तितली पर कविता | Poem On Butterfly In Hindi

तितली पर कविता Poem On Butterfly In Hindi: बच्चों को तितली रानी बहुत प्यारी लगती हैं. रंग बिरंगे फूलों पर उड़ती इन बटरफ्लाई को देखते ही उनका मन भी उड़ने को हो जाने लगता हैं. भले ही बड़ों को इनकें प्रति इतना आकर्षण नही होता है. मगर बच्चों के लिए तितली सबसे बड़ी मनोरंजक एवं आकर्षण का केंद्र होती है.  यहाँ छोटी कक्षा के बच्चों के लिए तितली पर कविता संग्रह की गई हैं. कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10 कक्षा के स्टूडेंट्स इन छोटी बड़ी पोएम का लुफ्त उठा सकते हैं.

रानी तितली पर कविता Poem On Butterfly In Hindi

तितली पर कविता Poem On Butterfly In Hindi

तितली कविता | Poem On Butterfly | Titli Poem 

रंग रंग के पंखोवाली
तितली हमें लुभाती है
फूल फूल से मधु संचय कर
पल पल उड़ती जाती हैं
अपने छोटे छोटे पंखों से वह
मृदु संगीत सुनाती है
मुझे न पकड़ो, फूल न तोड़ो
हम सबकों बतलाती है.

प्यारी तितली पर आधारित इस बाल कविता में बच्चों में किस तरह मन मोहित करने वाली तितली की चाल लगती है का वर्णन किया गया हैं. वों फूलों के मकरंद को एकत्रित कर यहाँ वहां उड़ती हुई बेहद सुंदर नजारा प्रस्तुत करती हैं.

उनकें पंखों की आवाज से मधुर सुर में संगीत की तान सुनाई पड़ती हैं. बच्चों से कविता के द्वारा कहा गया है कि बच्चों तुम फूलों को मत तोड़ो और तितली रानी को मत पकड़ो.

Butterfly Poem In Hindi Language

तितली रानी कविता
तितली रानी बड़ी सयानी
फूल फूल पर जाती है
फूल फूल से रंग चुराकर
अपनें पंख सजाती है
जब उसे जाओ पकड़ने
झट से वों उड़ जाती है.

Titli Poem In Hindi

तितली के बच्चे चार
घर से निकले पंख पसार
पूरब से पश्चिम को उड़ते
उत्तर से दक्षिण को जाते
फूलों के रस चूस चूस कर
घूम लिया संसार सारा

तितली पर कविता इन हिंदी

तितली रानी तितली रानी
कितनी प्यारी कितनी सयानी
रंग बिरंगे पंख सजीले
लाल गुलाबी नीले पीले
फूल फूल पर जाती हो
गुनगुन गुनगुन गाती हो
मीठा मीठा रस पीकर उठ जाती हो
अपने कोमल पंख दिखाती
सबकों उनसे सहलाती
तितली रानी तितली रानी
कितनी सुंदर तितली रानी
इस बगिया में आना रानी
तितली रानी तितली रानी

butterfly kavita in hindi

हरी डाल पर लगी हुई थी,
नन्ही सुंदर एक कली
तितली उससे आकर बोली
तुम लगती हो बड़ी भली

अब जागो तुम आँखे खोलो
और हमारे संग खेलों
फैले सुंदर महक तुम्हारी
महके सारी गली गली

कली छिटककर खिली रंगीली
तुरंत सुनकर खेल की बात
साथ हवा के लगी भागने
तितली उसे छूने चली

butterfly poems in hindi For Kids (बटरफ्लाई पोएम इन हिंदी)

तितली रानी इतने सुंदर
पंख कहा से लाइ हो
क्या तुम कोई शहजादी हो,
परी लोक से आई हो
फूल तुम्हे भी अच्छे लगते
फूल हमें भी भाते है
वों तुमकों कैसे लगते है
जो फूल तोड़ ले जाते है.

Titli Rani Poem in Hindi

चंचल नैनों वाली तितली
चमचम तारों जैसी छाई।

काश हम भी तितली होते,
हमारे भी रंग-बिरंगे पंख होते।

हम भी आसमान पर छा जाते,
हम भी फूलों पर मंडराते।
तितली आई, तितली आई,
रंग-बिरंगी ति‍तली आई।

Short Poem On Butterfly In Hindi

हरी डाल पर लगी हुई थी,
नन्ही सुंदर एक कली
तितली उससे आकर बोली
तुम लगती हो बड़ी भली।।

अब जागो तुम आँखे खोलो
और हमारे संग खेलों
फैले सुंदर महक तुम्हारी
महके सारी गली गली।।

कली छिटककर खिली रंगीली
तुरंत सुनकर खेल की बात
साथ हवा के लगी भागने
तितली उसे छूने चली।।

तितली रानी पर प्रसिद्ध कविता | Famous Poem on Butterfly in Hindi

नीली, पीली और चटकीली
पंखों की प्रिय पँखड़ियाँ खोल।
प्रिय तितली! फूल-सी ही फूली
तुम किस सुख में हो रही डोल।।

चाँदी-सा फैला है प्रकाश,
चंचल अंचल-सा मलयानिल।
है दमक रही दोपहरी में
गिरि-घाटी सौ रंगों में खिल।।

तुम मधु की कुसुमित अपसरी-सी
उड़-उड़ फूलों को बरसाती।।
शत इन्द्र चाप रच-रच प्रतिपल
किस मधुर गीत-लय में जाती।।

तुमने यह कुसुम-विहग लिवास
क्या अपने सुख से स्वयं बुना।
छाया-प्रकाश से या जग के
रेशमी परों का रंग चुना।।

क्या बाहर से आया, रंगिणि
उर का यह आतप, यह हुलास।
या फूलों से ली अनिल-कुसुम
तुमने मन के मधु की मिठास।।

चाँदी का चमकीला आतप
हिम-परिमल चंचल मलयानिल।
है दमक रही गिरि की घाटी
शत रत्न-छाय रंगों में खिल।।

इस सुख का स्रोत कहाँ
जो करता निज सौन्दर्य-सृजन।
’वह स्वर्ग छिपा उर के भीतर’
क्या कहती यही, सुमन-चेतन।।

तितली पर कविता | Titli Par Kavita

ओ री तितली रानी! पास तो आ जरा,
क्यों? मुझसे तुम डरती हो,
मेरे बाँगो में तुम,
छुप-छुप के उड़ती रहती हो।

ओ री प्यारी! तितली रानी,
जो तुम मेरे पास आ जाओ,
तेरे सतरंगी पंखों को,
मैं प्यार से सहलाऊ।

करूँ कुछ बातें तुझसे मैं,
अपने मन को बहलाऊ,
तेरी रंग-बिरंगी दुनिया से,
मैं भी थोड़ा मिल आऊ।

मेरी प्यारी तितली रानी,
क्यो! पास नही तुम आती,
चुपके से ही बस,
मेरे बाँगो में तुम मंडराती।

यह भी पढ़े

उम्मीद करता हूँ दोस्तों तितली पर कविता Poem On Butterfly In Hindi का यह लेख आपको पसंद आया होगा. यहाँ हमने तितलियों पर कविताएँ संग्रह की हैं. यदि आपको तितली की कविता का यह आर्टिकल पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *