विज्ञान और तकनीकी पर निबंध- Essay on Science and Technology in Hindi Language

नमस्कार साथियों विज्ञान और तकनीकी पर निबंध- Essay on Science and Technology in Hindi Language में आप सभी का हार्दिक अभिनंदन हैं. हमारा जीवन आज विज्ञान एवं तकनीक की उन्नति की बदौलत बड़ा ही सुखमय व्यतीत हो रहा हैं. आज के युग को तकनीकी युग का नाम भी दिया जाता हैं. आज के सरल निबंध अनुच्छेद में हम विस्तार से इस अध्याय के बारे में जानेगे.

विज्ञान और तकनीकी पर निबंध- Essay on Science and Technology in Hindi

विज्ञान और तकनीकी पर निबंध- Essay on Science and Technology in Hindi

Welcome Here, In This Post We Giving information about Science and Technology in Hindi. Essay on Science and Technology in Hindi Language विज्ञान और तकनीक पर निबंध, 5,10 line, 100, 200, 250, 300, 400, 500 Words. Vigyan Aur Takniki Par Nibandh for 1,2 ,3,4,5,6,7,8,9,10,11,12 Kids students.

विज्ञान और प्रौद्योगिकी पर निबंध, essay on science and technology in hindi (100 शब्द)

अनगिनत क्षेत्रों में विज्ञान और तकनीक में उन्नति ने आम लोगों के जीवन को पहले की तुलना में अधिक सुखी और आराम दायक बना दिया है. विज्ञान व प्रौद्योगिकी में प्रगति लोगों के रहन सहन, जीवन शैली के तरीकों को व्यापक रूप से प्रभावित कर रही है, एक तरफ इसके सुपरिणाम नजर आ रहे है तो वही इसका दूसरा पहलू मानव जीवन के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ भी कर रहा हैं.

आज के युग में विकासशील देशों को विकसित राष्ट्रों की तुलना में स्वयं को स्थापित करने के लिए विज्ञान और तकनीक के आधुनिक आविष्कारों और तकनीकों की महत्ती आवश्यकता हैं. प्रतियोगिता के इस जमाने में न केवल राष्ट्रों की प्रगति बल्कि व्यक्ति के सफल होने के लिए भी अधिक तकनीकी ज्ञान और साधनों की जरूरत पड़ती हैं.

विज्ञान और तकनीकी विषय पर निबंध, essay on science and technology in hindi (150 शब्द)

आधुनिक दौर में प्रगति एक अहम सवाल है चाहे वह किसी राष्ट्र से जुडी हो अथवा व्यक्ति विशेष से, आज के प्रोद्योगिकी के युग में तकनीक का समुचित लाभ उठाएं बगैर प्रगति के सपने सजोना बेमानी हैं. जो राष्ट्र इस विषय में अच्छा काम करेगा वह ही भावी शक्ति होगा. उच्च प्रशिक्षित और कुशल वैज्ञानिक ही भविष्य के निर्धारक हैं.

विज्ञान और तकनीकी एक दूसरे से जुड़े विषय हैं इन दोनों के सहयोग के साथ बड़ी से बड़ी वैश्विक समस्या का समाधान किया जा सकता हैं. नयें अनुसंधान कार्यो के जरिये सही दिशा में वैज्ञानिक ज्ञान उपयोग कर मानव सभ्यता के सबसे सुनहरे पलों में पहुचने की होड़ में हर कोई शामिल होना चाहता हैं.

नवीनतम प्रोद्यौगिकी ज्ञान और समाज की आवश्यकता के मध्य सामजस्य बिठाकर लोगों की अर्थव्यवस्था, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि क्षेत्रों में बड़े कीर्तिमान स्थापित किये जा सकते हैं. जापान, इजरायल जैसे देश इस बात के प्रमाण है कि भले ही अन्य संसाधन कम हो मगर तकनीक के जरिये आगे बढ़ने मजबूत इरादे हो तो विश्व नेतृत्व की राहे सभी के लिए खुली होती हैं.

विज्ञान और तकनीकी के महत्व पर निबंध, essay on science and technology (200 शब्द)

आज हम जिस युग में जी रहे है वह पूरी तरह विज्ञान और तकनीक आधारित हैं. हमारे जीवन की जरूरतों से लेकर जीवन पद्धति पूरी तरह विज्ञान के आविष्कारों और प्रोद्योगिकी के साधनों पर टिकी हैं. इन साधनों ने हमारे जीवन को पूरी तरह बदल कर रख दिया हैं. पहले के मुकाबले अब हमारा जीवन अधिक सरल, तीव्र और आसान बन चूका हैं.

एक जमाना था जब लोग आने जाने के लिए जानवरों की सवारी किया करते थे, माल ढोने के लिए बैलगाड़ी ही साधन थी, जैसे जैसे वक्त बीता मानव में विज्ञान की समझ विकसित की और उन्नत साधनों को जन्म दिया, जो आज के जीवन की नितांत आवश्यकता बन गये हैं. इस तरह राष्ट्रों ने भी विज्ञान और प्रोद्योगिकी को बढ़ावा दिया और वे आज इन पर आश्रित हैं.

आज की लाइफ गेजेट्स आधारित हैं, जहाँ कभी ये समस्या बनते है तो कभी समाधान, मगर हर रूप में हमारे जीवन का अहम हिस्सा अवश्य हैं. चाहे जितने क्षेत्र चुन लो यातायात, शिक्षा, चिकित्सा, व्यवसाय, विद्युत् हर जगह तकनीक ने अपना कमाल दिखाया हैं.

एक तरह से यूँ कहा जा सकता है कि हमारे जीवन में सुधारों और नवीन विचारों की देन विज्ञान व तकनीक हैं तो गलत नहीं होगा. इन साधनों के बिना जीवन की कल्पना भी बोझिल सी लगती हैं. आज जिस गति से गाँव शहर बन रहे हैं, लोगों के जीवन स्तर और सुविधाओं में इजाफा हो रहा हैं यह तकनीक का चमत्कार हैं जिसमें हमारा भारत देश भी अग्रणी बनते जा रहा हैं.

निबंध 1 (300 शब्द)

प्रस्तावना

हम सभी इस बात से परिचित है कि जिस जमाने में हम जी रहे है वह पूरी तरह विज्ञान और तकनीक आधारित हैं. हमारा जीवन वैज्ञानिकों के आविष्कारो और आधुनिक तकनीकों पर बहुत निर्भर करता हैं. इन आधुनिक साधनों ने आमजीवन को बहुत गहराई तक प्रभावित किया हैं. इनकी मदद से जीवन अधिक सरल, सुखी और तेज बन गया हैं. तकनीक के प्रयोग ने बैलगाड़ी के जमाने को हवाई जहाज और रोकेट के जमाने में हमें ला खड़ा किया हैं.

आधुनिक तकनीकी

संसार के प्रत्येक देश ने विज्ञान और तकनीक के प्रत्येक आयाम को आत्मसात किया हैं. इन उपकरणों की खोज का मूल ध्येय ही मानव जीवन की सहूलियत और समस्याओं को हल करने का था. चिकित्सा, शिक्षा, ऊर्जा, व्यवसाय आदि सभी फिल्ड में हमें तकनीकी ज्ञान ने उन्नत बनाया हैं प्रोद्यौगिकी के जमाने में इन साधनों के बिना हमारी प्रगति सम्भव नहीं थी यदि हम विज्ञान के की प्रगति को नहीं अपनाते तो निश्चय ही हमारा जीवन आज के मुकाबले अधिक कठिन व दुष्कर होता हैं. नयें आविष्कारो ने हमें बहुत लाभ दिया हैं. आज हमारें चहुओर तकनीक का बोलबाला हैं.

तकनीक की देन की बात करे तो मोबाइल फोन, टीवी, कंप्यूटर, इंटरनेट, फ्रीज, वाहन, मोटर, हवाई जहाज, बस और संचार के अन्य साधन तकनीक की मदद से तैयार किए जा सके हैं. आधुनिक प्रोद्यौगिकी के सहयोग से ही जटिल से जटिल बीमारियों के निदान व इलाज समभ हो पाए हैं. आज के समय में हम विज्ञान की उन्नति के बिना भी जी सकते हैं यह असम्भव हैं.

