समूह परिचर्चा क्या है अर्थ परिभाषा | Group Discussion in hindi

Group Discussion in Hindi: नमस्कार दोस्तों आपका हार्दिक अभिनन्दन है आज हम ग्रुप डिस्कशन अर्थात समूह परिचर्या क्या है किसे कहते है इसका अर्थ क्या है आदि को विस्तार से यहाँ जानेगे. समूह चर्या एक आधुनिक शिक्षण विधि है जिसमें एक ही बौद्धिक स्तर के विद्यार्थी एक साथ बैठकर अध्ययन करते हैं अपनी कमजोरियों तथा शंकाओं को अपने साथी द्वारा हल करने के प्रयत्न किये जाते हैं.

समूह परिचर्चा क्या है अर्थ परिभाषा | Group Discussion in hindi

Group Discussion in hindi

समूह परिचर्चा (Group Discussion): परम्परागत शिक्षण विधियों की तुलना में समूह परिचर्या एक प्रजातांत्रिक विधि है. पर्यावरण शिक्षा में जब समूह चर्या होती है तो समूह के प्रत्येक सदस्य को पर्यावरण के प्रति उत्तरदायित्व का बोध होता है. इसमें शिक्षक और छात्र अपने विचारों को मुक्त रूप में प्रकट करते हैं.

समूह परिचर्या को परिभाषित करते हुए हरबर्ट गुली ने लिखा है समूह परिचर्या उस समय होती है जब व्यक्तियों का समूह आमने सामने बैठकर मौखिक अन्तः क्रिया द्वारा सूचनाओं का आदान प्रदान करते हैं. या सभी से संबंधित किसी समस्या पर निर्णय लेते हैं.

परिचर्या की विशेषताएं (Features Of Group Discussion in hindi)

परिचर्या में निम्नलिखित विशेषताएं पायी जाती हैं.

  • परिचर्या के लिए समूह का होना आवश्यक है यह समूह छोटा या बड़ा हो सकता है.
  • परिचर्या में सभी सदस्यों का उपस्थित होना आवश्यक है. इसमें मौखिक रूप में विचारों का आदान प्रदान होता हैं.
  • समूह में अन्तः क्रिया के लिए सभी सदस्यों को अपने विचार प्रकट करने का अवसर दिया जाना चाहिए.
  • परिचर्या उद्देश्यपूर्ण होनी चाहिए और समूह के प्रत्येक सदस्य को उद्देश्य का ज्ञान होना चाहिए.
  • परिचर्या क्रमबद्ध रूप में आगे बढ़ती है. समस्या के सभी पहलू हो पर विचार करने के बाद उसके समाधान सम्बन्धी निर्णय पर पहुँच जाता हैं.
  • परिचर्या के लिए समूह या तो अपनों में से किसी एक को या शिक्षक को नेता मान लेता है. यह नेता ही परिचर्या को सुनिश्चिन्त्ता, सुनियोजन और व्यवस्था प्रदान करता हैं.

परिचर्या के गुण (Quality Of Group Discussion in hindi)

  • इससे छात्रों में तर्कशक्ति का विकास होता है.
  • यह स्वास्थ्य या विकास करती है.
  • इससे छात्रों में सहयोगिता पूर्ण प्रतिस्पर्धा पैदा होता हैं.
  • यह रीती व्यक्तिगत विभिन्नताओं पर निर्भर हैं.
  • यह विषय वस्तु का चयन करना सिखाती हैं.

समूह परिचर्या के दोष (The fault Of Group Discussion in hindi)

  • इसमें अधिक समय लगता है
  • सभी शिक्षकों को इसके संचालन का कौशल नहीं आता है.
  • इस विधि से पाठ्यक्रम पूरा नहीं हो सकता है.
  • परिचर्या में सभी बालक बोलने में संकोच करते हैं.

यह भी पढ़े

उम्मीद करता हूँ दोस्तों Group Discussion in hindi का यह लेख आपकों पसंद आया होगा, यदि इस लेख में दी गई जानकारी आपकों पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *