MA Full Form in Hindi, MA Course Details in Hindi, मास्टर ऑफ़ आर्ट्स क्या होता है?

MA Full Form in Hindi, MA Course Details in Hindi, मास्टर ऑफ़ आर्ट्स क्या होता है? | नमस्कार दोस्तो, आज के इस आर्टिकल में हम मास्टर ऑफ़ आर्ट्स के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देने वाले है तो इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े। इस आर्टिकल में आपको निम्नलिखित सवाल के जवाब मिलेंगे।

MA Full Form in Hindi

MA Full Form in Hindi

MA Full-Form क्या है? इसकी Full Form, Course Details, Duration, Modes, Eligibility, Admission Process, Entrance Exam, Top Colleges, Fees, Specialization, Common Subjects, Syllabus, Top Recruiters, Job Opportunities, Salary.

MA का Full Form “Master Of Artsहोता है जिसका हिंदी में फुल फॉर्मकला में मास्टरहोता है। Master Of Arts शब्द Latin शब्द Magister Atrium से लिया गया है। यह Arts का Post-Graduation Level Course है जिसमे आपको मानविकी, कला और उदार कला से संबधित विषय पढ़ाये जाते है। 

बहुत से लोग 12 वीं के बाद आनन फानन में ग्रेजुएशन के लिए आवेदन तो कर लेते हैं, मगर उन्हें इस कोर्स और इसके बाद क्या करना हैं, इस बारें में न तो कोई ख़ास जानकारी होती हैं न उतना विचार होता है

यदि आप ग्रेजुएशन के प्रथम, द्वितीय या फाइनल वर्ष में है और आगे की पढ़ाई को लेकर चिंतित हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए कुछ मदद अवश्य करेगा।

MA Full Form के साथ ही हम यहाँ जानेगें कि इस कोर्स में क्या होता हैं कैसे किया जाता हैं इसे करने के बाद हम क्या कर सकते हैं आदि लगभग आपके सभी सवालों के जवाब इस आर्टिकल में मिल ही जाएगें।

MA Full Form in Hindi, एम ए Course Details

अब हम एम ए से जुड़े सामान्य प्रश्नों की ओर रुख करते हैं और आपकों बताते हैं इसके बारे में बेसिक से बेसिक जानकारी जो आपकों पोस्ट ग्रेजुएशन से पूर्व होनी चाहिए, ताकि आपका निर्णय सही हो और अपने भविष्य को एक सुनहरी राह दी जा सके.

एम ए कोर्स कितने साल में होता है MA Duration 

इस कोर्स की अवधि 2 साल की होती है और यह कोर्स 4 Semester में Divided होता है। इस कोर्स में आपको आपके पसंदीदा एक Specialization Subject भी Choose करना होता है। 

किस तरह एम ए  कोर्स किया जा सकता है  Modes

वैसे तो ज्यादातर स्टूडेंट्स एम ए Course Full-Time Mode से ही करते है पर आप चाहे तो एम ए Course निम्नलिखित तरीको से कर सकते है। 

  • Distance Learning एम ए : इसमें आपको Admission तो लेना होता है पर आपको Regular College जाने की जरुरत नहीं पड़ती है। आपको जरुरी Study Material College की Liberary या Market से खरीदकर पढाई करनी होती है। अगर आप Job करते है और इसके साथ पढाई करना चाहते है तो यह आपके लिए Best Option साबित हो सकता है। 
  • Full-Time एम ए : इस में आपको Daily Basis पे College जाना होता है और Schedule के हिसाब से सारे Lecture Attend करने होते है। अन्य Mode के मुकाबले इस Full-Time Mode की Value ज्यादा होती है। जब आप किसी Interview के लिए जाते हो और आपने Full-Time से एम ए किया है जबकि अन्य Candidate ने दूसरे Mode से MA किया है तो आपको ज्यादा Priority दी जाएगी और आपको Job मिलने के Chances बढ़ जायेंगे। 
  • Online एम ए : इसमें आपको जब टाइम मिले उस वक्त आप अपने घर पे या किसी अन्य जगह पे Computer, Laptop या अन्य साधन से पढाई कर सकते है। 
  • Part-Time एम ए : इसमें आपको College तो जाना होता है और Lecture भी Attend करने होते है पर इसमें आपको Full-Time Mode जितना Time नहीं देना पड़ता है। इसमें आपको Full Time Ma के मुकाबले आधा Time देना होता है।

एम ए  के लिए पात्रता MA Eligibility

अगर आपने BA कोर्स पूरा किया है तो आपको आसानी से एमए कोर्स में एडमिशन मिल जाता है और आपको आसानी से ऐसी कॉलेज भी मिल जाती है जो यह कोर्स Offer करती है क्युकी हमारे देश में ऐसी बहोत सी कॉलेज है जो यह कोर्स Offer करती है। आपको बता दे की कुछ कॉलेज ऐसी भी है जो आपसे Minimum Percentage की मांग कर सकती है और ज्यादातर कॉलेज में यह Criteria 50% का होता है। 

एम ए कोर्स की प्रवेश प्रक्रिया MA Admission Process

भारत में 100% में से 99% कॉलेज ऐसी है जो आपको आपके Merit के हिसाब से Admission देती है पर 1% ऐसी भी College है जो इस कोर्स में Admission देने के लिए Entrance Exam लेती है और Entrance Exam के अनुसार आपको Admission देती है। हमारे यह College में दो तरह से Admission होता है जो निम्नलिखित है। 

  • Merit Based Admission: इसमें आपको आपके Graduation के Merit के ऊपर Admission मिलता है। Graduation में आपके जितने Merit होंगे आपको Admission मिलने का Chance उतना ही ज्यादा होता है। 
  • Entrance Exam Based Admission: इसमें आपको आपके Entrance Exam के Merit के ऊपर Admission मिलता है। Entrance Exam में आप जितने ज्यादा Merit लाएंगे आपको Admission मिलने का Chance उतना ही बढ़ जायेगा। 

एम ए प्रवेश प्रक्रिया MA Entrance Exam

जैसा की हमने पहले आपको बताया की भारत में 1% ऐसी College है जो Admission देने के लिए Entrance Exam लेती है और उन सभी Entrance Exam के नाम निम्नलिखित है। 

  • IPU CET –  Indraprastha University Common Entrance Test : यह National Level Exams है जो  Indraprastha University द्वारा Conduct की जाती है और हर साल यह Exam मार्च से अगस्त के बिच में होती है। 
  • TISSNET – Tata Institute Of Social Sciences: यह Exam Tata Institute द्वारा Conduct की जाती है और हर साल यह Exam जनवरी से फरवरी के बिच में होती है। 
  • PU CET – Punjab University Common Entrance Test: यह Exam Punjab University द्वारा Conduct की जाती है और हर साल यह Exam मार्च से अगस्त के बिच में होती है। 
  • CUSAT CAT – Cochin University Of Science And Technology: यह Exam Cochin University द्वारा Conduct की जाती है और हर साल यह Exam अप्रैल से जून के बिच में होती है। 
  • UPES DAT – University Of Petroleum And Energy Studies: यह Exam University Of Petroleum And Energy Studies द्वारा Conduct की जाती है और हर साल यह Exam जुलाई के महीने में होती है। 
  • MGU CAT – Mahatma Gandhi University Common Admission Test: यह Exam Mahatma Gandhi University द्वारा Conduct की जाती है और हर साल यह Exam मई के महीने में होती है। 
  • TUEE – Tezpur University Entrance Examination: यह Exam Tezpur University द्वारा Conduct की जाती है और हर साल यह Exam मई के महीने में होती है। 
  • PUCAT – Purvanchal University Combined Admission Test: यह Exam Tezpur University द्वारा Conduct की जाती है और हर साल यह Exam जून से जुलाई के बिच में होती है। 

Top MA Colleges In India

भारत में MA कोर्स के लिए शीर्ष College के नाम निम्नलिखित है। 

  1. Lady Shri Ram College For Women – [LSR], New Delhi: इस College को 10 में से 8.5 Ratiing मिली है और इस College में MA कोर्स की Fees 36 हजार रुपये है। जबकि इस Collge में 93.8% Placement हुवा है। 
  2. Loyola College, Chennai: इस College को 10 में से 8.5 Ratiing मिली है और इस College में MA कोर्स की Fees 50 हजार रुपये के करीब है। जबकि इस Collge में 90% Placement हुवा है। 
  3. Chandigarh University – [CU], Chandigarh: इस College को 10 में से 8.5 Ratiing मिली है और इस College में MA कोर्स की Fees 60 हजार रुपये के करीब है। 
  4. St. Xavier’s College, Mumbai: इस College को 10 में से 8.3 Ratiing मिली है और इस College में MA कोर्स की Fees 1 लाख 50 हजार रुपये के करीब है। जबकि इस Collge में 92 % Placement हुवा है।
  5. Christ University, Bangalore: इस College को 10 में से 8.3 Ratiing मिली है और इस College में MA कोर्स की Fees 1 लाख 80 हजार रुपये के करीब है। 

Top MA Colleges In World 

दुनिया में MA कोर्स के लिए 5 शीर्ष College के नाम निम्नलिखित है। 

  1. Stanford University
  2. University Of Cambridge
  3. University Of Oxford
  4. Massachusetts Institute Of Technology
  5. Harvard University

MA Fees

दोस्तों हर College की Fees उसके Infrastructure, Study, Status, Facility जैसे Factors पे Depend करती है। अगर आप Private College के मुकाबले Government College में Admission लेते है तो आपको बहोत काम Fees चुकानी पड़ेगी। हमारे India में MA कोर्स की Average Fees 50 हजार से 2 लाख भारतीय रुपये हो सकती है.

MA Specialization

जैसा की हमने पहले आपको बताया इस Course में आपको आपके Interest और Scope से संबधित एक Specialization Subject Choose करना होता है। और आपने जो भी Specialization Subject लिया है College दद्वारा आपको उस Subject की In-depth Theatrical और Practical पढाई कराई जाती है। भारत में अलग अलग College द्वारा जितने भी Specialization Subject Offer किये जाते है उन सभी के नाम कुछ इस तरह से है। 

  • Master Of Arts In Anthropology
  • Master Of Arts In Archaeology
  • Master Of Arts In Different Languages (English, French, German, Hindi, Spanish, Chinese/ Mandarin, Greek, Latin)
  • Master Of Arts In Economics
  • Master Of Arts In Geography
  • Master Of Arts In History
  • Master Of Arts In Library And Information Science
  • Master Of Arts In Linguistics
  • Master Of Arts In Literature
  • Master Of Arts In Philosophy
  • Master Of Arts In Political Science
  • Master Of Arts In Psychology
  • Master Of Arts In Religious Studies
  • Master Of Arts In Rural Studies
  • Master Of Arts In Social Work
  • Master Of Arts In Sociology

Top MA Recruiters in India

MA करने के बाद आप इन कंपनियों में नौकरी पा सकते है क्युकी यह भारत में MA Students को सबसे ज्यादा नौकरी Provide करने वाली कंपनिया है। 

  • HCL
  • Tata 
  • LIC
  • ICICI
  • HDFC
  • Big Bazar

MA Job Types

Internet पे बहोत सारी ऐसी वेबसाइट है जो आपको कहती है की MA करने के बाद आपको बड़ी बड़ी Post पर नौकरी मिल जाएगी पर सच्चाई कुछ और ही है। आप Market में देखोगे तो ज्यादातर MA करने वाले Students निचे बताई गयी Job में से ही कोई Job कर रहा होता है। 

  • Voice Process
  • Paas Architect
  • Trainee
  • Sales Officer
  • Business Development Executive
  • Tele Caller
  • Content Writer
  • Data Entry Operator
  • Floor Manager
  • Lecturer
  • Professor
  • Stenographer
  • School Teacher
  • Private Tutor
  • Education Consultant
  • Education Counsellor
  • Vice Principal
  • Program Manager
  • Director Of Student Services

MA Salary

कोई कहता है की MA करने के बाद आपको 50  हजार Salary मिल जाएगी तो कोई कहता है की आपको 1 लाख Salary मिल जाएगी। पर सच्चाई ये है की आपको Salary और Job आपके Skill Set, Experience और Position के हिसाब से मिलती है और भारत में MA करने के बाद आपको Average Salary 20 हजार से 50 हजार के बिच में हो सकती है। 

Advance Courses after MA:

MA Complete करने के बाद अगर आप आगे की पढाई करना चाहे तो आप M.Phil. और Ph.D. जैसे कोर्स कर सकते है। 

FAQ About MA in Hindi:

MA का Full Form क्या है?

MA का Full Form “मास्टर ऑफ़ आर्ट्स” है। 

MA कोर्स में Common Subjects कौनसे है?

MA कोर्स में आपको Common Subjects के तौर पर MA Agriculture, Animal Care, And Veterinary Science, Archaeology, Architecture, Biology And Life Sciences, Building, Planning And Construction Management, Communications And Media,Computer Science And Information Technology और अन्य विषय पढ़ाये जाते है। 

MA कोर्स में कौनसा Subject Best है?

यह पूरी तरह से आपके Intersert के ऊपर Depend करता है। 

क्या में MA दो Subjects में कर सकता हु?

हां, UGC ने यह Announced किया है की एक व्यक्ति साथ में दो Subjects की पढाई कर सकता है। 

क्या  MA In English ज्यादा Tough होता है?

अगर अपने B.A. In English से किया है तो आपको MA In English आसान लग सकता है और आपने B.A. किसी अन्य Subject से किया है तो MA In English आपको Tough लग सकता है। 

मास्टर ऑफ़ आर्ट्स कोर्स कितने प्रकार का होता है?

MA कोर्स दो प्रकार का होता है जिसमे पहला Course-Based होता है और दूसरा Research-Based होता है। 

Double MA in English क्या है?

इसका मतलब है कि दो अलगअलग Subject  में दो बार Post Graduate Degree को सफलतापूर्वक पूरा करना। जैसे English और History में MA करने वाले को Double MA कहा जाता है। 

मास्टर ऑफ़ आर्ट्स English में कितने Papers होते है?

MA In English में 4 से 5 Papers होते है और यह आपकी College पर Depend करता है की वे Syllabus में कौन कौन से Subject Include करते है। 

यह भी पढ़े:

दोस्तों हम आशा रखते है की आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा अगर आपको हमारा यह आर्टिकल MA Full Form In Hindi – एमए कोर्स क्या होता है और कैसे करे? पसंद आया हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताये और शेयर करना बिलकुल भूले .आपका दिन शुभ हो धन्यवाद। 

अपने विचार यहाँ लिखे