निष्कर्ष

आज हम सुखी व सम्पन्न है तो इसका कारण हमारे समाज का विज्ञान व तकनीकी क्षेत्र में उत्तरोतर उन्नत होना हैं. हमने सुधारों को सहर्ष अपनाया हैं. हमारे भारत की उन्नति व प्रगति के लिए विज्ञान के ये साधन बहुउपयोगी सिद्ध हुए हैं. आज हमारे गाँव भी हाईटेक शहरों की होड़ में लग गये हैं. हर क्षेत्र में मूलभूत सुधार देखने को मिल रहा हैं. जमाना तेजी से बदल रहा हैं. इसका सबसे अहम कारण तकनीक के प्रति सकारात्मक सोच रहा हैं.

विज्ञान और प्रौद्योगिकी पर निबंध (400 शब्द) , advantages and disadvantages of science and technology essay 

आज के युग को विज्ञान का युग कहा जाता हैं. वैज्ञानिक आविष्कारों की शुरुआत मानव के कल्याण के लिए हुई. अपने आरम्भ काल में मानव को विभिन्न समस्याओं का सामना करना पड़ता था. अपने जीवन को सुविधासंपन्न बनाने के उद्देश्य से वह नित नई वैज्ञानिक खोज में लगा रहा. आज के तकनीकी युग के पीछे मानव का अथक श्रम व लग्न जुड़ी हुई हैं.

एक दौर था जब केवल पैदल यात्राएं ही होती थी. मगर पहिये के अविष्कार ने मानव की राह को सरल बना दिया हैं. विज्ञान के सहारे मानव जीवन बेहद सरल एवं उन्नत हो पाया हैं. विषयों को गहराई से समझने तथा रहस्यों को सुलझाने की मानव की इसी ललक के चलते नई तकनीकों व यंत्रों का आविष्कार सम्भव हो पाया हैं.

विज्ञान और तकनीक की मदद से आज हर कार्य घर बैठे करना सम्भव हो पाया हैं. पत्थर के पहिये के आविष्कार से शुरू हुई मानव व विज्ञान के सहयोग की यात्रा ने आज हमें गर्म, ठंडा पानी करने की मशीने, कपड़े धोने के लिए वाशिंग मशीन मोबाइल फोन, विद्युत, वाहन, इन्टरनेट जैसी तकनीके सम्भव हो पाई हैं.

आज एक व्यक्ति घर बैठे देश विदेश में अपने कारोबार को चला सकता हैं. तकनीक के चलते न सिर्फ भौतिक सुख के साधन बढ़े हैं बल्कि राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए भी नवीन हथियार व तकनीक हमारे जीवन को सुरक्षित बनाने में अपना योगदान दे रही हैं. विज्ञान एवं तकनीक का दायरा भी समय के साथ बढ़ता गया, भविष्य में इसके अधिकाधिक विस्तार की सम्भावनाएं हैं.

साधन व सुविधाओं के लिहाज से विज्ञान और तकनीक मानव समाज के लिए वरदान हैं. वही कई बार इसके विध्वसंक परिणाम भी देखे गये है, इस प्रकार के दुरूपयोग से यही तकनीक अभिशाप बन जाती हैं. विज्ञान के विध्वंसक आविष्कारों में परमाणु बम भी एक हैं.

दुसरे विश्व युद्ध के दौरान इसका अभिशापित रूप दुनिया ने देखा था. हालिया शोधों ने यह प्रमाणित किया है कि तकनीक ने मानव को आलसी व निष्कर्म बना दिया हैं उसे स्वास्थ्य सम्बन्धी कई समस्याएं तकनीक ने उपहार स्वरूप दी हैं. अल्ट्रा साउंड विकिरणों के चलते मानव कई गम्भीर बीमारियों की चपेट में आ गया हैं.

यदि सभी देश विज्ञान और तकनीक का सदुपयोग करे तो निश्चय ही यह हमारे लिए बेहद फायदेमंद साबित होगी, पिछड़े व अविकसित राष्ट्र इसकी मदद से विकास की ऊँचाइयों को प्राप्त कर सकते हैं. एक भारतीय नागरिक होने के नाते हमारा भी दायित्व बनता हैं कि हम तकनीक के क्षेत्र में नयें रहस्यों को सुलझाएं तथा इसका सदुपयोग करे.

यह भी पढ़े

उम्मीद करता हूँ दोस्तों विज्ञान और तकनीकी पर निबंध- Essay on Science and Technology in Hindi का यह लेख आपकों पसंद आया होगा, यदि आपकों इस लेख में दी गई जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *