बारिश पर शायरी स्टेटस कोट्स हिंदी में | Barish Status Shayari In Hindi

बारिश पर शायरी स्टेटस कोट्स हिंदी में Barish Status Shayari In Hindi : नमस्कार दोस्तों आज हम बरसात बारिश रेन की शायरी स्टेटस आपके लिए लाए हैं. मित्रों सावन की हल्की बारिश का मौसम सुहावना एवं मदमस्त होता है. भीगे तन और मन की अभिव्यंजना यहाँ शायरी और शब्दों में व्यक्त की गई हैं. जिन लवर्स को बारिश का मौसम प्रिय हैं उन्ही को समर्पित आज का बारिश कोट्स थोट्स सुविचार शायरी का यह आर्टिकल आपकों भी बेहद पसंद आएगा ऐसी हम कामना करते हैं.

बारिश पर शायरी स्टेटस कोट्स हिंदी में Barish Status Shayari In Hindi

Barish Status Shayari In Hindi

ये बारिश भी तेरी ओर खिचने का प्रयास करती है ☺️☺️❤️


Hava o ka jor tha barish kahi or thi dil kisi ka toot💔
raha tha or kisi or ka 💕Jud raha tha


घंटों तक भिगोया बारिश ने मुझे फिर
भी में कोरा का कोरा ही रह गया।।🔥


Tumhe Barish Pasand Hai Mujhe Barish Me Tum,
Tumhe Hansna Pasand Hai Mujhe Hasti Hui Tum,
Tumhe Bolna Pasand Hai Mujhe Bolti Huyi Tum,
Tumhe Sab Kuch Pasand Hai Aur Mujhe Bas Tum.


बारिश समझनी है तो किसानों के चेहरे पढो..
इन शायरियों ने तो इसे इश्क के दायरे में बांध रखा है !


तुम थे तो पिछली बारिश ज़िन्दगी थी।
इस बार तो सिर्फ पानी बरस रहा है।


जितना देखू, जितना महसूस करू,
जितना सुनू कम सा लगता है।
ये बारिश का मौसम तुम सा लगता है।


मौसम- ऐ -बारिश का गुरुर तो देखो लगता है
जैसे तुमसे मिल के आया हो


Barish Shayari In Hindi

आसमां को ग़ुरूर था वो सबका मुक़ाम है
बारिश को मगर ‘ज़मीं’ ही रास आयी। ©


इन बारिशों से दोस्ती अच्छी नहीं ,
कच्चा तेरा मकान है कुछ तो ख्याल कर


भीनी सी खुश्बू लिए याद आई एक कहानी,
ये मौसम की बारिश और बारिश का पानी।,


Uski yaadein bhi is baarish ki tarah thi…….
Ek pal k liye ayi aur din bhar aankhein nam kar gai….


Yun nhi hAi ki tere bAAd bArsAAt nhi hogi….
pr jo tere sAAth thi wo bAAt nhi hogi ❣️❣️🙏🙏


ज्यादा दूर नही बस खुदा वहाँ पहुँचादे जहां
तेरी बरकत और सुकून चारो ओर बरसता हो।


पहली बारिश की बुँदे सिसक कर जब मिट्टी पर इठलाई,
और मिट्टी ने जब खिलखिलाती हुई अपनी खुशबू बिखराई,
सच कहूँ,
मुझे मेरे महबूब की बेइन्तेहा याद आई !!


Sab kuch Aa rha hai, sab kuch badal sa hai ,
ek tu na Aai kambakht ye baarish bhi barasne ke liye tarash gyii..


ये बारिश भी तेरी ओर खिचने का प्रयास करती है ☺️☺️❤️


Barish Status In Hindi

ये बारिश की बुँदे कुछ बता रही है,
शायद उनके न होने का अहसास जता रही है।।


वो रात को होती “बारिश” सुबह तक होती रहे ऐसा मनाना,
ताकि सुबह स्कूल ना जाना पडे।
बचपन की वो यादें हर लम्हे में रह जाती हैं।। 💖


कभी बेपनाह बरसी , कभी गुम सी है ……
ये बारिश भी कुछ-कुछ तुम सी है | ❤❤


वो बारिश की ही तो पहली याद थी ,
जो तुम्हारा कहा मुझे कुछ सुनाने आयी थी।


किसी कागज की कश्ती की तरह हूँ मैं,
इस मोहब्बत की बारिश में,
मेरा पहला सफर ही आखरी और खुबसूरत होता है।


आंखे बंद कर के चलता गया
बारीश के बूंदों से भिगता गया
आसमान देखा जब दलदल में फसकर
तो अश्कों को बहता गया धीरे धीरे मरता गया


बारिश शायरी स्टेटस इन हिंदी

जो मुँह तक उड़ रही थी अब लिपटी है पाँव से
बारिश क्या हुई मिट्टी की फितरत बदल गई।


बारिश की दो बुंदे क्या गिरी और बत्ती गुल हो गयी😍


वह बारिश बारिश नही जिसमें दो
चाहने वालों के एह्सास का ज़िक्र नही।


शायद कोई ख़्वाहिश रोती रहती हैं…
मेरे अन्दर बारिश होती रहती हैं…


उस ने बारिश में भी खिड़की खोल के देखा नही…
भीगने वालो को क्या क्या परेशानी हुई…


जिनके पास सिर्फ़ सिक्के थे वो मजे से भीगते रहे बारिश में…
जिनके जेब में नोट थे वो छत तलाशते रह गए…


वर्षा की शुरुआत से, साँझ में बेजान से पड़े रास्तों के बीच,
सहमी सी जान को देखा है
मैंने शहर की शोंधी सी खुशबु में, एक भींगा सा ठहराव देखा है।


हो गई बारिश. हमारे शहर मे भी,
अब रोती हुई आँखो के, आँसू भी छिप जाएंगे….!


जब भी बारिश होती है ,
तेरी याद ओर भी ताज़ी हो जाती हैं..
दोनों का छत पे आना ,
एक दूसरे को ताकना…
दूर तो था मकान मेरा तुझसे फिर भी ज़ुबान पे बस तेरा नाम था…
जब भी बारिश होती हैं,
तेरी याद ओर भी ताज़ी हो जाती हैं…


सोचता हूं, उसकी यादों से ब्रेकअप कर लू ,
फिर दिल में ख्याल आता है
उसकी यादें तो वफादार है
जो रोज आती हैं🤐


यूँ बारिश की रिमझिम, महकती मिट्टी की खूशबू, चाय की चुस्की,
और बेमतलब की यादें, शायद इस मौसम – ए – इश्क़ का रंग बेहद गेहरा है..


ये बारिश का पानी आशिकों को अच्छा लगता है……
हमें तो जुकाम हो जाता है.. 😜😂😂😜😜😃😎


तुमसे अलग होने का मन नहीं करता…❤️..
इस swimming pool के जमाने में गाँव की बारिश हो तुम.. 🌈☁


मत झटका करो गीले बालों से पानी की वो बूंदे,
ये कंबख्त बादल भी बरसने से इनकार कर देते है।


आज फिर इन बारिश की बूंदों ने उन यादों में सीलन डाल दी ,
पल पल भीग रहा हूँ उनकी यादों में ।


एक बारिश ने उस आशिक़ की उम्मीदों पर पानी नही फ़ेरा
जिसे यकीं था को जब आएगी तो छत पर जरूर आएगी


बारिश आज ख़ूब हुई
कब छत की तपती धरती को ठंडा करके मेरे दिल की आग को इसने जला दिया
पता ही कहाँ चला,
लम्हे ही ऐसे थे,
उसे बारिश में भीगना पसंद था,
और मुझे उसका ये अलहड़पन,
जब नज़रें मुझसे मिल जाती तो झैंप सी जाती,
उसका भाग कर घर में चले जाना ना जाने क्यों ये अहसास करा जाता था मुझे कि इश्क़ भी तो बारिश सा ही है,
बस डूब जाओ.
हर बारिश क़रीब लाती रही
मुझे इश्क़ हो चला था इस मौसम से,
एक दिन उसका शहर छोड़ के जाना पता चला,
पता चला कि लोग कितने भी अज़ीज़ हों बस छोड़ जाते हैं.
पर हाँ एक मौसम से मुझे अब नफ़रत है बहुत.
कमबख़्त बारिश उस दिन भी हुई थी। –


Barish Quotes In Hindi

बारिश जैसे है फूलों के लिए, वैसे ही मेरे लिए हो तुम।
कि तुम्हारे आने से खिल सी जाती हूँ मै।


ये बारिश का पानी, ये पानी की बूंदे .
ये बूंदे तो दूने तुझे 🔥🔥🔥


ये बारिश भी तुम सी है
जो थम गई तो थम गई
जो बरस गई तो बरस गई
कभी आ गई यूँ बेहिसाब
कभी थम गई बन आफताब
कभी गरज गरज कर बरस गई
कभी बिन बताये यूँ ही गुज़र गई
कभी चुप सी है
कभी गुम सी है
ये बारिश भी सच…
तुम सी है…❣️


आंखो में रूकी हैं बारिशें कब से….
तू जो पुकार ले तो सैलाब आ जाये….।।


बूँद बारिश की तुम्हारे होठों पर ,
या बूँद ओस की गुलाब पर … बात एक ही है ।


बारीश जरुरी हैं खेतो में ये सोच कर सहम जाता हैं,
वरना टपकती छत में नींद कीसान को भी नहीं आती।💗


कितनी बार मोमेंट बनाएगी और चली जाएगी,
लगता है जैसे तुझे आदत सी हो गई है,


तुम्हारे जाने के बाद भी
तुम उतना बची हुई थी
जितना
आसमान बचा रखता है
बेमौसम की बारिश
छतें बचा रखती हैं
मुंडेरों पर बूँदे
बूंद छिपा रखती है
आसमान की नीलिमा


जो मुँह तक उड़ रही थी अब लिपटी है पाँव से
बारिश क्या हुई मिट्टी की फितरत बदल गई।


वह बारिश बारिश नही जिसमें दो चाहने
वालों के एह्सास का ज़िक्र नही।


शायद कोई ख़्वाहिश रोती रहती हैं…
मेरे अन्दर बारिश होती रहती हैं…


उस ने बारिश में भी खिड़की खोल के देखा नही…
भीगने वालो को क्या क्या परेशानी हुई…


Barish ki Shayari 2 Line For Boyfriend & Girlfriend

यह रात की गहरी बदली शायद ,हल्के हल्के बरसेगी।
यह “बारिश” आसमान से नही , आँखो से बरसेगी।


बरखा की बूंदे जब भी गिरती इस धरा को ठंडक मिल ही जाती है
हर ओर सुकून छा जाता है मन की कलियाँ खिल जातीं हैं


हर लम्हा यादों में बदलता जा हैं..
मैं उसे थामने की कोशिश कर रहा हूँ
वो रेत की तरह फिसलता चला जा रहा है..


बहौत दिनोसे कुछ कैद कर बैठा था।
कल उस ने सब रिहा कर दिया।
सुना है कल शहर में काफी बारिश हो गयी ।


याद आता हूं मैं उन्हें जब रात हो जज्बात जो बरसात हो,


“कभी बेपनाह बरसी कभी गुम सी है…
ये बारिश भी, कुछ – कुछ तुम सी है ।”


तेरी यादों की बूंदे अभी भी गिरती रहती है मेरे दिल में,
कौन कहता है सीने में बरसात नहीं होती है


याद है वो तुम्हारा आना,और फिर बिंन मौसम बारिस का बरस जाना


सारे इत्रों की खुशबु आज मन्द पड़ गयी हैं,
मिटटी में बारिश की बुँदे जो, चन्द पड़ गयी हैं।


ऐ बारिश जरा थम के बरस उसे
आने तो दे फिर जम कर बरस… 🔥🔥🔥🔥


चार बूंद बारिस की क्या गिरी ग़ालिब
लोग बोतल🍾 और डिस्पोजल 🍺
लेकर पहाड़ों की तरफ चल पड़े
😋😋😋😋


फिर शुरू हुआ तेरी यादो का सिलसिला ना
जाने कब रूकेगी मेरे शहर की बारिश


यह भी पढ़े

उम्मीद करता हूँ दोस्तों Barish Status Shayari In Hindi का यह आर्टिकल आपकों पसंद आया होगा. यदि आपकों यहाँ दी बारिश शायरी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *