यूनान की सभ्यता का इतिहास | Greece Civilization History in Hindi

Greece Civilization History in Hindi: एथेंस/ ग्रीक यूनान की सभ्यता को यूरोप की पहली ज्ञात सभ्यता माना जाता है. इतिहासकारों का मत है यूनान के आदिनिवासी माओनियम लोगों को पराजित करके उन्हें गुलाम बना लिया था. उन्होंने अपने मौलिक चिन्तन तथा निष्ठा से यूनान की सभ्यता एवं संस्कृति  (Greece Civilization & culture) का निर्माण किया. अनुमान है कि यूनान की सभ्यता का जन्म 1500 ई.पू. में हुआ था.

यूनान की सभ्यता का इतिहास | Greece Civilization History in Hindiयूनान की सभ्यता

विभिन्न पहाड़ो और खाइयों के कारण प्राचीन यूनान  के लोग कभी भी एक संयुक्त राष्ट्र स्थापित नही कर पाया. सम्पूर्ण यूनान देश में कई नगर राज्यों में दो प्रमुख नगर राज्य स्पार्टा और एथेंस थे.

स्पार्टा में सैनिक शासन था तथा एथेंस में लोकतंत्र. शेष यूनानी नगर राज्य या तो एथेंस की तरह थे अथवा स्पार्टा का अनुसरण करते थे.

यूनान की सभ्यता की प्रमुख विशेषताएं (Key Features of Greek Civilization)

  • स्पार्टा का जीवन (Life of Sparta)

स्पार्टा नगर राज्य को सदैव पड़ोसी देशों के आक्रमण का भय बना रहता था. इसलिए वहां सैनिक शासन स्थापित हुआ. वहा का शासक स्वेच्छाकारी था.

नगर स्पार्टा का प्रथम व्यवस्थापक एवं विधान निर्माता लाइकमेंस था. उसने वहां के निवासियों की लिए कठोर अनुशासन में रहने की व्यवस्था की थी.

बच्चों को कठिनाइयों का सामने करने की शिक्षा दी जाती थी. निर्बल बच्चों को टेसिट्स पहाड़ी की चोटी से गिराकर मार दिया जाता था.

स्पार्टा को साहसी एवं योद्धा सैनिक और आँखे मूंदकर आज्ञापालन करने वाले नागरिक तैयार करने में निश्चय ही सफलता मिली, किन्तु, दर्शन, साहित्य कला और विज्ञान के क्षेत्र में स्पार्टा के क्षेत्र में स्पार्टा की देन नही के बराबर है.

  • एथेंस का जीवन (Life of Athens)

एथेंस का नगर राज्य स्पार्टा नगर राज्य से सर्वथा भिन्न था. यूनान की सभ्यता के इस शहर में लोकतांत्रिक शासन था. यहाँ राजा का बहुत सम्मान था. न्यायधीश ड्रेको ने 621 ई.पू. लिखित कानूनों का संग्रह तैयार किया था.

उसके कानून उच्च वर्ग के हितों की रक्षा करने वाले थे. तत्पश्चात कलाईस्थनिज ने एथेंस में जनतंत्र की जड़े जमा दी. ईरान के महत्वकांक्षी दारा ने ग्रीक को जीतने के बाद यूनान कर आक्रमण किया.

एथेंस व ईरानियों के मध्य मैराथन मैदान में युद्ध हुआ. इस युद्ध में यूनान की विजय हुई और इन लोगों ने यूनान की सभ्यता का स्वतन्त्रतापूर्वक विकास किया.

  • पेराक्लीज युग (Peraklise era)

पेराक्लीज यूनान (एथेंस) का महान जनतांत्रिक नेता था. पेराक्लीज ने अपने सुधारों के द्वारा एथेंस के प्रजातंत्र को व्यापक एवं सुद्रढ़ बनाया.

इस शासक का मत था कि सारे व्यक्तियों को न्याय का समान अधिकार है. इसके शासनकाल में कला साहित्य संगीत दर्शन का बहुत विकास हुआ.

यूनान की सभ्यता के प्राचीन एथेंस नगर में सुखान्त व दुखांत नाटकों तथा सुखांत नाटकों तथा संगीत के कई आयोजन होते थे. होमर की विश्व प्रसिद्ध रचनाएं इलियट व ओडेसी इसी काल की थी.

इसी काल मे विश्व प्रसिद्ध दार्शनिक सुकरात ने ज्ञान व चरित्र के विकास पर बल दिया. दार्शनिक प्लेटों व अरस्तु भी यूनान की सभ्यता के इसी काल के विद्वान थे.

देवी एथिना का मंदिर भवन निर्माण कला का अनुपम उदहारण है. हीरोडोटस व थ्युसीडीडीज इस युग के महान इतिहासकार थे. पाइथागोरस तथा हिपोक्रेटिज इस काल के प्रसिद्ध गणितिज्ञ थे.

इन्ही उपलब्धियों के कारण पेराक्लीज के युग को यूनान की सभ्यता के इतिहास में स्वर्ण युग कहा जाता है. प्रोफ़ेसर डेविड के अनुसार पेराक्लीज का युग यूनान की सभ्यता के इतिहास का ही नही वरन विश्व के इतिहास का स्वर्ण युग था.

Hope you find this post about ”यूनान की सभ्यता का इतिहास” useful. if you like this article please share on Facebook & Whatsapp. and for latest update keep visit daily on hihindi.com.

Note: We try hard for correctness and accuracy. please tell us If you see something that doesn’t look correct in this article about Greece Civilization History in Hindi and if you have more information History of Ancient Greece Civilization in Hindi then help for the improvements this article.

Leave a Reply