विलियम शेक्सपियर की जीवनी William Shakespeare Biography in Hindi

विलियम शेक्सपियर की जीवनी William Shakespeare Biography in Hindi: विलियम शेक्सपियर इतिहास के एक ऐसे रचनाकार है जिन्हे हर कोई जानता है। दुनिया में शायद ही कोई ऐसा बच्चा या स्टूडेंट होगा जिसने अपनी जिंदगी में कभी विलियम शेक्सपियर की कहानी पढ़ी ना हो!

शेक्सपियर की जीवनी William Shakespeare Biography in Hindi

विलियम शेक्सपियर की जीवनी William Shakespeare Biography in Hindi

16वीं सदी के महान लेखक विलियम शेक्सपियर की रचनाएं इंग्लिश लिटरेचर के लिए किसी खजाने से कम नहीं है।

शेक्सपियर अपने समय के महान लेखक और अभिनेता थे। ऐसा कहा जाता है कि शेक्सपियर में गजब की सृजनात्मक शक्ति थी। वे ऐसी ऐसी कल्पना कर लेते थे जिसकी कल्पना कर पाना कई बार लेखकों के लिए नामुमकिन सा लगता है।

विलियम शेक्सपियर की कोई एक या दो कहानी मशहूर नहीं है बल्कि उनकी सभी रचनाएं अपने आप में नायाब हैं। विलियम शेक्सपियर एक ऐसे शख्स हैं जिन्होंने अपनी विभिन्न रचनाओं में अलग अलग भावनाओं को प्रकट किया है चाहे वह कविता हो या कहानी हो या फिर नाटक ही क्यों ना हो!

विलियम शेक्सपियर की सभी रचनाएं लोगों के दिल को छू लेती हैं। अतः इंग्लिश लिटरेचर बिना शेक्सपियर की रचनाएं अधूरी है।

कई सारे लेखकों का तो यह भी कहना है कि बिना शेक्सपियर की कहानी समझे, शेक्सपियर के नाटक को पढ़ें! कोई लेखक लेखक नहीं बन सकता है।

लेखक, शेक्सपियर को अपना मार्गदर्शन समझते हैं और उनकी रचनाओं से प्रेरणा लेकर ही रचनाएं करते हैं। साहित्य के इतिहास में जितने भी लेखकों ने रचनाएं की हैं उन सभी में सबसे ज्यादा सराहना विलियम शेक्सपियर के कामों की जाती है।

क्योंकि उनकी रचनाओं को लगभग हर भाषा में अनुवाद किया गया है। इंग्लैंड में ही नहीं पूरी दुनिया में शेक्सपियर और उनकी रचनाओं को पसंद किया जाता है।

विलियम शेक्सपियर का संक्षिप्त परिचय

नामविलियम शेक्सपियर
जन्म26 अप्रैल 1564
जन्म स्थानइंग्लैंड के स्टैनफोर्ड
पेशाकवि, नाटककार
पिता का नामजॉन शेक्सपियर
माता का नाममैरी शेक्सपियर
पत्नी का नामऐनी हथावे
बच्चे3 बच्चे (सुसंना हॉल, हम्नेट शेक्सपियर, जूडिथ क़ुइनी)
प्रसिद्धि का कारणकविता, नाटक
मृत्यु23 अप्रैल 1616

विलियम शेक्सपियर का प्रारंभिक जीवन

विलियम शेक्सपियर का जन्म 26 अप्रैल 1564 में स्टैनफोर्ड अपॉन एवन नामक स्थान पर हुआ था। विलियम शेक्सपियर की वास्तविक जन्म तिथि की जानकारी तो किसी को भी नहीं है लेकिन कई इतिहासकार मानते हैं उनका जन्म 26 अप्रैल को ही हुआ था।

विलियम शेक्सपियर के पिता का नाम जॉन शेक्सपियर था शेक्सपियर के पिता चमड़े के व्यापारी थे। विलियम शेक्सपियर की मां का नाम मैरी शेक्सपियर था। जो उन्हीं के पास वाले गांव में रहने वाले अमीर जमींदार की बेटी थी।

विलियम शेक्सपियर के अलावा उनके सात भाई बहन थे। वे अपने परिवार के सबसे पहले बेटे और अपने माता-पिता की तीसरी संतान थे। विलियम शेक्सपियर की दो बड़ी बहनें जोन और जुडिथ व तीन छोटे भाई, गिल्बर्ट, रिचर्ड और एडमंड थे।

शेक्सपियर के जन्म से पहले ही उनके पिता जॉन उस समय के फेमस व्यापारियों में से एक बन चुके थे और स्ट्रेटफोर्ड की सरकार में उच्च पद पर विराजमान थे। ‌

लेकिन रिसर्च और दिए गए डाटा के अनुसार बाद में विलियम के पिता की किस्मत बदल गई और उन्हें गरीबों की तरह जिंदगी जीनी पड़ी थी।

विलियम शेक्सपियर की शिक्षा

विलियम शेक्सपियर ने किसी भी तरह के विषय की शिक्षा नहीं ली थी अतः बहुत सारे रचनाकारों और आलोचकों का यह कहना है कि बिना साहित्य पढ़े, बिना उच्च शिक्षा के कोई इतनी सारी चीजें कैसे लिख सकता है। इन सब की सोच को और पुख्ता कर देती है।

यह बात की विलियम शेक्सपियर को सही से साइन करना नहीं आता था तो उन्होंने इतनी सारी लेखन कैसे लिखी?

विलियम शेक्सपियर के स्कूल के कोई भी दस्तावेज नहीं पाए गए हैं ‌। कई सारे लोगों का कहना है कि उन्होंने किसी विशेष स्कूल से पढ़ाई नहीं की थी बल्कि उन्होंने तो सिर्फ स्ट्रेटफोर्ड ग्रामर स्कूल में दाखिला लिया था।

और क्लासिक्स, लैटिन ग्रामर एवं साहित्य का अध्ययन किया था। इतिहास में यह भी जानने को मिलता है कि विलियम शेक्सपियर ने मात्र 13 वर्ष की उम्र में ही पढ़ाई छोड़ दी थी क्योंकि उस समय उन्हें अपने पिता की मदद करनी थी।

विलियम शेक्सपियर का पारिवारिक जीवन

साहित्य में विलियम शेक्सपियर के जीवन के बारे में जितना वर्णन किया गया है उनके अनुसार विलियम शेक्सपियर जब 18 वर्ष के थे तब उनकी शादी ऐनी हथावे से कर दी गई थी जो उनसे 8 साल बड़ी थी।

विलियम और एनी की शादी हुई थी तब एनी 26 साल की थी। विलियम शेक्सपियर की शादी के 6 महीने बाद ही उनकी एक बेटी हुई जिसका नाम सुसंना था। सूत्रों के अनुसार विलियम शेक्सपियर ने मरने के बाद अपनी सारी संपत्ति सुसंना के नाम पर ही की थी।

सुसंना के बाद विलियम और एनी के दो जुड़वा बच्चे हुए जिसके नाम हमलेट और जूडिथ था।

जब हमलेट मात्र 11 साल का था तब उसकी मृत्यु हो गई थी इस घटना ने विलियम शेक्सपियर को पूरी तरह से झंझोर दिया था कई लोगों का कहना है कि इस घटना से प्रेरित होकर ही शेक्सपियर ने अपनी फेमस कहानी Hamlet को लिखा था।

अपनी शादी के कुछ साल बाद ही विलियम शेक्सपियर लंदन रहने के लिए चले गए थे। उसके बाद से ना तो शेक्सपियर से संबंधित कोई जानकारी प्राप्त हुई है और ना ही उनके परिवार से संबंधित कोई जानकारी मिलती है।

कई सारे आलोचक तो विलियम शेक्सपियर की सेक्सुअलिटी के ऊपर भी सवाल उठाते हैं! इन सभी लोगों के अनुसार विलियम शेक्सपियर बाय सेक्सुअल थे लेकिन यह बात कितनी सच है जवाब किसी के पास नहीं है क्योंकि इस बात का कोई स्पष्टीकरण नहीं मिला था।

विलियम शेक्सपियर का लेखन/ कार्यकाल

विलियम शेक्सपियर ने जब लेखन का कार्य शुरू किया तब उन्होंने कभी भी स्वयं को नाटक लिखने के लिए या फिर कहानी लिखने के लिए बाध्य नहीं किया बल्कि उन्होंने हमेशा ही खुद को मुक्त रखा है और अलग-अलग तरह की रचनाएं करते रहे।

यही वह कारण है जिसके वजह से विलियम शेक्सपियर अपने लेखन कैरियर में इतनी सारी रचनाएं करने में कामयाब हुए थे। उन्होंने 38 नाटक, 154 सनेट्स, 2 लंबी कथा कविता और कई सारे छोटे-छोटे पंक्ति और quotes भी लिखा है। शेक्सपियर के लेखन जीवनी का वर्णन हमने नीचे विस्तार पूर्वक किया है –

विलियम शेक्सपियर का नाटककार के रूप में वर्णन

इतिहास में मिलने वाली जानकारियों और तथ्यों के अनुसार विलियम शेक्सपियर ने सबसे पहले नाटक तब लिखना शुरू किया था जब वे सिनेमाघरों में काम करते थे।

सूत्रों की मानें तो विलियम शेक्सपियर ने नाटक लिखने का काम 1585 में शुरू किया था। विलियम शेक्सपियर ने 7 सालों तक नाटक लिखने का काम किया जहां उन्होंने लंदन के मंच पर लोगों का ध्यान अपनी और खूब आकर्षित किया और काफी मशहूर भी हो गए थे उनके चाहने वालों में केवल उनके प्रशंसक ही नहीं बल्कि उनके आलोचक भी शामिल थे।

1594 के बाद विलियम शेक्सपियर द्वारा लिखे गए सभी नाटकों को भगवान चेम्बर्लेन के आदमियों द्वारा मंच पर प्रदर्शित किया और सभी तक विलियम शेक्सपियर का काम पहुंचाया।

1599 विलियम शेक्सपियर बहुत ज्यादा मशहूर हो चुके थे। यह वह समय था जब लोग विलियम शेक्सपियर को एक अच्छे नाटककार के रूप में तो जानते ही थे साथ ही साथ वे एक अच्छे अभिनेता के रूप में मशहूर हो गए थे।

विलियम शेक्सपियर ने अपना खुद का एक थिएटर भी खरीदा था जिसका नाम उन्होंने ग्लोब रखा। रानी एलिजाबेथ की मृत्यु के बाद विलियम शेक्सपियर ने कई सारे मशहूर नाटक ‘एव्री मेन इन हिज हुमौर’, ‘सेजनस हिज फॉल’, ‘दी फर्स्ट फोलियो’, ‘एस यू लाइक इट’, ‘हैमलेट’ और ‘हेनरी 6’ में acting की थी।

थिएटर में काम करते हुए और अलग-अलग तरह के नाटक लिखने के बाद उन्होंने जितने भी पैसे कमाए थे। उससे इन्वेस्टमेंट करना उन्होंने शुरू कर दिया था उन्होंने अपने पैसे से जमीन खरीदी। इस तरह उनका नाटककार के रूप में जीवन और करियर चलता रहा।

विलियम शेक्सपियर का कवि के रूप में वर्णन

शेक्सपियर जितना अपने नाटकों और कहानियों के लिए मशहूर है उतना ही वे एक प्रसिद्ध कवि के रूप में भी जाने जाते हैं। विलियम शेक्सपियर sonnet कविताओं को लिखने के साथ-साथ दो पंक्ति वाली कविताएं भी लिखते थे। ‌

विलियम शेक्सपियर की कविताओं में अधिकतर प्रकृति का वर्णन देखा जाता है, क्योंकि विलियम शेक्सपियर को सबसे ज्यादा प्रेरणा प्रकृति से ही मिलती थी।

विलियम शेक्सपियर ने वीनस एंड एडोनिस’ एवं ‘दी रेप ऑफ़ लूक्रेस’ नाम की दो फेमस कविताएं भी लिखी है इनके अलावा भी विलियम शेक्सपियर ने कई सारी ऐसी कविताएं लिखी है जो आज भी स्कूल में बच्चों को पढ़ाया जाता है।

विलियम शेक्सपियर के लेखन का तरीका

विलियम शेक्सपियर का किसी भी लेखन को लिखने का अपना ही एक अलग अंदाज था। क्योंकि उनके जैसा तरीका किसी और कि रचनाओं में देखने को नहीं मिलता है।

विलियम शेक्सपियर अलग-अलग शैलियों को मिलाकर रचना करते थे। विलियम शेक्सपियर की सबसे बड़ी खासियत यह थी कि उनकी इमैजिनेशन पावर बहुत ही ज्यादा थी।

अपनी इमेजिनेशन और क्रिएटिविटी से इतनी अलग-अलग और छोटी सी छोटी बारीकियों का वर्णन इतने अच्छे से करते थे कि उनकी रचना एक खास चीज में बदल जाती थी।

कई लोगों का तो यह भी कहना था कि विलियम शेक्सपियर जिस भी चीज पर अपने हाथ रख देते थे वह सोना बन जाती थी। यह तो मात्र एक कहावत है लेकिन इसके पीछे का अर्थ यह है कि विलियम शेक्सपियर में किसी भी चीज को एक्स्ट्राऑर्डिनरी बनाने की असीम क्षमता थी।

यही वह मुख्य कारण है जिसके कारण विलियम शेक्सपियर ने अपना नाम ना सिर्फ इतिहास की पंक्तियों में छपवाया है बल्कि लोगों के दिलों में वे आज भी जिंदा है। ‌

विलियम शेक्सपियर की प्रसिद्ध रचनाएं

  1. Hamlet, Romeo and Juliet,
  2. The Merry Wives of Windsor
  3. Twelfth Night
  4. All’s Well That Ends Well
  5. Troilus and Cressida
  6. Measure for Measure
  7. Othello, King Lear
  8. Macbeth
  9. Antony and Cleopatra Coriolanus
  10. Timon of Athens
  11. Pericles
  12. The Tempest
  13. Cymbeline
  14. The Winter’s Tale.

विलियम शेक्सपियर की मृत्यु

विलियम शेक्सपियर ने स्ट्रेटफोर्ड 1613 ईस्वी में रिटायरमेंट ले लिया था। इतिहास में विलियम शेक्सपियर के बारे में जो जानकारी दी गई है उसके अनुसार तो विलियम शेक्सपियर की मृत्यु उनके जन्मदिन से 3 दिन पहले यानी कि 20 अप्रैल को हुई थी।

लेकिन उस समय कोई पुख्ता जानकारी और दस्तावेज ना प्राप्त होने के कारण इसे स्पष्ट रूप से नहीं कहा जा सकता है। लेकिन बाद में चर्च से विलियम शेक्सपियर के विषय में जो भी जानकारी प्राप्त हुई है उसके अनुसार विलियम शेक्सपियर की मृत्यु 5 अप्रैल 1616 जाती है।

अपने मृत्यु के समय विलियम शेक्सपियर ने अपनी पूरी संपत्ति अपने बड़ी बेटी को दे दिया था। मृत्यु के बाद विलियम शेक्सपियर की कब्र पर “good friend for Jesus” Quotation लिखा गया था। विलियम शेक्सपियर जैसे महान व्यक्ति के पहचान लोगों बताने के लिए किसी भी पंक्ति की कोई आवश्यकता नहीं है।

विलियम शेक्सपियर की मृत्यु के बाद उनके याद के तौर पर कई सारी मूर्तियां और स्मारक बनाई गई हैं।

विलियम शेक्सपियर से जुड़े कुछ अनजाने और मजेदार फैक्ट्स

इंग्लिश लिटरेचर में कई जगहों पर विलियम शेक्सपियर को thief भी कहते हैं क्योंकि लोगों को कहना था कि वह दूसरों की राइटिंग को अपनी राइटिंग बनाकर पेश करते थे।

  • विलियम शेक्सपियर ने कभी भी उच्च शिक्षा हासिल नहीं की थी।
  • विलियम शेक्सपियर को ठीक से अपना नाम भी बोलना नहीं आता था।
  • विलियम शेक्सपियर अपनी साइन सही से नहीं कर पाते थे।
  • विलियम शेक्सपियर के सात भाई बहन थे।
  • मात्र 18 वर्ष की उम्र में विलियम शेक्सपियर ने प्रेगनेंट लेडी से शादी की थी।
  • शेक्सपियर एक अभिनेता थे साथ ही साथ वे एक महान लेखक भी थे।
  • लेखक होने के बाद भी शेक्सपियर बिजनेसमैन की तरह सोच रखते थे।
  • अन्य लेखकों की तुलना में विलियम शेक्सपियर काफी अमीर थे।
  • विलियम शेक्सपियर किंग जेम्स के फेवरेट लेखक हुआ करते थे।
  • विलियम शेक्सपियर के समय में कॉपीराइट जैसी कोई चीज नहीं हुआ करती थी।
  • विलियम शेक्सपियर कैंडल लाइट में नहीं लिखते थे क्योंकि उन दिनों कैंडल की कीमत बहुत ज्यादा हुआ करती थी।
  • विलियम शेक्सपियर में गजब की प्रोडक्टिविटी थी। उन्होंने अपने लेकिन करियर में कई सारी रचनाएं की हैं।
  • विलियम शेक्सपियर द्वारा लिखे गए quotes को holy Bible में भी स्थान दिया गया है।
  • शेक्सपियर के लंबे नाटक उनके छोटे नाटक की तुलना में 3 गुना ज्यादा लंबे होते थे।

विलियम शेक्सपियर द्वारा लिखे गए Famous Quotes

  1. “All that glitters is not gold”.
  2. “Hell is empty and all the devils are here”.
  3. “Love all, trust a few, do wrong to none”.
  4. “Good night, good night! Parting is such sweet sorrow, That I shall say good night till it be morrow”.
  5. “These violent delights have violent ends…
  6. The lady doth protest too much, methinks”.
  7. “Brevity is the soul of wit”.
  8. “Uneasy lies the head that wears a crown”.
  9. “Something is rotten in the state of Denmark”.
  10. “Fair is foul, and foul is fair: Hover through the fog and filthy air”.

Conclusion

तो साथियों हमें आशा है विलियम शेक्सपियर की बायोग्राफी के माध्यम से आपने उनके जीवन को गहराई से समझने का प्रयास किया होगा। यदि आपको यह जानकारी पसंद आए तो इसे शेयर भी कर दें।

यह भी पढ़े

अपने विचार यहाँ लिखे