Learning Quotes In Hindi | सीखने पर सुविचार और अनमोल वचन

Learning Quotes In Hindi : व्यक्ति जीवन भर कुछ न कुछ सीखता (Learned) रहता हैं. ज्ञान के सीखने की कोई उम्रः नही होती हैं. सीखना इच्छा / जिज्ञासा पर निर्भर करता है जितने अधिक जानने की ललक होगी, वह उतना ही अधिक ज्ञानी बनेगा. सीखना अनवरत चलने वाली प्रक्रिया है जिसका एक स्तर विद्वता, पांडित्य, विद्वान या पंडित कहलाता है इस श्रेणी पर पहुचने के बाद व्यक्ति औरों को ज्ञान देना आरम्भ कर देता हैं. आज के इस लेख में हम सीखने पर सुविचार (Learning Quotes Hindi, Quotes on Learning) में महापुरुषों के थोट्स जानेगे.Learning Quotes In Hindi | सीखने पर सुविचार और अनमोल वचन

Learning Quotes In Hindi | सीखने पर सुविचार और अनमोल वचन

जो अपने ज्ञान में वृद्धि नही करता है, वह उसकों कम कर देता हैं.


हमकों यह नही पूछना चाहिए कि कौन सर्वाधिक पांडित्यवान है, बल्कि यह पूछना चाहिए कि सर्वश्रेष्ठ पंडित कौन हैं.


एक अच्छा मनुष्य सदैव छात्र बना रहता हैं.


जो व्यक्ति विद्यार्जन करता है, परन्तु उसका उपयोग नही करता है, वह किताबों का बोझ लादकर ले जाने वाले बोझा ढ़ोने वाला जानवर होता हैं. क्या एक गधा यह समझता है कि वह अपनी पीठ पर एक पुस्तकालय ले जा रहा हैं अथवा लकड़ियों के गट्ठरों का एक बंडल लिए जा रहा हैं.


सब विद्वान बनना चाहते है परन्तु इसका मूल्य कोई नही चुकाना चाहता हैं.


कर्म करते हुए हम सीखते हैं.


एक अच्छे मस्तिष्क के लिए बहुत कम विद्वता की आवश्यकता होती हैं.


विद्वता एक आदमी को अधिक अच्छा और एक आदमी को बहुत अधिक बुरा बना देती हैं,


हमकों जो कुछ सीखना हैं, वह हम करके सीखते हैं. 


विद्वता और बुद्धिमता के मध्य अधिक तालमेल नही होता हैं.


एक मूर्ख व्यक्ति के सम्पूर्ण जीवनकाल की अपेक्षा एक विद्वान के जीवन के एक दिन में अधिक अनुभव प्राप्त किया जा सकता हैं.


शठ होना भाग्य की देन है, परन्तु मूर्खता का लाभ उठाने के लिए यह आवश्यक है कि वह व्यक्ति विद्वान बने.


अध्ययन में अत्यधिक समय व्यय करना आलस्य है, अलंकरण के लिए उसका उपयोग करना कृत्रिमता हैं, उसके नियमों के अनुसार निर्णय करना एक विद्वान के लिए हास्य की सामग्री हैं.


विद्यार्जन बच्चों का खेल नहीं हैं. हम बिना कष्ट सहे विद्यार्जन नही कर सकते है.


एक मनुष्य के लिए वह चीज सीखना असम्भव हैं जिसको वह समझता है कि मैं जानता हूँ.


मनुष्य जब पढाते हैं तो सीखते हैं.


कोई व्यक्ति विद्यार्जन के लिए कभी भी अत्यधिक बुड्ढा नही होता हैं,


धन का प्रेम और विद्या का प्रेम इनका मिलान बहुत कम होता है.


अधिक देखना, अधिक कष्ट भोगना तथा अधिक अध्ययन ये विद्या के तीन स्तम्भ हैं.


जो चीजे कष्ट देती हैं, वे प्रशिक्षित करती हैं.


आशा करता हूँ फ्रेड्स आपको Learning Quotes In Hindi का यह लेख अच्छा लगा होगा, यदि आपकों सीखने पर सुविचार का यह लेख अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे, तथा आपके पास इस तरह के लर्निग हिंदी कोट्स हो तो हमारे साथ भी शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *