजर गौरव आर्य का टीवी कैरियर

जब साल 1999 में मेजर गौरव आर्य ने भारतीय सेना को छोड़ा तब उसके बाद इनके मन में फिर से पढ़ाई करने की इच्छा प्रकट हुई और फिर इन्होंने काफी सोच विचार करने के बाद मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन की डिग्री मार्केटिंग और सेल्स में पाने का विचार किया और इसीलिए इस डिग्री को पाने के लिए इन्होंने लखनऊ की तरफ अपने कदम आगे बढ़ाएं और लखनऊ आ करके यह एक हॉस्टल में रहने लगे।

लखनऊ में इन्होंने आईआईटीसी कॉलेज में एडमिशन लिया और यहां से इन्होंने कठिन परिश्रम करके मार्केटिंग और सेल्स में एमबीए की डिग्री को कंप्लीट किया है। 

आईआईटीसी लखनऊ यूनिवर्सिटी से अपनी डिग्री को पूरा करने के बाद मेजर गौरव आर्य ने विभिन्न बड़ी कंपनी में नौकरी की जिसमें एचसीएल, विप्रो, वोडाफोन जैसी कंपनियां शामिल हैं।

जब गौरव आर्य लाइमलाइट में आए

साल 2016 का टाइम वह समय था, जब मेजर गौरव आर्य पूरे भारत भर में एक ही रात में फेमस हो गए थे। दरअसल बात यह थी कि इन्होंने बुरहान वानी के ऊपर एक ओपन लेटर लिखा था और यह लेटर काफी ज्यादा वायरल हुआ था और इस लेटर में कुछ ऐसी बातें थी जो राष्ट्रभक्त लोगों को काफी ज्यादा पसंद आई थी।

मेजर गौरव आर्य ने ओपन लेटर में क्या लिखा?

साल 2016 का जुलाई का ही वह महीना था जब मेजर गौरव आर्य ने बुरहान वानी के खिलाफ एक ओपन लेटर लिखा था। इसमें उन्होंने उन लोगों पर निशाना साधा था जो आतंकवादी बुरहान वानी का बचाव कर रहे थे।

बता दें कि बुरहान वानी हिजबुल का टेरेरिस्ट्स था। बुरहान वानी को भारतीय सेना ने अपना पराक्रम दिखाते हुए गोलियों से ढेर कर दिया था। बुरहान वानी की मौत के बाद बुरहान वानी के जनाजे में कई लोग शामिल हुए थे। 

उन्हीं लोगों पर निशाना साधते हुए गौरव आर्य ने लेटर लिखा था। उन्होंने अपने लेटर में कश्मीर की अवस्था को दर्शाया था और यह भी बताया था कि कैसे आतंकवादी गतिविधियों को कश्मीर में रहने वाले कुछ आतंकवादियो के मददगार ही चला रहे हैं।

आर्य ने बुरहान वानी पर निशाना साधते हुए अपन लेटर में लिखा था कि “तुम टेरेरिस्ट हो, तुमने भारत के खिलाफ जंग करना वाजिब समझा परंतु तुम शायद यह भूल गए कि जिस प्रकार भारतीय सेना ने अन्य आतंकवादियों का खात्मा किया है, उसी प्रकार वह तुम्हें भी जान से मार देगी।

इसके अलावा तुम्हारे जो भी मददगार कश्मीर में रहकर तुम्हारी सहायता करते हैं, उन्हें भी समय आने पर भारतीय सेना अवश्य सबक सिखाएगी”

मेजर गौरव आर्य का रिपब्लिक टीवी में जाना

रिपब्लिक टीवी आज किसी परिचय की मोहताज नहीं है। हालांकि जब इसकी स्टार्टिंग हुई थी तब अर्नब गोस्वामी जोकि रिपब्लिक टीवी के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर हैं, के द्वारा गौरव आर्य को रिपब्लिक टीवी में सीनियर कंसल्टिंग एडिटर की पोस्ट दी गई थी और रिपब्लिक टीवी में शामिल हो जाने के बाद मेजर के द्वारा Patroit और Blitzkreig जैसे शो को बड़ी ही शानदार प्रेजेंटेशन के साथ होस्ट किया गया था।

वर्तमान के समय में मेजर गौरव आर्य की स्थिति

रिपब्लिक टीवी की शुरुआत साल 2017 में अर्नब गोस्वामी के द्वारा की गई थी और उसी टाइम आर्य ने सीनियर कंसलटिंग ऑफिसर के तहत रिपब्लिक टीवी को ज्वाइन किया था, तब से लगातार यह रिपब्लिक टीवी के साथ काम करते आ रहे हैं और वर्तमान में इनकी पापुलैरिटी किसी पॉलिटिकल नेता से कम नहीं है।

आज का आलम यह है कि जब गौरव आर्य टीवी पर कोई डिबेट करने के लिए आते हैं तो काफी लोग इनकी टीवी डिबेट देखने के लिए अपने आवश्यक काम भी छोड़ देते हैं और जब तक टीवी पर यह बहस बाजी करते हैं तब तक वह अपनी जगह से हटते नहीं है।

गौरव आर्य के सक्सेस होने का कारण यह भी है कि यह बड़ी ही बेबाकी से अपनी राय को रखते हैं। इसीलिए जो लोग सीधी बात सुनना पसंद करते हैं वह इनके कार्यक्रम को अवश्य देखते हैं।‌टीवी के अलावा गौरव आर्य यूट्यूब के विभिन्न चैनल पर भी समय-समय पर दिखाई देते रहते हैं जिसमें यह गेस्ट के तौर पर शामिल होते हैं। 

इनके यूट्यूब वीडियो को करोड़ों लोग देखते हैं, वही लाखों लोग इनके यूट्यूब वीडियो को लाइक और शेयर करते हैं। यूट्यूब के अलावा यह कई वेबसाइट पर अपने नाम से लेख भी पब्लिश करते हैं।

मेजर गौरव आर्य की शारीरिक संरचना 

लंबाई5 फुट 9 इंच
वजन70 किलो
आंखों का कलरकाला
बालों का कलरकाला
चेहरे का कलरहल्का सावला

मेजर गौरव आर्य का परिवार 

पितानाम ज्ञात नहीं (संभावित आईपीएस ऑफिसर)
माताज्ञात नहीं
भाईज्ञात नहीं
बहनज्ञात नहीं
पत्नीज्ञात नहीं
बेटाज्ञात नहीं
बेटीज्ञात नहीं

मेजर गौरव आर्य की पसंद

पसंदीदा अभिनेतापता नहीं
पसंदीदा अभिनेत्रीपता नहीं 
पसंदीदा कलरग्रे 
पसंदीदा खानाशाकाहारी खाना
पसंदीदा पिक्चरलॉरेंस आफ अरेबिया
पसंदीदा खेलपता नहीं 
पसंदीदा घूमने की जगहपता नहीं
पसंदीदा डायरेक्टरपता नहीं

मेजर गौरव आर्य से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी

टीवी में अक्सर मेजर गौरव आर्य टीवी डिबेट करते हुए दिखाई देते हैं। टीवी से बाहर हट करके इन्हें कई जगह पर भाषण देने के लिए बुलाया जाता है। कभी यह जगह सेमिनार होती है तो कभी यह जगह कोई मीटिंग या फिर संगोष्ठी होती है।

आर्य को सबसे ज्यादा युवा वर्ग पसंद करता है क्योंकि युवा वर्ग के फेवरेट टॉपिक डिफेंस, फॉरेन अफेयर और स्ट्रैटेजिक अफेयर हैं और गौरव आर्य इन्हीं विषयों पर अधिक बोलना पसंद करते हैं।

साल 1993 में आर्य इंडियन फोर्स में भरती हुए थे और 6 साल तक काम करने के बाद इन्होंने साल 1999 में भारतीय सेना को छोड़ दिया था जिसके पीछे कारण यह था कि इनके साथ पेट्रोलिंग के दरमियान साल 1996 में एक एक्सीडेंट हो गया था।

वर्तमान के समय में यह रिपब्लिक टीवी पर स्ट्रैटेजिक अफेयर्स के सीनियर कंसल्टिंग एडिटर की पोस्ट को संभाल रहे हैं।

1999 में इंडियन आर्मी से हटने के बाद इन्होंने लखनऊ के आईआईटीसी कॉलेज से एमबीए की डिग्री को हासिल किया और उसके बाद एचईसीएलए, विप्रो कंपनी में इन्होंने नौकरी की।

जब साल 2017 में अर्णब गोस्वामी ने रिपब्लिक टीवी को चालू किया था, तब से ही यह अर्णव गोस्वामी के साथ रिपब्लिक टीवी में काम कर रहे हैं। यह दोनों आपस में बहुत ही अच्छे दोस्त हैं।

गौरव आर्य ने चाणक्य फोरम की स्थापना भी की है और यूट्यूब पर चाणक्य फोरम के अंग्रेजी और हिंदी दोनों लैंग्वेज में चैनल भी इन्होंने बनाए हैं।

इनके बारे में एक इंटरेस्टिंग बात यह है कि यह एक हिंदी गाने में भी दिखाई दे चुके हैं जिसके बोल “सावन पिया नहीं आए” हैं।

FAQ:

Q: वर्तमान में मेजर की उम्र कितनी है?

Ans: 49 साल 

Q: इंडियन आर्मी में गौरव आर्य कौन सी रेजीमेंट में शामिल थे?

Ans: 17 कुमाऊँ रेजीमेंट 

Q: मेजर गौरव आर्य ने इंडियन आर्मी को कब छोड़ा?

Ans: साल 1999

Q: चाणक्य फोरम के फाउंडर कौन हैं?

Ans: गौरव आर्य 

Q: चाणक्य फोरम के सीईओ कौन है?

Ans: गौरव आर्य

Q: मेजर गौरव आर्य कहां के रहने वाले हैं?

Ans: नई दिल्ली राज्य के

Q: क्या मेजर गौरव आर्य शादीशुदा है?

Ans: जी हां इन्होंने शादी तो की है परंतु इनकी पत्नी के बारे में कोई भी जानकारी हमें नहीं पता है।

यह भी पढ़े

उम्मीद करते है फ्रेड्स मेजर गौरव आर्य का जीवन परिचय Major Gaurav Arya Biography in Hindi का यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा. अगर आपको मेजर आर्य कौन है उनकी जीवनी इतिहास में दी जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.

Leave a Comment

Your email address will not be published.