अस्पताल पर निबंध | Essay On Hospital In Hindi

अस्पताल पर निबंध Essay On Hospital In Hindi: हमारे समाज के महत्वपूर्ण सार्वजनिक स्थलों में चिकित्सालय भी एक है जिनकी निगरानी, स्वच्छता का जिम्मा हम सभी पर हैं. जीवन में कई बार बीमार होने पर अस्पताल ही हमारे मददगार होते है जहाँ डॉक्टर हमारा ईलाज कर स्वस्थ बनाते हैं. आज के अस्पताल निबंध स्पीच भाषण अनुच्छेद में हम एक घंटा, दृश्य, विजिट, इतिहास, महत्व आदि बिन्दुओं को इस निबंध के जरिये समझने का प्रयास करेंगे.

Essay On Hospital In Hindi

Essay On Hospital In Hindi

We welcome you, here have given essay on the hospital for students of class 1,2,3,4,5,6,7,8,9,10. After reading this essay, speech, article, you can get complete information about the hospital in Hindi.

short essay on hospital in hindi

hospital nibandh in hindi:अस्पताल वह स्थान है जहाँ मरीजों का ईलाज कर उन्हें स्वस्थ बनाया जाता हैं. राजकीय या निजी स्तर के भारत में दो प्रकार के चिकित्सालय प्रचलन में हैं. जहाँ मरीज आकर विशेयज्ञ डॉक्टर, नर्स आदि के द्वारा ईलाज करवाते हैं. यहाँ उनकी ठीक ढंग से देखभाल एवं ईलाज का कार्य किया जाता हैं.

आज के 21 वीं सदी के दौर में जब चिकित्सा के क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ हैं. जहाँ समस्त बीमारियों का सुलभ ईलाज प्रत्येक व्यक्ति के लिए उपलब्ध करवाया जाता हैं. एंटीबायोटिक टेबलेट, इंजेक्शन से लेकर भयावह रोगों की सर्जरी तक के ईलाज अब सम्भव हो चुके हैं.

एक अस्पताल के भली भांति संचालन में वहां के डोक्टर, नर्स, कम्पाउडर, सफाई कर्मियों का बड़ा योगदान होता हैं. इनका प्रयास रहता हैं कि चिकित्सालय का वातावरण अधिक सुखमय बनाने के निरंतर प्रयास किये जाए ताकि मरीजो को चिकित्सा के साथ ही साथ मानसिक संतुष्टि की अनुभूति करवा सके.

यहाँ नियुक्त डोक्टर न केवल मरीज को दवाई देते है बल्कि उनके मन की समस्त पीडाओं और सवालों का समाधान करने लगे हैं. भारत में आयुष्मान भारत योजना के चलते आम आदमी की अस्पताल तक पहुँच सम्भव हो पाई हैं. देश में आज भी ऐसे कई चिकित्सालय है जो ईलाज के नाम पर लोगों की जेब काटने के कार्य में रत हैं. लोगों को नयें जीवन देने वाली ये संस्थाएं यदि ईमानदारी से न चले तो फिर जनता को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं.

Essay yadi hospital na hota hindi

मानव सभ्यता के प्रादुर्भाव काल से औषधालय समाज के महत्वपूर्ण संस्थान के रूप में अपनी भूमिका निभाते नजर आए हैं. आज के दौर में ये मेडिकल कॉलेज और हाईटेक शहरों के अस्पतालों में तब्दील हो गये. हमारी धार्मिक मान्यताओं एवं ग्रंथों में कहा गया हैं कि भगवान स्वयं पहले चिकित्सक के रूप में अवतरित हुए थे. धन्वन्तरि सुश्रुत सर्जन एवं आयुर्वेद चिकित्सकों हमारे देश में हुए हैं.

जैसे जैसे मानव सभ्यता का विकास होता गया, लोगों की बीमारियों के निदान के लिए सेवाभाव से प्रेरित इन संस्थाओं ने गाँव गाँव में अपनी सेवाएं देनी शुरू की. पूर्व के जमाने में वैद्यों द्वारा चिकित्सक की भूमिका का निर्वहन किया जाता था. आज हरेक स्थान पर छोटे बड़े अस्पताल खुल गये हैं. जिनमें विभिन्न विभागों में अलग अलग विद्या के प्रतिष्ठित चिकित्सक अपनी सेवा देते हैं.

हम यह कल्पना भी नहीं कर सकते कि यदि होस्पिटल न हो तो क्या होगा. उन हजारों करोड़ लोगों का क्या होगा, जो अपना जीवन दवाओं के सहारे गुजार रहे हैं. जीवनरक्षक के रूप में दवाइयाँ खाकर ही जीवित रह पाते हैं. यदि अस्पताल न हो तो इन लोगों का जीवन खतरें में पड़ जाएगा.

मानव इतिहास से ही चिकित्सा हमारे जीवन का अभिन्न अंग रहा हैं. आज भी गरीब लोगों के लिए स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध नहीं हो रही है, जिसके चलते बड़ी संख्या में लोगों को अपने जीवन से हाथ धोना पड़ता हैं. ऐसे में यदि चिकित्सालय ही न हो तो निश्चय ही जीवन के प्रति असुरक्षा का भाव बढ़ जाएगा तथा संसार भर में संक्रामक बीमारियाँ तेजी से फैलने लगेगी. इससे मानव जीवन पर घोर संकट उत्पन्न हो जाएगा.

सरकारी अस्पताल पर निबंध Essay on government hospitals in india in hindi

aspatal essay in hindi: भारत में सरकारी तथा निजी स्तर पर चलने वाले चिकित्सालयों का बड़ा तंत्र मौजूद हैं. देश के प्रत्येक कोने में ग्राम पंचायत तक की आबादी के बीच एक सरकारी चिकित्सालय खुला हुआ हैं. सरकार के स्तर पर यह प्रयास रहता है कि प्रत्येक व्यक्ति को ईलाज मुहैया कराने के लिए 5 मील की दूरी तरह एक स्वास्थ्य केंद्र स्थापित किया जाए.

भारत में सबसे छोटे स्तर पर उप स्वास्थ्य केंद्र एवं इसके ऊपर प्राथमिक चिकित्सालय केंद्र स्थापित होते हैं. अमूमन ये दो से तीन हजार की आबादी वाले गाँवों में ही स्थापित होते हैं. इसके बाद तहसील और जिला स्तर पर बड़े अस्पताल और मेडिकल कॉलेज अपनी स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करते हैं.

आयुष्मान भारत योजना के तहत अब प्रत्येक व्यक्ति को 5 लाख तक के निशुल्क ईलाज का अधिकार मिला हैं. सरकारी अस्पतालों में यह योजना लागू है ही साथ ही निजी अस्पतालों में भी इसे लागू किया गया हैं. एक अस्पताल में समस्त तरह के ईलाज की सुविधाएं राज्य द्वारा उपलब्ध करवाई जाती हैं.

आवश्यक संख्या में डॉक्टर, परिचर्या, सफाई कर्मचारी एवं हेल्पर एक सरकारी अस्पताल में सेवारत रहते हैं. विरिष्ट पदाधिकारी के पास समस्त चिकित्सालय का कार्यभार रहता हैं. पिछले कुछ वर्षों से प्रसव सुविधा से लेकर साफ़ सफाई और 24 घंटे खुले चिकित्सालय मिलने लगे हैं. सभी कर्मचारी अब अपनी ड्यूटी को सेवा भाव से निभाकर जनसेवा में बड़ी भूमिका अदा कर रहे हैं.

Essay on A Visit to a Hospital in Hindi – एक अस्पताल का दृश्य पर निबंध

essay on one hour in hospital in hindi: मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि आप पूर्ण रूप से स्वस्थ रहे और कभी आपकों स्वास्थ्य केंद्र में जाना न पड़े. यहाँ विभिन्न तरह के रोगियों एवं पीड़ितों का ईलाज किया जाता हैं. दर्द पीड़ा और वेदना की गूंज यहाँ स्पष्ट रूप से सुनी जा सकती हैं.

पिछले सप्ताह मेरे एक दोस्त को मलेरिया हो गया था, मुझे उसके साथ अस्पताल तक जाना पड़ा. अब तक के मेरे जीवन में मुझे कभी चिकित्सालय का यथार्थ अनुभव या परिचय नहीं था. अनजान लोगों के बीच सभी के कष्ट साझा थे. बिस्तरों पर लोग लेटे हुए थे, कोई किसी को खिला पिला रहा था तो नर्स किसी का चेकअप कर रही थी.

हमने हरे पर्दे को उठाते हुए मुख्य चिकित्सक के दफ्तर में प्रवेश करते हुए नमस्ते करते हुए सीट पर बैठे. दोस्त का चेकअप हुआ, उनके ब्लड टेस्ट के लिए कुछ मिनट तक हमें इन्तजार करना पड़ा. फिर पता चला कि उसे मलेरिया बुखार है और इंजेक्शन लेने होंगे.

डॉक्टर ने नर्स को दवाई और इंजेक्शन दिए. जो मेरे दोस्त के लिए थे. उन्हें एक खाली बेड पर लिटाकर इंजेक्शन देने की तयारी चल ही रही थी. कि मैंने निकास द्वार की ओर प्रस्थान करना शुरू किया. मैं यह सब नहीं देख सकता था. कुछ मिनट की चहल कदमी के बाद लौटा तो नर्स अपना काम कर चुकी थी.

उन्होंने मुझे कुछ दवाइयाँ दी और खाने और दवाई लेने की आवश्यक परामर्श देने के बाद कुछ देर विश्राम करने के बाद जाने को कहा, अस्पताल का दृश्य बेहद करुणामय था. लोग कई दिनों से वार्ड में भर्ती थे. उनके सगे सम्बन्धी उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना में मानों ईश्वर से दिल ही दिल में प्रार्थना किये जा रहे हो.

अस्पताल आधुनिक सुविधाओं से युक्त एवं पर्याप्त चिकित्सा कर्मी थे. एक ओपरेशन रूम भी था, जिसमें शल्य चिकित्सा की जाती हैं. तभी सफाई कर्मचारी अपने कर्तव्य को निभाने आ पहुंचे उन्होंने सफाई शुरू की, मैंने अपने दोस्त को उठाते हुए उनके हाथ को अपने कंधे पर रखते हुए बाहर ले आया और घर की तरफ चल पड़े.

यह भी पढ़े

आशा करता हूँ दोस्तों आपकों Essay On Hospital In Hindi का यह निबंध अच्छा लगा होगा. इस निबंध में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *