आँसू ये भाग्य पसीजा | Aasu Se Bhagaya Pasija | Hindi Kavita

Aasu Se Bhagaya Pasija | Hindi Kavita आँसू ये भाग्य पसीजा, हे मित्र, कहाँ इस जग में। नित यहाँ शक्ति के आगे, दीपक जलते मग-मग में। कुछ तनिक ध्यान से सोचो, धरती किसकी हो पाई?

Read more

तुम भारत, हम भारतीय हैं | Tum Bharat, Hum Bhartiya Hai | Hindi Kavita

Tum Bharat, Hum Bhartiya Hai | Hindi Kavita तुम भारत, हम भारतीय हैं, तुम माता, हम बेटे, किसकी हिम्मत है कि तुम्हें दुष्टता-दृष्टि से देखे | ओ माता, तुम एक अरब से अधिक भुजाओं वाली,

Read more

रवि जग में शोभा सरसाता | Ravi Jag Me Sobha Sarsaata | Hindi Kavita

Ravi Jag Me Sobha Sarsaata | Hindi Kavita रवि जग में शोभा सरसाता, सोम सुधा बरसाता सब लगे है क्रम में, कोई निष्क्रिय द्रष्टि नही आता. है उद्देश्य नितांत तुच्छ त्रण के भी लघु जीवन

Read more

हम जंग न होने देंगे | Hum Jung Na Hone Denge | Hindi Kavita

Hindi Kavita पूर्व प्रधानमन्त्री और हिंदी में अपनी लेखनी से सवेदनशील मानवीय मुद्दों और राष्ट्रिय एकता सहित प्राकृतिक मनोरम को लेकर पूज्य श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी ने कई कवितायेँ लिखी.अटल जी की प्रमुख रचनाओं

Read more

कबीर के दोहे और वाणी अर्थसहित हिंदी में | Kabir Das Ke Dohe

Kabir Ke Dohe in Hindi with meaning दोहा काव्य की एक ऐसी विधा है, जिनमें कवि कुछ ही शब्दों की पक्तियों द्वारा बहुत कुछ कह जाते है. दोहे का अर्थ समझना बेहद जटिल रहता है. हिंदी

Read more